Saturday, July 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयनूपुर शर्मा की हत्या की साजिश: ISIS के आतंकी से पूछताछ करने मॉस्को जाएगी...

नूपुर शर्मा की हत्या की साजिश: ISIS के आतंकी से पूछताछ करने मॉस्को जाएगी NIA, उधर पाकिस्तान से आए आमिर का होगा नार्को टेस्ट

इसके बाद उसे रूस जाने का आदेश मिला था। साजिश थी कि वहाँ कागजी कार्यवाही पूरी कर के वो भारत आता और हाई प्रोफाइल हत्याकांड को अंजाम देता।

रूस ने तुर्की में इस्लामिक स्टेट (ISIS) द्वारा प्रशिक्षित एक उज़्बेक आतंकवादी से तीन महीने तक पूछताछ करने के लिए राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) को मॉस्को आने की इजाजत दी है। भारत ने रूस से एनआईए को मॉस्को में आने देने का अनुरोध किया था। रूस ने पैगंबर मुहम्मद के कथित अपमान बदला लेने के लिए भारत के किसी बड़े नेता पर आत्मघाती हमला करने की साजिश रचने के लिए इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) के आतंकवादी को पकड़ा था।

रूस ने इस आत्मघाती हमलावर को अगस्त 2022 में दबोचा था। ISIS ने उसकी भर्ती ‘सुसाइड बॉम्बर’ के रूप में की थी। तुर्की की राजधानी इस्ताम्बुल में इस साजिश को लेकर कई बार आतंकियों के साथ व्यक्तिगत बैठकें भी हुई थीं। साथ ही वो टेलीग्राम एप के जरिए अपने आकाओं से जुड़ा हुआ था। उसने ISIS के आमिर नाम के आतंकी आका के प्रति वफादारी की कसम खाई थी। इसके बाद उसे रूस जाने का आदेश मिला था। साजिश थी कि वहाँ कागजी कार्यवाही पूरी कर के वो भारत आता और हाई प्रोफाइल हत्याकांड को अंजाम देता।

ऐसे में एनआईए से भारत में आतंकवादी हमला करने के लिए आईएस की बड़ी साजिश के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियाँ इकट्ठा करने की उम्मीद जताई जा रही है। इसके तहत यह भी पता लगाने का प्रयास किया जाएगा कि हमले करने के लिए किसी भारतीय लिंक या फिर मॉड्यूल ने तो उज़्बेक, मशरब कोन आजमोव को विस्फोटक और अन्य सामानों की जानकारी तो मुहैया नहीं कराई थी। मालूम हो कि ‘फ़ेडरल सिक्योरिटी सर्विस फॉर रुस्सियन फेडरेशन (Russia’s Federal Security Service) ने यह जानकारी दी थी।

भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा की पैगंबर पर की गई टिप्पणी के बाद उन्हें मिल रही धमकियों के बाद इस आतंकी योजना का खुलासा हुआ था। वहीं, नूपुर शर्मा को मारने के लिए भारत आने वाले 22 वर्षीय पाकिस्तानी इजवान अशरफ का शुक्रवार (14 अक्टूबर, 2022) को गाँधीनगर की फोरेंसिक लैब में नार्को टेस्ट करने की खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि सोमवार (10 अक्टूबर, 2022) को उसे जाँच एजेंसियों द्वारा गाँधीनगर लाया गया था।

उसकी सभी जाँच पूरी हो चुकी है। एनएफएसयू के अधिकारियों ने रिजवान के लिए सवालों की लिस्ट तैयार की है। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने राजस्थान के श्रीगंगानगर सीमा से रिजवान को जुलाई, 2022 में पकड़ा था। वह अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में बंद था। नूपुर शर्मा की हत्या के लिए पाकिस्तान से आए रिजवान अशरफ के पास से कई संदिग्ध वस्तुएँ भी बरामद हुई थीं। पूछताछ में उसने बताया था कि वो उत्तरी पाकिस्तान स्थित मंडी बहाउद्दीन शहर का रहने वाला है। ये शहर पाकिस्तान के पंजाब प्रान्त में स्थित है। उसने नूपुर शर्मा की हत्या के लिए बॉर्डर क्रॉस किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे ‘चाणक्य’ बताया, उसके समर्थन के बावजूद हारा मौजूदा MLC: महाराष्ट्र में ऐसे बिखरा MVA गठबंधन, कॉन्ग्रेस विधायकों ने अपनी ही पार्टी को दिया...

जिस जयंत पाटील के पक्ष में महाराष्ट्र की राजनीति के कथित चाणक्य और गठबंधन के अगुवा शरद पवार खुद खड़े थे, उन्हें ही हार का सामना करना पड़ा।

18 बैंक खाते, 95 करोड़ रुपए, अब तक 11 शिकंजे में… जनजातीय समाज का पैसा डकारने के मामले में कॉन्ग्रेस के पूर्व मंत्री गिरफ्तार,...

सीधे शब्दों में समझें तो पूरा मामला ये है कि ST निगम के कुछ अधिकारियों ने फर्जी हस्ताक्षरों का इस्तेमाल कर के अवैध रूप से 94,73,08,500 रुपए विभिन्न बैंक खातों में भेज दिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -