Thursday, July 29, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयहमारे भाइयों ने भी भारत को दे दिया वोट... ख्‍वाजा आसिफ ने संसद...

हमारे भाइयों ने भी भारत को दे दिया वोट… ख्‍वाजा आसिफ ने संसद में इमरान की बखिया उधेड़ी: देखें Video

"यूएनएससी (UNSC) में अस्थायी सदस्य बनना कोई बड़ी बात नहीं है। लेकिन 192 में 184 वोट लेना बहुत बड़ी बात है। हमारे तमाम सो-कॉल्‍ड ब्रदर मुल्‍क जो हैं, उन्‍होंने एक लाइन से उनको (भारत) वोट दिया। अमूमन 150-160 वोट से देश अस्थायी सदस्य चुने जाते हैं। लेकिन उन्हें कुल 192 वोट में से 184 मिले।"

पिछले दिनों भारत भारी बहुमत से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) का अस्थायी सदस्य चुना गया था। दुनिया भर में भारत के बढ़ते कूटनीतिक प्रभाव से ति​लमिलाए पाकिस्तानी सांसद ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री इमरान खान को सदन में ही लताड़ लगाई।

पूर्व विदेश मंत्री और पीएएलएन (PML-N) के सांसद ख्वाजा आसिफ ने गुरुवार (25 जून, 2020) को इसे पाकिस्तान की कूटनीतिक विफलता करार देते हुए अस्थायी सदस्यता हासिल करने के लिए भारत की प्रशंसा की।

14 मिनट के संबोधन में आसिफ ने कहा, “यूएनएससी (UNSC) में अस्थायी सदस्य बनना कोई बड़ी बात नहीं है। लेकिन 192 में 184 वोट लेना बहुत बड़ी बात है। हमारे तमाम सो-कॉल्‍ड ब्रदर मुल्‍क जो हैं, उन्‍होंने एक लाइन से उनको (भारत) वोट दिया। अमूमन 150-160 वोट से देश अस्थायी सदस्य चुने जाते हैं। लेकिन उन्हें 184 वोट मिले।”

आसिफ ने इमरान खान सरकार से हकीकत का सामना करने को कहते हुए कहा कि वह हर मोर्चे पर नाकाम रही है। चाहे वह विदेश नीति हो, स्वास्थ्य नीति हो या फिर अर्थव्यवस्था। सब कुछ असफल हो रहा है।

उन्होंने कहा कि यह हालत केवल इमरान खान के कारण है। यह तभी बदल सकता है जब हम उनसे छुटकारा पा लेंगे। वे जब तक कुर्सी पर रहेंगे तबाही का सिलसिला जारी रहेगा।

आसिफ ने आतंकवादी ओसामा बिन लादने को शहीद बताने के लिए भी इमरान खान को फटकार लगाई। उन्होंने कहा, “वह पाकिस्तान में आतंकवाद लेकर आया। वह अव्वल नंबर का दहशतगर्द था। उसने मेरे देश को बर्बाद कर दिया है। लेकिन हमारे प्रधानमंत्री उसे शहीद कह रहे हैं।”

गौरतलब है कि भारत ने UNSC के चुनाव में 192 वैध वोटों में से 184 वोट हासिल कर अस्थायी सदस्यता हासिल की थी। इस चुनाव को जीतने के लिए 128 वोटों की जरूरत होती है। लेकिन भारत ने दो-तिहाई से ज्यादा वोट हासिल किए है।

भारत का कार्यकाल 1 जनवरी 2021 से शुरू होगा। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कुल 15 देश हैं। इनमें पाँच अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन स्थायी सदस्य हैं। 10 देश अस्थायी सदस्य होते हैं। भारत आठवीं बार सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य चुना गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रंजनगाँव का गणपति मंदिर: गणेश जी ने अपने पिता को दिया था युद्ध में विजय का आशीर्वाद, अष्टविनायकों में से एक

पुणे के इस स्थान पर भगवान गणेश ने अपनी पिता की उपासना से प्रसन्न होकर उन्हें दर्शन दिया था। इसके बाद भगवान शिव ने...

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,723FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe