Tuesday, August 3, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयआरती की तरह हाथ घुमा रही थी बेटी तो तोड़ दी टीवी: शाहिद अफरीदी...

आरती की तरह हाथ घुमा रही थी बेटी तो तोड़ दी टीवी: शाहिद अफरीदी की कट्टरता पर पाकिस्तानी फ़िदा

अफरीदी ने जब कबूल किया कि अपनी बेटी को 'हिंदू परंपरा' का अनुसरण करता देख वे इतने गुस्से में आ गए कि कोहनी मारकर घर का टीवी ही तोड़ दिया तो शो की होस्ट और वहाँ बैठे पाकिस्तानी दर्शक ताली पीट-पीटकर हँसने लगे।

हाल में ही दानिश कनेरिया के साथ हिंदू होने के कारण पाकिस्तानी क्रिकेट टीम में भेदभाव का मामला सामने आया था। अब पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। इसमें अफरीदी हिंदू परंपराओं का अपमान करते नजर आ रहे हैं और वहाँ मौजूद लोग उनकी बातों पर ताली बजा रहे हैं।

वीडियो में शाहिद अफरीदी एक चैट शो में महिला होस्ट के सवालों का जवाब देते रहे हैं। महिला होस्ट उनसे पूछती हैं कि क्या उन्होंने कभी टीवी तोड़ा है? जिसका जवाब वो ‘हाँ’ में देते हैं और आगे कहते हैं कि उन्होंने ऐसा अपनी बेगम में कारण किया।

टीवी तोड़ने के वाकये के बारे में बताते हुए अफरीदी कहते हैं कि पहले स्टारप्लस के ड्रामे बहुत चला करते हैं, तो वे अपनी बेगम को मना करता था कि अगर उन्हें ये सब देखना हो तो वो अकेले में देख लिया करें। अपने साथ बच्चों को न बिठाया करें। वीडियो के शुरू होने के मात्र 30 सेकेंड में ही अफरीदी के हाव-भाव देखकर समझा जा सकता है कि उनकी दिक्कत ये नहीं है कि उनकी बेगम बच्चों के आगे ड्रामा/ सीरियल देख रही हैं। उनकी दिक्कत ये हैं कि वो बच्चों के आगे हिंदुस्तानी सीरियल देख रही हैं।

अफरीदी आगे बताते हैं कि एक बार वो अपने घर में आए, तो अक्शा या अंशा (उनकी बेटियाँ) में से कोई एक टीवी के आगे हाथ घुमाकर कुछ ‘यूँ-यूँ’ कर रही थीं और टीवी पर स्टार प्लस चल रहा था। अब शाहिद के शब्दों पर गौर कीजिए। वे जिसे ‘यूँ-यूँ’ बता रहे उसे हिंदू परंपराओं में ‘आरती’ कहा जाता है।

हैरानी की बात है कि एक देश जहाँ पर हिंदू भले संख्या में कम हों लेकिन रहते हैं और एक व्यक्ति जिसने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों के लिए कई बार भारत का दौरा किया, भारतीय ख़िलाड़ियों के साथ रहा, भारतीय कार्यक्रमों में शिरकत की… क्या उसे ‘आरती’ शब्द वाकई नहीं पता होगा। या उसने केवल हिंदू परंपरा को हीन दिखाने के लिए ऐसा किया। वे चाहते अपनी बात को सरलता से भी कह सकते थे। लेकिन शायद उनके अंदर की कट्टरता उन पर हावी हो गई। जो चेहरे के साथ उनके शब्दों में भी दिखी। उन्होंने कहा, “एक तो पता नहीं इंडियन ड्रामे में क्या होता है…यूँ-यूँ…क्या कहते हैं उसे।”

कार्यक्रम में हिंदू परंपरा का मजाक उड़ने पर ताली बजाती पाकिस्तानी आवाम

खैर, बात सिर्फ़ उनके शब्दों की नहीं है। शाहिद अफरीदी ने इस चैट शो में खुद स्वीकारा कि अपनी बेटी को ‘हिंदू परंपरा’ का अनुसरण करता देख उन्हें इतना गुस्सा आया कि उन्होंने कोहनी मारकर अपने घर का टीवी ही तोड़ दिया। इसे सुन शो की होस्ट और वहाँ बैठे पाकिस्तानी दर्शक ताली पीट पीटकर हँसने लगे। इन्हें देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि हिंदू परंपरा उनके लिए किसी मजाक से कम नहीं है और उसका ‘विरोधी’ किसी हीरो से।

बता दें , शाहिद अफरीदी और शोएब अख्तर एक ही समय में पाकिस्तानी टीम के दो बड़े नामी खिलाड़ी रह चुके हैं। लेकिन अब दोनों ने ही क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। ऐसे में एक शोएब हैं, जो खुलेआम इस बात को स्वीकारते हैं कि उनकी टीम ने हिंदू ख़िलाड़ियों के साथ बदसलूकी की। वहीं दूसरे अफरीदी हैं जो खुलेआम बताते हैं कि उन्होंने ‘हिंदू परंपरा’ से चिढ़कर अपनी टीवी तोड़ दी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

4 साल में 4.5 करोड़ को मरवाया, हिटलर-स्टालिन से भी बड़ा तानाशाह: ओलंपिक में चीन के खिलाड़ियों ने पहना उसका बैज

जापान की राजधानी टोक्यो में चल रहे ओलंपिक खेलों में चीन के दो खिलाड़ियों को स्वर्ण पदक जीतने के बाद माओ का बैज पहने हुए देखा गया। विरोध शुरू।

12 गोलियों के निशान, सिर-छाती को भारी वाहन से कुचल लाश को घसीटा: दानिश सिद्दीकी के साथ तालिबानी बर्बरता की नई डिटेल

दानिश सिद्दीकी की अफगानिस्तान में तालिबान ने हत्या कर दी थी। मेडिकल रिपोर्ट और X-Ray से पता चला है कि उनके सिर एवं छाती को भारी वाहन से कुचला गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,708FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe