Tuesday, August 3, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'भाईजान' के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब...

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

समन अब्बास का निकाह उसके अपने चचेरे भाई के साथ फिक्स, लेकिन कर दिया इनकार... क्योंकि उसका एक बॉयफ्रेंड था, जिसके साथ वह 'वेस्टर्न' लाइफस्टाइल जीना चाहती थी। अब खेत में दफन है? एक भाई गिरफ्तार भी।

पाकिस्तानी मूल की 18 वर्षीय एक लड़की की हत्या के मामले में उसके रिश्तेदारों की भूमिका संदेह के घेरे में है। इटली की पुलिस ने उसके परिवार वालों और रिश्तेदारों का पता लगा लिया है। पुलिस ने आशंका जताई है कि तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया था।

डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, 18 वर्षीय समन अब्बास 1 मई 2021 से लापता है। सीसीटीवी में कैमरे में उसे आखिरी बार सेंट्रल इटली के रेजियो एमिलिया शहर के पास एक खेत में देखा गया था, जहाँ उसके 46 वर्षीय पिता शब्बर काम करते थे।

पुलिस का कहना है कि शब्बर ने इटली से भागने से पहले समन की माँ नाजिया शाहीन (47), चाचा हसनैन दानिश (33), चचेरे भाई नोमानुलहक (33) और एजाज इकराम (28) के साथ मिलकर उसकी हत्या करने और लाश को खेत में दफनाने की साजिश रची।

पुलिस के मुताबिक समन ने पाकिस्तान में अपने चचेरे भाई के साथ शादी करने से इनकार कर दिया था, क्योंकि उसका इटली में एक बॉयफ्रेंड था और वह ‘वेस्टर्न’ लाइफस्टाइल जीना चाहती थी। जिसके बाद रिश्तेदारों ने उसकी हत्या की साजिश रची।

एक चचेरे भाई एजाज को फ्रांस में गिरफ्तार किया गया है, जिसे इटली को सौंप दिया गया है। वहीं, शब्बर और नाजिया (अब्बा-अम्मी) पाकिस्तान में हैं। उन्होंने अपनी बेटी की हत्या से इनकार किया है।

अभियोजकों का कहना है कि हसनैन ही हत्या का मास्टरमाइंड है और नोमानुलहक अभी तक फरार है। अभियोजकों को भी इन पाँचों पर समन की हत्या करने और शव को ठिकाने लगाने का संदेह है, लेकिन अभी तक कोई साक्ष्य नहीं मिला है।

उनका कहना है कि यह मामला पिछले साल सर्दियों का है, जब समन के परिवार वाले उसे पाकिस्तान में उसके चचेरे भाई से अरेंज मैरिज करने के लिए मजबूर कर रहे थे। इसके बाद समन अपने घर से भाग गई थी और अपने परिवार वालों के डर से वह अक्टूबर से सामाजिक कल्याण के लिए चलाए जा रहे एक रिफ्यूजी कैंप में रह रही थी।

इसके बाद वह इस साल 11 अप्रैल 2021 को अपने घर लौटी। रिपोर्ट के मुताबिक, वह अपने पहचान पत्र लेने के लिए घर आई थी, हालाँकि यह स्पष्ट नहीं है कि उसे आवश्यकता क्यों थी। वहीं, पुलिस का मानना है कि 26 अप्रैल तक समन के परिवार वालों ने उसकी हत्या की तैयारी शुरू कर दी थी। अभियोजकों का कहना है कि यह वही तारीख है, जिस दिन समन के चाचा हसनैन ने उसके माता-पिता के लिए पाकिस्तान वापस जाने के लिए हवाई जहाज का टिकट खरीदा था।

29 अप्रैल की शाम को सीसीटीवी कैमरे में तीन लोगों को देखा गया था। पुलिस का कहना है कि ये हसनैन, नोमानुलहक और एजाज थे, जो उस दिन शाम को लगभग 7.30 बजे खेत के पीछे घूमते हुए नजर आए थे। तीनों के पास दो फावड़े, एक बाल्टी और एक नीले रंग का थैला था और लो​हे का डंडा था।

बता दें कि पाकिस्तानी मूल की समन अब्बास इटली के उत्तरी शहर नोवेलारा में रहती थी। समन के परिवार के सदस्यों ने उसकी शादी पाकिस्तान में ही समन के किसी कजिन से करने का फैसला किया था, लेकिन उसने इसका विरोध किया था। कैराबिनियरी (Carabibieri) पुलिस के स्टेफानो बोव ने बताया था कि समन अब्बास की संभावित हत्या में उसका परिवार, उसके अंकल और दो कजिन संदेह के दायरे में हैं। इसके बाद से पुलिस नहरों, कुओं और खेतों में समन की तलाश कर रही थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,702FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe