Monday, July 26, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान में बैन हुई टिंडर समेत कई डेटिंग एप्स: अनैतिक और अशोभनीय सामग्री के...

पाकिस्तान में बैन हुई टिंडर समेत कई डेटिंग एप्स: अनैतिक और अशोभनीय सामग्री के कारण लगी रोक

पाकिस्तान टेलिकम्युनिकेशन अथॉरिटी ने कहा कि उन्होंने टिंडर, ग्रिंडर, से हाय, टैग्ड और स्काउट जैसे सोशल नेटवर्किंग एप्स को ब्लॉक कर दिया क्योंकि वह पाकिस्तान के कानून के हिसाब से अपनी सामग्री मर्यादित नहीं करते थे।

पाकिस्तान प्रशासन ने मंगलवार (सितंबर 1, 2020) को ‘अनैतिक’ (immoral) और ‘अशोभनीय’ (indecent) सामग्रियों पर लगाम कसने के लिए टिंडर समेत कुछ अन्य डेटिंग एप्स पर बड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें ब्लॉक कर दिया।

पाकिस्तान टेलिकम्युनिकेशन अथॉरिटी ने कहा कि उन्होंने टिंडर, ग्रिंडर, से हाय, टैग्ड और स्काउट जैसे सोशल नेटवर्किंग एप्स को ब्लॉक कर दिया क्योंकि वह पाकिस्तान के कानून के हिसाब से अपनी सामग्री मर्यादित नहीं करते थे।

पीटीए का कहना है कि ये एप्स उनसे ब्लॉक हटाने का अनुरोध कर सकती हैं, लेकिन उन्हें आश्वासन देना होगा कि वह अनैतिक या अशोभनीय सामग्री नियंत्रित करेंगे। बता दें, पाकिस्तान प्रशासन का यह फैसला उस समय आया है जब पाकिस्तान के रेगुलेटर्स ने इन्हीं कारणों से कुछ दिन पहले यूट्यूब को बंद करने की धमकी दी थी।

जी हाँ, पिछले हफ्ते, पीटीए ने YouTube से उन सभी वीडियो को तुरंत ब्लॉक करने के लिए कहा था जिन्हें वह आपत्तिजनक मान रहे थे। इसके बाद कई कैंपेनर्स ने इस फैसले का विरोध किया था जिन्हें पाकिस्तान के इंटरनेट और प्रिंटेड मीडिया पर सेंसरशिप का डर रहता है।

डिजिटल राइट्स ग्रुप्स बाइट फॉर ऑल के निदेशक शहजाद अहमद ने पीटीए पर इस फैसले के लिए निशाना साधा। अहमद ने कहा कि अगर वयस्क एप पर रहना चाहते हैं, तो प्रशासन को यह निर्धारित नहीं करना चाहिए कि कौन एप इस्तेमाल करेगा और कौन नहीं। उन्होंने प्रशासन के इस कदम को वाहियात कदम बताया है और कहा कि लोग एप्स को एक्सेस करने के तरीके ढूँढ ही लेंगे।

यहाँ बता दें कि जुलाई में पाकिस्तान ने वीडियो शेयरिंग एप बिगो पाकिस्तान को बैन करने के बाद टिकटॉक को बैन करने की धमकी दी थी। ऐसा इसलिए क्योंकि अनैतिक सामग्रियों को लेकर उनके पास कई शिकायत आ रही थीं। पीटीए ने बयान जारी करते हुए कहा था कि समाज के विभिन्न वर्गों से उन्हें टिकटॉक और बिगो जैसी एप्स के ख़िलाफ़ शिकायतें मिल रही हैं। शिकायत में कहा जा रहा है कि अनैतिक, अश्लील, घटिया सामग्री इन सोशल मीडिया एप्स पर आम हो चुकी हैं।

बता दें कि पीटीए ने अपनी ताकतों का इस्तेमाल करते हुए टिकटॉक को आखिरी चेतावती दी थी कि वह अपनी ऐप पर ऐसी अनैतिकता और अश्लीलता पर नियंत्रण लगाए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस पर भड़के उदित राज, नंगी तस्वीरें वायरल होने की चिंता: लोगों ने पूछा – ‘फोन में ये सब रखते ही क्यों हैं?’

पूर्व सांसद और खुद को 'सबसे बड़ा दलित नेता' बताने वाले उदित राज ने आशंका जताई कि पेगासस ने कितनों की नंगी तस्वीर भेजी होगी या निजता का उल्लंघन किया होगा।

कारगिल के 22 साल: 16 की उम्र में सेना में हुए शामिल, 20 की उम्र में देश पर मर मिटे

सुनील जंग ने छलनी सीने के बावजूद युद्धभूमि में अपने हाथ से बंदूक नहीं गिरने दी और लगातार दुश्मनों पर वार करते रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,222FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe