Thursday, June 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय130 फ़ीट की हूरों का बखान करता था जो पाकिस्तानी मौलाना, उसके बेटे की...

130 फ़ीट की हूरों का बखान करता था जो पाकिस्तानी मौलाना, उसके बेटे की गोली लगने से मौत: ‘अज्ञात’ मार कर चले गए या कर ली आत्महत्या?

युसूफ का कहना है कि उनके भाई आसिम काफी दिनों से बीमार चल रहा था जिसके इलाज के लिए बिजली के झटके दिए जा रहे थे।

पाकिस्तान के नामी मौलाना तारिक जमील के बेटे की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। मृतक का नाम आसिम जमील उर्फ़ कारी इस्माइल है। मौत की वजह गोली लगना बताया जा रहा है। कुछ लोगों का दावा है कि तारिक के बेटे को अज्ञात लोगों ने गोली मारी है। एक आतंकी संगठन ने तो इस हत्या की जिम्मेदारी भी ले ली है। हालाँकि, खुद मौलाना के परिजन इसे आत्महत्या बता रहे हैं। घटना रविवार (29 अक्टूबर, 2023) की है।

आतंकी संगठन ने ली हत्या की जिम्मेदारी

पाकिस्तान के कारी इस्माइल उर्फ़ आसिम जमील को गोली खैबर पख्तूनवा के बाजौर जिले के मरमोड इलाके में लगी है। गोली मृतक की छाती में लगी है। ‘न्यूज़ 18’ के मुताबिक, पाकिस्तान में सक्रिय आतंकी समूह इस्लामिक स्टेट खोरासन प्रोविंस (आईएसकेपी) ने तारिक जमील के बेटे की हत्या की जिम्मेदारी ली है। तारिक के बेटे को तालिबान समर्थक बताते हुए आतंकी संगठन ने अपने लड़ाकों द्वारा उन्हें मार गिराने का दावा किया है। ISKP कारी इस्माइल को अपने विरोधी मत अहले हदीस समूह की विचारधारा से जुड़ा मानता है।

परिजन बता रहे आत्महत्या

हालाँकि, चरमपंथी संगठन ISKP के इस बयान को तालिबान भुना सकता है। तालिबान ISKP के खिलाफ अपनी लड़ाई में चीन का साथ मिलने की उम्मीद जताए बैठा है। वहीं इन खबरों के मीडिया में सामने आने के बाद तारिक जमील का परिवार सामने आया है। मृतक के भाई युसूफ जमील ने वीडियो जारी कर के इस घटना को आत्महत्या करार दिया। युसूफ का कहना है कि उनके भाई आसिम काफी दिनों से बीमार चल रहा था जिसके इलाज के लिए बिजली के झटके दिए जा रहे थे।

घटना के दिन का जिक्र करते हुए यूसुफ ने दावा किया कि उनके भाई ने मानसिक तौर पर परेशान को हो कर घर की सुरक्षा में तैनात गार्ड की बंदूक छीनी और खुद को गोली मार ली।

इस मामले में छाती में गोली लगने से आत्महत्या के दावों पर शंका की जा रही है। हालाँकि पुलिस ने घर के आसपास लगे CCTV फुटेज निकलवाए हैं जिन्हे फॉरेंसिक जाँच के लिए भेजा गया है। पुलिस इस मामले में जाँच के ही बाद किसी निष्कर्ष पर आने की बात कही है।

हूर के जिक्र से हुए मशहूर

बताते चलें कि मौलाना तारिक जमील अक्सर अपनी मज़हबी तकरीरों में जन्नत की हूरों का जिक्र किया करते हैं। वो बताते हैं कि जन्नत में बईदक नाम की नहर है जो मोतियों से ढकी है। हूरें इसी इसी नहर से पैदा होती हैं। मौलाना के अनुसार, “बईदक में मुसकामबर जाफ़रान का हूर बहता है। जब अल्लाह किसी जन्नत की लड़की को बनाने का हुक्म फरमाता है तो अपने नूर की तजल्ली डालता है। पूरी 130 फीट की लड़की निकल कर बाहर आ जाती है। फुल ड्रेस्ड।”

मौलाना जमील के अनुसार, “जन्नत की लड़की सिर्फ सूरज को ऊँगली दिखा दे तो सूरज नजर नहीं आएगा, क्योंकि जन्नत की हूर का साइज 130 फ़ीट है। उसके इतने लम्बे बाल होते हैं कि जब सर हिलाती है तो पूरे जन्नत में सर्च लाइट जल जाती है।”

आमिर खान के साथी, जिन्ना की ‘चूसी उँगली’

मौलाना तारिक जमील तब्लीगी जमात से जुड़े हुए हैं। अगस्त 2020 में उनके वायरल हुए एक वीडियो में उनको पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की ‘शहद से भरी उंगलियाँ’ सपने में चूसने का जिक्र करते के बारे में बताया है। इस दौरान उन्होंने उँगलियों से शहद निकलने का दावा किया। अक्टूबर 2012 में सऊदी अरब में हज के दौरान मौलाना तारिक जमील और भारतीय अभिनेता आमिर खान की मुलाकात हुई थी। इस मुलाकात की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हुईं थीं।

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से पाकिस्तान में अज्ञात लोगों द्वारा कई वांटेड आतंकियों को गोली मारने की घटनाएँ सामने आईं हैं। इन घटनाओं के बाद पनाह लिए आतंकियों में काफी दहशत है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -