Friday, July 30, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयरो-रो कर मदद माँगती हिंदू लड़की का Video: अगवा कर पाकिस्तान में कबूल...

रो-रो कर मदद माँगती हिंदू लड़की का Video: अगवा कर पाकिस्तान में कबूल करवाया था इस्लाम, अधेड़ से निकाह

13 फरवरी को रीना मेघवार को केरियोगर, बादिन से अपहरण कर इस्लाम कबूल करवाया गया था। फिर अधेड़ उम्र के शख्स से निकाह करा दी गई थी। परिजनों ने एफआईआर भी दर्ज कराई थी, लेकिन पुलिस से मदद नहीं मिली।

इमरान खान के ‘नया पाकिस्तान’ में हिंदू लड़कियों की स्थिति बदतर होती जा रही है। धर्म परिवर्तन के लिए बदनाम सिंध प्रांत हिंदू लड़कियों की कब्रगाह बन चुका है। यहाँ लड़कियों को अगवा कर उनका धर्म परिवर्तन कर निकाह करवाया जाता है। हाल ही में रीना मेघवार नाम की लड़की को अगवा कर जबरन धर्म परिवर्तन और निकाह का मुद्दा पाक संसद में गूँजा था। अब इस लड़की का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी के साथ वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में लड़की मदद की गुहार लगाती हुई दिख रही है।

वीडियो पाकिस्तान के सिंध प्रांत का बताया जा रहा है। वीडियो में रीना मेघवार दीवार से झाँकती हुई नजर आ रही है। वो रो-रोकर लोगों से मदद गुहार की लगा रही है। लड़की का कहना है कि उसे अच्छा नहीं लग रहा है और वह वापस अपने घर लौटना चाहती है। वीडियो में अन्य कई औरतों की आवाज भी सुनाई दे रही है। मगर 36 सेकेंड के इस वीडियो में लड़की की मदद करने के लिए कोई आगे नहीं आता है।

रीना मेघवार का अपहरण 13 फरवरी को किया गया था और फिर दादू में एक अधेड़ से उसकी शादी करा दी गई थी। रीना मेघवार के चाचा के अनुसार उन्होंने कई अधिकारियों से इस मामले में शिकायत की है, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ है। 13 फरवरी को रीना मेघवार को केरियोगर, बादिन से अपहरण कर इस्लाम कबूल करवाया गया था। फिर अधेड़ उम्र के शख्स से निकाह करा दी गई थी। परिजनों ने एफआईआर भी दर्ज कराई थी, लेकिन पुलिस लड़की को खोजने में नाकाम रही।

अल्पसंख्यकों पर अत्याचार के लिए बदनाम सिंध में यह पहली घटना नहीं है। सिंध प्रांत में बड़े स्तर पर हिंदुओं का धर्म परिवर्तन कराकर उन्हें मुस्लिम बनाए जाने का मामला सामने आया है। पिछले दिनों सिंध के घोटकी से दो हिंदू लड़कियों रीना और रवीना का अपहरण कर उन्हें जबरन इस्लाम कबूल करवाया गया। इनका भी जबरन निकाह उम्र से बड़े मुस्लिमों से करा दी गई। इस मामले में इस्लामाबाद हाई कोर्ट में दोनों बहनों को अपने मुस्लिम पतियों सफ़दर अली और बरक़त अली के साथ रहने का आदेश दिया था।

इस साल जनवरी में भी एक वीभत्स घटना सामने आई थी, जब पाकिस्तान के पंजाब के बहु भाटी गाँव में एक मुस्लिम व्यक्ति ने जबरन रतन लाल की बेटी मिजा कुमारी का अपहरण कर उसके साथ बलात्कार किया और निक़ाह करने के लिए बलपूर्वक उसका इस्लाम में धर्मांतरण कर दिया गया। माता-पिता ने बताया था, “यदि हमारी बेटी हमें वापस नहीं मिलती है तो हम आत्महत्या कर लेंगे। हम गरीब हैं, हम दोषियों से नहीं लड़ सकते, पाकिस्तान में कोई भी हमारी मदद नहीं कर रहा है।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

तालिबान की मददगार पाकिस्तानी फौज, ढेर कर अफगान सेना ने दुनिया को दिखाए सबूत: भारत के बनाए बाँध को भी बचाया

अफगानिस्तान की सेना ने तालिबान को कई मोर्चों पर पीछे धकेल दिया है। उनकी मदद करने वाले पाकिस्तानी फौज से जुड़े कई लड़ाकों को भी मार गिराया है।

स्वतंत्र है भारतीय मीडिया, सूत्रों से बनी खबरें मानहानि नहीं: शिल्पा शेट्टी की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा कि उनका निर्देश मीडिया रिपोर्ट्स को ढकोसला नहीं बताता। भारतीय मीडिया स्वतंत्र है और सूत्रों पर बनी खबरें मानहानि नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,014FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe