Tuesday, July 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'रमजान का महीना है, और आप जैसे नीच'...: सामने आई Pak उच्चायोग के अधिकारी...

‘रमजान का महीना है, और आप जैसे नीच’…: सामने आई Pak उच्चायोग के अधिकारी और महिला प्रोफेसर की व्हाट्सएप्प चैट, लिखा था – एक रात के लिए आ जाओ

इसके बाद महिला प्रोफेसर ने 24 अप्रैल, 2022 की सुबह 5 बजकर 40 मिनट पर ताहिर को जवाब दिया, "सेक्स संबंधी प्रस्ताव को डिनर कहा जा रहा था। आपकी सच्चाई पता चल गई। अगले दिन वीजा देने जैसी बातें वगैरह मुझे अच्छी नहीं लगी।

पंजाब के एक यूनिवर्सिटी की सीनियर प्रोफेसर ने दिल्ली स्थित पाकिस्तान हाई कमीशन के अधिकारियों पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि वीजा के सिलसिले में जब वे पाकिस्तान उच्चायोग पहुँची थीं, तो उन्हें जानबूझ कर देर तक रोका गया और अश्लील बातें की गईं। महिला ने उच्चायोग के 2 कर्मचारियों पर संगीन आरोप लगाए हैं। महिला का आरोप है कि दोनों कर्मचारियों ने बाद में उन्हें मैसेज करना शुरू कर दिया।

शिकायतकर्ता प्रोफेसर और पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारी के बीच व्हाट्सएप्प चैट सामने आया है। वह उन्हें एक रात के लिए बुला रहे थे और अगले दिन वीजा देने जैसी बातें कर रहे थे। परेशान होकर प्रोफेसर ने मैसेज के स्क्रीनशॉट लिए और इसके खिलाफ आवाज उठाने का मन बनाया।

‘टाइम्स नाउ’ का दावा है कि महिला प्रोफेसर ने उनके साथ व्हाट्सएप्प चैट का स्क्रीनशॉट साझा किया है। यही स्क्रीनशॉट विदेश मंत्री एस जयशंकर को दिए अपनी शिकायत में भी साझा किया गया है।

दावे के अनुसार, 22 अप्रैल, 2022 को शाम 3 बजकर 38 मिनट पर पाकिस्तानी अधिकारी ताहिर अब्बास महिला को मैसेज करता है, “क्योंकि आप मेरे शहर में होंगी, आपको डिनर के लिए निमंत्रित करना मेरा सौभाग्य होगा। आपको वीज़ा उपलब्ध कराने की कोशिश करता हूँ।” इसके जवाब में महिला प्रोफेसर ने लिखा, “आपके निमंत्रण के लिए धन्यवाद, दुर्भाग्य से मैं वहाँ रात भर नहीं ठहर रही।” ताहिर ने जवाब दिया, “क्या फैकल्टी के साथ लौटना जरूरी है? आप रुक सकती हैं। फिर आप वीजा के लिए कैसे आएँगीं?

इसके बाद महिला प्रोफेसर ने 24 अप्रैल, 2022 की सुबह 5 बजकर 40 मिनट पर ताहिर को जवाब दिया, “सेक्स संबंधी प्रस्ताव को डिनर कहा जा रहा था। आपकी सच्चाई पता चल गई। अगले दिन वीजा देने जैसी बातें वगैरह मुझे अच्छी नहीं लगी। मैं 15 मार्च से विनम्रता दिखा रही थी। शायद आपको लगा कि मैं कोई कमजोर, हताश अकेली महिला हूँ जो आपके देश के वीजा के लिए ऐसी हरकतों के लिए हाँ कर देगी। दुर्भाग्य से आप न तो मुझे खरीद सकते हैं और न ही मेरे साथ गलत हरकत कर सकते हैं। यह आपलोगों के रमज़ान का महीना है न सबसे पवित्र? पर शायद आपके और आपके सहयोगी जैसे नीच लोगों के लिए नहीं होगा।”

बता दें कि एक महिला प्रोफेसर ने दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग के कर्मचारियों पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारियों ने वीजा के बदले सेक्स की माँग की। आरोप है कि 45 मिनट तक उच्चायोग के कर्मचारी आसिफ ने उनके साथ अश्लील बातें की। उसने उनके साथ संबंध बनाने पर जोर डाला। इतना ही नहीं, शारीरिक संबंधों के लिए कुछ घंटों के लिए शादी करने का भी ‘प्रस्ताव’ भी दे दिया।

महिला का आरोप है कि एक दूसरे पाकिस्तानी अधिकारी ने उन्हें भारत सरकार के खिलाफ लिखने के लिए कहा था और इसके एवज में अच्छा मेहनताना देने की बात कही गई थी। हालाँकि, उन्होंने इससे इनकार कर दिया। बकौल महिला वह लाहौर में गुरुद्वारा में मत्था टेकने और एक विश्वविद्यालय में लेक्चर देने के लिए पाकिस्तान जाना चाहती थीं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -