Sunday, October 17, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयनेपाल में हिंदुओं ने जलाया इमरान खान का पुतला: पाक में मंदिर निर्माण रोके...

नेपाल में हिंदुओं ने जलाया इमरान खान का पुतला: पाक में मंदिर निर्माण रोके जाने और हिंदू समुदाय के उत्पीड़न का किया विरोध

"हम पाकिस्तान सरकार के कार्यों की निंदा करते हैं क्योंकि यह एक नागरिक के बुनियादी मानवाधिकारों का उल्लंघन है। इस विरोध प्रदर्शन के जरिए हम माँग करते हैं कि पाकिस्तान, कृष्ण मंदिर के निर्माण को जारी रखने की अनुमति दे।”

नेपाल में हिंदू समुदाय के कार्यकर्ताओं ने काठमांडू में पाकिस्तानी दूतावास के बाहर पाकिस्तानी हिंदुओं पर हुए अत्याचार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने तख्तियाँ लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पुतला जलाया। उन्होंने इस्लामाबाद में श्री कृष्ण मंदिर के निर्माण की माँग की।

राष्ट्रीय एकता अभियान के प्रमुख प्रदर्शनकारी विनय यादव ने कहा, “हम पाकिस्तान सरकार के कार्यों की निंदा करते हैं क्योंकि यह एक नागरिक के बुनियादी मानवाधिकारों का उल्लंघन है। इस विरोध प्रदर्शन के जरिए हम माँग करते हैं कि पाकिस्तान, कृष्ण मंदिर के निर्माण को जारी रखने की अनुमति दे।”

अभियान के समन्वयक बिनॉय कुमार ने कहा, “पाकिस्तान में हिंदू अल्पसंख्यक अभी भी सरकार द्वारा प्रताड़ित किए जा रहे हैं।” उन्होंने आगे कहा, “सरकार हिंदू मंदिरों और मठों के निर्माण की अनुमति नहीं देकर एक और बड़ा अपराध कर रही है।”

इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने “हिंदुओं पर अत्याचार बंद करो और इस्लामाबाद में मंदिरों और मठों का निर्माण होना चाहिए” जैसे नारे लगाए।

गौरतलब है कि पाकिस्तान में इस्लामवादियों ने हाल ही में देश की राजधानी इस्लामाबाद में श्री कृष्ण मंदिर के निर्माण का विरोध किया था। इसके निर्माण के खिलाफ फतवा भी जारी किया गया था। फतवे से इतर, इस्लामाबाद हाईकोर्ट में भी मंदिर निर्माण के खिलाफ याचिका दायर की गई थी। बाद में, जिस चारदीवारी का निर्माण किया गया था, उसे एक इस्लामवादी ने ध्वस्त कर दिया था, जिसने यह संकल्प लिया था कि वह वहाँ कभी भी हिंदू मंदिर का निर्माण नहीं होने देगा।

इससे संबंधित कई वीडियो सामने आए। एक वीडियो में मंदिर निर्माण की जगह पर एक मुस्लिम युवक खुली जमीन पर खड़े होकर अजान दे रहा है। इसके अलावा एक अन्य वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे कुछ पाकिस्तानी कट्टरपंथी मंदिर के लिए रखी नींव को उजाड़ते दिख रहे हैं और एक-एक ईंट उठाकर फेंक रहे हैं।

इसी तरह एक दूसरे वीडियो में एक मौलवी हिंदुओं से अपनी घृणा जाहिर करते हुए पाकिस्तानी हुकूमत को भी धमकाने वाले लहजे में सचेत कर रहा है।

मौलवी कहता है, “मस्जिदों का निर्माण तो यहाँ चंदा से हो रहा है। लेकिन मंदिर का निर्माण पाकिस्तान के खजाने से पैसे निकालकर किया जा रहा है।” मौलवी आगे आवाज ऊँची करते हुए कहता है, “अगर तुम मंदिर बनाओगे तो पाकिस्तानी गैरतमंद कौम तुम्हारी गर्दनें काट कर मंदिर के बाहर फिरने वाले कुत्तों को सामने डाल देंगी।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,137FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe