Tuesday, August 9, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान की लेडी 'चांद नवाब' : ईद की रिपोर्टिंग में खलल डाल रहे लड़के...

पाकिस्तान की लेडी ‘चांद नवाब’ : ईद की रिपोर्टिंग में खलल डाल रहे लड़के को जड़ा तमांचा, Video वायरल

वीडियो में देख सकते हैं कि मायरा आराम से अपनी रिपोर्टिंग पूरी की। इसके बाद कैमरे के सामने चले आ रहे एक लड़के को झापड़ मारा।

ईद के मौके पर पाकिस्तान की एक महिला रिपोर्टर मायरा हाशमी का एक लड़के को थप्पड़ जड़ने का वीडियो वायरल हुआ है। ये वीडियो रिपोर्टिंग के दौरान का है जिसे सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की मशहूर पत्रकार नायला इनायत समेत कई लोगों ने डाला है।

वीडियो में देख सकते हैं कि मायरा आराम से अपनी रिपोर्टिंग कर रही होती हैं लेकिन आसपास के सभी लोग उन्हें घेरकर देखते रहते हैं। चेहरे पर बिन कोई शिकन लाए पहले वो अपना काम पूरा करती हैं उसके बाद माइक नीचे करके उस लड़के को झापड़ मारती हैं जो कैमरे के सामने आ रहा होता है।

पूरी घटना कैमरा ऑन रहने के कारण वीडियो में कैद हो गई। अब लोग इसे सोशल मीडिया पर साझा कर रहे हैं और इस तरह आसपास की भीड़ से तंग होकर अपना रिएक्शन देने वाली रिपोर्टर को पाकिस्तान के मशहूर पत्रकार चांद नवाब का लेडी वर्जन और चांद नवाब की बेटी कहा जा रहा है।

कुछ लोग इस वीडियो को देख हँस रहे हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो सवाल कर रहे हैं कि आखिर क्यों लड़के को थप्पड़ मारा गया, अगर वो पलट कर ऐसे ही कर देता तो क्या इज्जत रह जाती रिपोर्टर की।

कुछ महिलाएँ भी हैं जो रिपोर्टर के पक्ष में अंदाजा लगा रही हैं कि शायद लड़के ने कोई बदसलूकी की हो, इस वजह से रिपोर्टर बर्दाश्त न कर पाई हो। इसी तरह एक यूजर ने बताया कि लड़का मायरा को काफी देर से तंग कर रहा था। 2-3 बार मना करने के बाद भी जब वो नहीं माना तो ये घटना हुआ।

बता दें कि रविवार को बकरीद विश्व भर में मनाई गई थी। ऐसे में ये वीडियो भी उसी दिन की कही जा रही है। ट्विटर पर शेयर होती वीडियो को लाखों व्यूज मिल रहे हैं। इस बीच मायरा ने भी इसे अपने अकॉउंट से शेयर कर सफाई दी है। उर्दू में किए गए ट्वीट के गूगल अनुवाद से समझ आता है कि मायरा जिस समय एक परिवार का इंटरव्यू ले रही थीं, उस दौरान ये लड़का उस परिवार को तंग कर रहा था इसलिए जब अगली बार इस लड़के ने ऐसा किया तो उन्होंने बर्दाश्त नहीं किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कोउ नृप होउ बिहारी को ही हानी… नीतीश कुमार इधर रहें या जंगलराज की छाया में पसरें, बिहार घुट-घुटकर ही जीता रहेगा

बिहार सियासी तौर पर अभिशप्त है। फिर भी जंगलराज की छाया से दूर रहने का सुकून था। हालिया राजनीतिक हलचल उस सुकून पर हमले जैसा है।

जिस जेल में रखा गया ‘आतंकी’ उसके कमोड पर बैठ बीती पार्थ चटर्जी की रात, सब्जी-चावल के लिए रोए: अर्पिता मुखर्जी का भी बुरा...

SSC स्कैम में फँसे पार्थ चटर्जी के लिए जेल में रात गुजारना काफी दिक्कत भरा रहा। उन्होंने पूरी रात कमोड पर बैठकर बिताई, वहीं उनके साथ कैदियों ने गाली-गलौच की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
212,463FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe