Monday, January 18, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय दिल्ली से अफगानिस्तान गए सिख को गुरुद्वारे से अगवा करने वाले हथियारबंद कौन? परिवार...

दिल्ली से अफगानिस्तान गए सिख को गुरुद्वारे से अगवा करने वाले हथियारबंद कौन? परिवार ने भू-माफिया का हाथ बताया

दिल्ली में रहने वाले निधान सिंह के चचेरे भाई चरण सिंह सचदेवा के अनुसार, परिवार को पता चला है कि सिख व्यक्ति का अपहरण तालिबान ने बल्कि स्थानीय भू-माफिया ने किया है। उन्होंने कहा कि अपहरणकर्ताओं ने पहले तस्वीरें और वीडियो व्हाट्सएप पर भेजे थे, तब से अपहरणकर्ताओं के साथ कोई बातचीत नहीं हुई।

इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक अफगानिस्तान से एक सिख व्यक्ति के अपहरण से जुड़ी एक जानकारी सामने आई है, जिसमें कहा गया है कि यह अपहरण स्थानीय माफिया की करतूत हो सकती है। इसमें तालिबान शामिल नहीं है, जैसा कि पहले आरोप लगाया गया था।

पीड़ित सिख व्यक्ति के परिवार द्वारा एक स्थानीय भू-माफिया पर अपहरण में शामिल होने का आरोप लगाया गया है। दरअसल सिख व्यक्ति को पक्तिया प्रांत में अफगानिस्तान के चामकनी जिले में थाला श्री गुरु नानक साहिब गुरुद्वारे से हथियारबंद लोगों द्वारा अगवा कर लिया गया था।

अगवा किए गए सिख व्यक्ति का नाम निधान सिंह सचदेवा (55) है। वे दीर्घकालिक वीजा पर दिल्ली में रहने वाले अफगानी थे। मार्च में गुरुद्वारे में सेवा करने और वार्षिक मेले में भाग लेने के लिए वे अफगानिस्तान की यात्रा पर गए थे।

सिख व्यक्ति के परिवार के अनुसार उन्हें 17 जून की रात को गुरुद्वारे से ‘हथियारबंद लोगों’ द्वारा अपहरण कर लिया गया था और तब से उनके बारे में कोई जानकारी नहीं है। अब परिवार ने चिंता व्यक्त करते हुए पीएम मोदी को पत्र लिखकर सिख व्यक्ति की रिहाई में हस्तक्षेप करने और भारतीय नागरिकता देने की माँग की है।

निदान सिंह के अपहरण के लिए स्थानीय भू-माफिया जिम्मेदार

दिल्ली में रहने वाले निधान सिंह के चचेरे भाई चरण सिंह सचदेवा के अनुसार, परिवार को पता चला है कि सिख व्यक्ति का अपहरण तालिबान ने बल्कि स्थानीय भू-माफिया ने किया है। उन्होंने कहा कि अपहरणकर्ताओं ने पहले तस्वीरें और वीडियो व्हाट्सएप पर भेजे थे, तब से अपहरणकर्ताओं के साथ कोई बातचीत नहीं हुई। सचदेवा ने कहा कि निधान सिंह डायबिटीज के मरीज हैं और उन्हें उचित देखभाल की बेहद जरूरत है।

इसके अलावा, सचदेवा ने कहा कि माफियाओं ने गुरुद्वारा की जमीन पर कब्जा कर लिया था, क्योंकि लोग वार्षिक मेला यात्रा के लिए मुश्किल ही वहाँ जाते हैं।

सचदेवा ने कहा कि निदान जमीन पर वापस नियंत्रण पाने की कोशिश में लगे हुए थे। जमीन अफगानिस्तान में सिख समुदाय की है और हमारा परिवार इस गुरुद्वारे की देखभाल करता है। यह गुरुद्वारा पाकिस्तान की सीमा के पास स्थित है और कोई सिख वहाँ मुश्किल ही रहता है।

सिंह के अपहरण की योजना उस समय बनी जब 25 मार्च को काबुल में गुरुद्वारा हर राय साहिब में इस्लामिक स्टेट द्वारा एक भीषण हमला किया गया था, जिसमें 25 सिख समुदाय के लोग मारे गए थे।

इससे पहले यह संदेह था कि सिंह के अपहरण में तालिबानी शामिल हो सकते हैं, लेकिन गुरुद्वारा दशमेश पीता श्री गुरु गोबिंद सिंह जी सिंह सभा काबुल परवाण के प्रबंध समिति के सदस्य छबोल सिंह ने पुष्टि की कि सिंह का अपहरण स्थानीय भू-माफिया द्वारा किया गया है। भू-माफिया गुरुद्वारा की भूमि पर नज़र गड़ाए हुए हैं।

निदान सिंह के परिवार ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

इस बीच निधान सिंह के परिवार ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर अपहृत व्यक्ति की रिहाई में हस्तक्षेप करने की माँग की है। निदान की पत्नी महरवंती ने लिखा कि उनके पति का पक्तिया के चंपकनी स्थित गुरुद्वारा थाला साहिब से अपहरण कर लिया गया है।

वह अपने भारतीय दीर्घकालिक वीजा को नवीनीकृत करवाने और इस ऐतिहासिक गुरुद्वारा को व्यवस्थित करने के लिए इस साल मार्च में अफगानिस्तान की यात्रा पर गए थे। पक्तिया हमारे परिवार के पूर्वजों का सम्मान है।

निदान सिंह की पत्नी ने पत्र में लिखा कि मैंने और मेरे परिवार के सदस्यों ने मेरे पति से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। हम उनको लेकर बेहद चिंतित हैं, क्योंकि वह मधुमेह, उच्च रक्तचाप जैसी गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं। अपहरणकर्ताओं ने अपनी पहचान का खुलासा नहीं किया है। उन्होंने वॉयस मैसेज और व्हाट्सएप पर पति के और खुद के फोन नंबर से उनकी फोटो भेजी है।

निदान सिंह की पत्नी महरवंती ने अफगानिस्तान में अल्पसंख्यकों की दुर्दशा की ओर पीएम मोदी का ध्यान आकर्षित किया। महरवंती ने लिखा, “अफगानिस्तान में अल्पसंख्यकों पर गंभीर अत्याचार किए जाते हैं और उनकी सुरक्षा की किसी प्रकार की कोई गारंटी नहीं है। भारत सरकार से अनुरोध है कि वह हमें उपयुक्त सहायता प्रदान करे और उचित कार्यवाही करे।”

पत्र में कहा गया है कि निदान सिंह की जल्द से जल्द सुरक्षित रिहाई के लिए हमारी अपील को उच्चतम स्तर पर संबंधित समकक्षों तक पहुँचाई जाए। कृप्या उनकी रिहाई के तुरंत बाद उन्हें नई दिल्ली वापस भेज दें और हमें जल्द से जल्द भारतीय नागरिकता प्रदान करें।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तानी नैरेटिव के लिए वाड्रा कॉन्ग्रेस और एंटी-रिपब्लिक ने की थी बैटिंग, देशहित से किया था खिलवाड़: अर्णब

अर्णब गोस्वामी ने कहा कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद बालाकोट वाली जवाबी कार्रवाई का इन्तजार पूरे भारत को था और सभी लोग जानते थे कि केंद्र सरकार कुछ 'बड़ा' कदम उठाएगी।

26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली होगी या नहीं – पुलिस तय करेगी: SC ने कहा – ‘कानून-सम्मत कार्रवाई के लिए स्वतंत्र’

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसे दिल्ली की सीमा के भीतर रैली निकालने की अनुमति देनी है, किसे नहीं या कितने लोग आएँगे - ये सब कुछ पुलिस तय करेगी।

‘कॉन्ग्रेस से ₹10 करोड़ लेकर किसान नेता ने की खट्टर सरकार गिराने की डील, टिकट भी माँगा’: संयुक्त मोर्चा की बैठक में हंगामा

भारतीय किसान यूनियन (हरियाणा) के अध्यक्ष गुरनाम चढूनी पर आंदोलन के नाम पर एक कॉन्ग्रेस नेता से 10 करोड़ रुपए लेने के आरोप लगे हैं।

योगी सरकार का किसानों के लिए काम: खरीदा लक्ष्य से ज्यादा धान, गन्ना-गेहूँ-धान का किया रिकॉर्ड भुगतान

योगी सरकार के सामने 55 लाख मीट्रिक टन का लक्ष्य था। लेकिन उन्होंने 60 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की खरीद कर रिकार्ड कायम किया।

राम मंदिर के लिए डोनेशन माँग रहे हिन्दू कार्यकर्ताओं पर हमला: घेर कर लगाई आग, बचाने आई गुजरात पुलिस पर भी पत्थरबाजी

यह मामला गुजरात के कच्छ का है, जहाँ गाँधीधाम के किदाना गाँव में राम मंदिर डोनेशन रैली को लेकर दो समुदायों के बीच संघर्ष हो गया।

‘1 इंच भी नहीं देंगे’: CM उद्धव के ‘कर्नाटक का क्षेत्र मिलाएँगे महाराष्ट्र में’ ऐलान पर भड़के कन्नड़ नेता और लोग

सीएम उद्धव ने कहा था कि वो कर्नाटक के उन क्षेत्रों को महाराष्ट्र में मिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जहाँ मराठी भाषी रहते हैं। भड़के कन्नड़ नेता।

प्रचलित ख़बरें

प्राइवेट वीडियो, किसी और से शादी तक नहीं करने दी… सदमे से माँ की मौत: महाराष्ट्र के मंत्री पर गंभीर आरोप

“धनंजय मुंडे की वजह से मेरी ज़िंदगी और करियर दोनों बर्बाद हो गए। उसने मुझे किसी और से शादी तक नहीं करने दी। जब मेरी माँ को..."

शिवलिंग पर कंडोम: अभिनेत्री सायानी घोष को नेटिजन्स ने लताड़ा, ‘अकाउंट हैक’ थ्योरी का कर दिया पर्दाफाश

अभिनेत्री सायानी घोष ने एक तस्वीर पोस्ट की थी, जिसमें एक महिला पवित्र हिंदू प्रतीक शिवलिंग के ऊपर कंडोम डालते हुए दिख रही थी।

‘नंगा कर परेड कराऊँगा… ऋचा चड्ढा की जुबान काटने वाले को ₹2 करोड़’: भीम सेना का ऐलान, भड़कीं स्वरा भास्कर

'भीम सेना' ने 'मैडम चीफ मिनिस्टर' को दलित-विरोधी बताते हुए ऋचा चड्ढा की जुबान काट लेने की धमकी दी। स्वरा भास्कर ने फिल्म का समर्थन किया।

‘अगर तलोजा वापस गए तो मुझे मार डालेंगे, अर्नब का नाम लेने तक वे कर रहे हैं किसी को टॉर्चर के लिए भुगतान’: पूर्व...

पत्नी समरजनी कहती हैं कि पार्थो ने पुकारा, "मुझे छोड़कर मत जाओ... अगर वे मुझे तलोजा जेल वापस ले जाते हैं, तो वे मुझे मार डालेंगे। वे कहेंगे कि सब कुछ ठीक है और मुझे वापस ले जाएँगे और मार डालेंगे।”

‘मैं सभी को मार दूँगा, अल्लाहु अकबर’: जर्मन एयरपोर्ट पर मचाई अफरातफरी

जर्मनी के फ्रैंकफर्ट एयरपोर्ट पर मास्क न पहनने की वजह से टोके जाने पर एक शख्स ने 'अल्लाहु अकबर' का नारा लगाते हुए जान से मारने की धमकी दी।

राम मंदिर के लिए डोनेशन माँग रहे हिन्दू कार्यकर्ताओं पर हमला: घेर कर लगाई आग, बचाने आई गुजरात पुलिस पर भी पत्थरबाजी

यह मामला गुजरात के कच्छ का है, जहाँ गाँधीधाम के किदाना गाँव में राम मंदिर डोनेशन रैली को लेकर दो समुदायों के बीच संघर्ष हो गया।

‘तांडव’ से हटाएँ भावनाओं को आहत करने वाले दृश्य: BSP सुप्रीमो मायावती

बसपा सुप्रीमो मायावती ने हिंदूफोबिक कंटेंट को लेकर विवादों में आई 'तांडव' के आपत्तिजनक दृश्य हटाने की माँग की है।

पाकिस्तानी नैरेटिव के लिए वाड्रा कॉन्ग्रेस और एंटी-रिपब्लिक ने की थी बैटिंग, देशहित से किया था खिलवाड़: अर्णब

अर्णब गोस्वामी ने कहा कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद बालाकोट वाली जवाबी कार्रवाई का इन्तजार पूरे भारत को था और सभी लोग जानते थे कि केंद्र सरकार कुछ 'बड़ा' कदम उठाएगी।

सोनिया गाँधी ने किया था वादा, लेकिन पार्टी में चुनाव का अब तक कुछ पता नहीं: कपिल सिब्बल

कॉन्ग्रेस के शीर्ष नेतृत्व में बदलाव को लेकर पार्टी नेताओं द्वारा लगातार आवाज उठा जा रहा। नेतृत्व और बदलाव की माँग को लेकर कपिल सिब्बल ने...

26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली होगी या नहीं – पुलिस तय करेगी: SC ने कहा – ‘कानून-सम्मत कार्रवाई के लिए स्वतंत्र’

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसे दिल्ली की सीमा के भीतर रैली निकालने की अनुमति देनी है, किसे नहीं या कितने लोग आएँगे - ये सब कुछ पुलिस तय करेगी।

‘कॉन्ग्रेस से ₹10 करोड़ लेकर किसान नेता ने की खट्टर सरकार गिराने की डील, टिकट भी माँगा’: संयुक्त मोर्चा की बैठक में हंगामा

भारतीय किसान यूनियन (हरियाणा) के अध्यक्ष गुरनाम चढूनी पर आंदोलन के नाम पर एक कॉन्ग्रेस नेता से 10 करोड़ रुपए लेने के आरोप लगे हैं।

‘नंगा कर परेड कराऊँगा… ऋचा चड्ढा की जुबान काटने वाले को ₹2 करोड़’: भीम सेना का ऐलान, भड़कीं स्वरा भास्कर

'भीम सेना' ने 'मैडम चीफ मिनिस्टर' को दलित-विरोधी बताते हुए ऋचा चड्ढा की जुबान काट लेने की धमकी दी। स्वरा भास्कर ने फिल्म का समर्थन किया।

योगी सरकार का किसानों के लिए काम: खरीदा लक्ष्य से ज्यादा धान, गन्ना-गेहूँ-धान का किया रिकॉर्ड भुगतान

योगी सरकार के सामने 55 लाख मीट्रिक टन का लक्ष्य था। लेकिन उन्होंने 60 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की खरीद कर रिकार्ड कायम किया।

Pak को तोड़ कर सिंधूदेश बनाने की माँग, PM मोदी की फोटो के साथ हजारों-लाखों पाकिस्तानियों ने निकाली रैली

सिंध प्रांत के सन्न शहर में हजारों प्रर्दशनकारी पाकिस्तान से आज़ादी की माँग करते हुए सड़क पर उतरे। उनके हाथों में पीएम मोदी के पोस्टर्स भी थे।

राम मंदिर के लिए डोनेशन माँग रहे हिन्दू कार्यकर्ताओं पर हमला: घेर कर लगाई आग, बचाने आई गुजरात पुलिस पर भी पत्थरबाजी

यह मामला गुजरात के कच्छ का है, जहाँ गाँधीधाम के किदाना गाँव में राम मंदिर डोनेशन रैली को लेकर दो समुदायों के बीच संघर्ष हो गया।

‘1 इंच भी नहीं देंगे’: CM उद्धव के ‘कर्नाटक का क्षेत्र मिलाएँगे महाराष्ट्र में’ ऐलान पर भड़के कन्नड़ नेता और लोग

सीएम उद्धव ने कहा था कि वो कर्नाटक के उन क्षेत्रों को महाराष्ट्र में मिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जहाँ मराठी भाषी रहते हैं। भड़के कन्नड़ नेता।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,695FollowersFollow
382,000SubscribersSubscribe