Monday, July 15, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयदोस्तों संग आया रउफ, हिन्दू लड़की को उठा ले गया: पुलिस के पास गए...

दोस्तों संग आया रउफ, हिन्दू लड़की को उठा ले गया: पुलिस के पास गए पिता तो थमा दिया सर्टिफिकेट – ‘मर्जी से कबूला इस्लाम’

नउकोट पुलिस ने सिर्फ करिश्मा के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की। चश्मदीदों के बयान के बावजूद आरोपित रऊफ और उसके दोस्तों के खिलाफ एफआईआर तक दर्ज नहीं की गई।

पाकिस्तान के सिंध में एक हिंदू लड़की का अपहरण कर उसका इस्लामी धर्म-परिवर्तन करा दिया गया। लड़की के छोटे भाई रामबन और दूसरे चश्मदीदों के अनुसार, बाजार में सब्जी खरीदने गए करिश्मा भील को मुस्लिम युवक जबरन अपने साथ ले गए। घटना 15 फरवरी, 2023 की बताई जा रही है। पीड़िता के पिता का आरोप है कि पाकिस्तान की पुलिस अपहरणकर्ताओं के खिलाफ शिकायत तक दर्ज नहीं कर रही है।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार सिंध के मीरपुर खास के नउकोट की रहने वाली करिश्मा अपने भाई के साथ बाजार गई थी। तभी उमरकोट के रहने वाले रऊफ और उसके दोस्त करिश्मा के साथ छेड़खानी करने लगे। करिश्मा ने जब विरोध किया तो रऊफ ने अपने दोस्तों की मदद से उसका अपहरण कर लिया। करिश्मा के पिता रमेश भील ने नउकोट पुलिस पर एफआईआर दर्ज न करने के गंभीर आरोप लगाए हैं।

रमेश के अनुसार, नउकोट पुलिस ने सिर्फ करिश्मा के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की। चश्मदीदों के बयान के बावजूद आरोपित रऊफ और उसके दोस्तों के खिलाफ एफआईआर तक दर्ज नहीं की गई। उल्टे पुलिस ने बिना छान-बीन के ही लड़की के अपने मर्जी से चले जाने की बात कह दी। पुलिस ने कहा कि एक हफ्ते के इंतजार के बाद एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

करिश्मा के पिता ने जानकारी दी कि उन्हें 19 फरवरी को पुलिस स्टेशन बुलाया गया। पुलिस वालों ने उन्हें एक कागज सौंपा जिसमें करिश्मा के धर्म-परिवर्तन के बारे में लिखा हुआ था। 18 फरवरी की तारीख वाले सर्टिफिकेट के मुताबिक करिश्मा ने अपनी मर्जी से अपना धर्म बदल कर इस्लाम कबूल कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, अब करिश्मा का नाम कंवल बी रखा गया है। पुलिस द्वारा कहा जा रहा है कि करिश्मा अब उमरकोट के रऊफ के परिवार के साथ रहना चाहती है।

बता दें कि रऊफ वही मुस्लिम लड़का है जिसपर करिश्मा के अपहरण का आरोप है। करिश्मा के पिता को डर है कि बालिग होते ही उनकी बेटी जबरन रऊफ के साथ व्याह दी जाएगी। पाकिस्तान में हिंदू लड़कियों को अगवा करने और जबरन शादी करने जैसी घटनाएँ आम हैं। खासकर सिंध में हिंदू लड़कियों को मुस्लिमों द्वारा निशाना बनाया जाता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -