Tuesday, August 3, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकोरोना से बड़ी बीमारी मोदी के दिलो-दिमाग में है: पाकिस्तानी शाहिद अफरीदी का विवादित...

कोरोना से बड़ी बीमारी मोदी के दिलो-दिमाग में है: पाकिस्तानी शाहिद अफरीदी का विवादित बयान, देखें Video

वीडियो में अफरीदी कहते हैं, "कोरोना से भी बड़ी बीमारी मोदी (प्रधानमंत्री मोदी) के दिलो-दिमाग में हैं और वह बीमारी मजहब की बीमारी है। मजहब को लेकर वह सियासत कर रहे हैं और हमारे कश्मीरी भाई-बहनों और बुजुर्गों के साथ जुल्म कर रहे हैं। उन्हें इसका जवाब देना होगा।"

इन दिनों पूरी दुनिया भले कोरोना वायरस के खतरे से जूझ रही है। लेकिन पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने कश्मीर मुद्दे का राग अलाप कर अपनी बौखलाहट जताना जारी रखा हुआ है। पहले भी कई बार कश्मीर मुद्दे पर उल-जुलूल बात कर चुके अफरीदी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

जिसमें अफरीदी संभवत: पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में एक भीड़ को संबोधित करते हुए कश्मीर राग अलाप रहे हैं। इस वीडियो में पाकिस्तानी सैनिक और पीओके में स्थित किसी गाँव के कुछ लोग जमा हुए हैं।

अफरीदी के इस वीडियो के कई क्लिप हैं जिन्हें कई यूजर्स ने काफी हिस्सों में कट करके शेयर किया है। एक वीडियो फिल्ममेकर अशोक पंडित ने शेयर किया है। जिसमें वह पीएम नरेंद्र मोदी के बार में काफी कुछ बोल रहे हैं।

वीडियो की शुरुआत में शाहिद अफरीदी ने कोरोना वायरस के बारे में बात की, लेकिन इसके बाद पीएम मोदी और कश्मीर पर बोलने लगते हैं। वीडियो में अफरीदी कहते हैं, “कोरोना से भी बड़ी बीमारी मोदी (प्रधानमंत्री मोदी) के दिलो-दिमाग में हैं और वह बीमारी मजहब की बीमारी है। मजहब को लेकर वह सियासत कर रहे हैं और हमारे कश्मीरी भाई-बहनों और बुजुर्गों के साथ जुल्म कर रहे हैं। उन्हें इसका जवाब देना होगा।”

शाहिद अफरीदी आगे इस वीडियो में कहते नजर आ रहे हैं, “वैसे तो मोदी बहुत दिलेर बनने की कोशिश करते हैं, लेकिन हैं वो डरपोक आदमी। इतने छोटे से कश्मीर के लिए उन्होंने 7 लाख की फौज जमा की, जबकि पाकिस्तान की कुल फौज 7 लाख की है लेकिन उन्हें यह नहीं पता कि उनके पीछे 22-23 करोड़ की फौज (पाकिस्तान की जनसंख्या) खड़ी है।”

उनका एक और वीडियो क्लिप भी इसी से जुड़ा वायरल हो रहा है, जिसे पाकिस्तानी पत्रकार नायला इनायत ने शेयर किया है। इस वीडियो क्लिप में वो भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान से जुड़ा विवादित बयान देते नजर आ रहे हैं। इसमें वह कहते हैं, “हमने उनके लोगों को हवा में मारके चाय पिलाकर वापस भिजवाया इज्जत के साथ। हमने दुनिया को यह पैगाम दिया कि हम अमन पसंद लोग हैं, हम प्यार मोहब्बत की बात समझने वाले लोग हैं। लेकिन आप प्यार मोहब्बत से बातें करोगे तब।”

अफरीदी का यह वीडियो वायरल होते ही पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने उन पर करारा पलटवार किया है। गंभीर ने तंज कसते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि यह 16 साल का शख्स कहता है कि पाकिस्तान की 7 लाख सेना को 20 करोड़ लोगों का समर्थन है। पर बावजूद इसके ये पिछले 70 साल से कश्मीर की भीख माँग रहे हैं।

गंभीर यहीं पर ही नहीं रुके। अफरीदी के वार पर गंभीर ने पाक पीएम इमरान और सेना के चीफ बाजवा पर भी पलटवार किया। गंभीर ने कहा कि अफरीदी, इमरान और बाजवा जैसे जोकर को भारत और मोदी जी के खिलाफ जहर उगल कर पाकिस्तान के लोगों को बेवकूफ बना सकते हैं। इसके साथ ही गंभीर ने अफरीदी को बड़ा इशारा करते हुए लिखा कि इन लोगों को निर्णायक दिन तक कश्मीर नहीं मिलेगा। बांग्लादेश याद है ना आपको? 

वैसे यह कोई पहला मौका नहीं है, जब शाहिद अफरीदी ने कश्मीर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में विवादित बयान दिया है। इससे पहले भी वह कई बार इस तरह के बयान दे चुके हैं। इसी साल फरवरी में अफरीदी ने एक बयान देते हुए कहा था कि जब तक मोदी सत्ता में हैं, भारत-पाकिस्तान के संबंध नहीं सुधर सकते।

अफरीदी ने कहा था, “जब तक मोदी सत्ता में हैं, मुझे नहीं लगता कि भारत से कोई प्रतिक्रिया मिलेगी। हम सभी, यहाँ तक कि भारतीय भी जानते हैं कि मोदी क्या सोचते हैं। उनकी सोच नकारात्मक है। भारत और पाकिस्तान के संबंध सिर्फ एक इंसान के कारण खराब हुए हैं। यह हम नहीं चाहते थे।” उन्होंने कहा था, “सीमा के दोनों तरफ से लोग एक दूसरे के देश घूमना चाहते हैं। मैं नहीं जानता कि मोदी क्या करना चाहते हैं और उनका एजेंडा हकीकत में क्या है।”

उल्लेखनीय है कि एक टीवी इंटरव्यू के दौरान शाहिद अफरीदी ने कहा था कि उन्होंने अपने घर पर टीवी को इसलिए तोड़ दिया था क्योंकि उनकी बेटी उस पर भारतीय संस्कृति में होने वाली आरती को देख रही थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक का छत से लटका मिला शव, दूसरे की तालाब से मिली लाश: बंगाल में फिर भाजपा के 2 कार्यकर्ताओं की हत्या

एक मामला बीरभूम का है और दूसरा मेदिनीपुर का। भाजपा का कहना है कि टीएमसी समर्थित गुंडों ने उनके कार्यकर्ताओं की हत्या की जबकि टीएमसी इन आरोपों से किनारा कर रही है।

मुख्तार अंसारी की बीवी और उसके सालों की ₹2 करोड़ 18 लाख की संपत्ति जब्त: योगी सरकार ने गैंगस्टर एक्ट के तहत की कार्रवाई

योगी सरकार द्वारा कुख्यात माफिया और अपराधी मुख्तार अंसारी की लगभग 2 करोड़ 18 लाख रुपए मूल्य की संपत्ति की कुर्की की गई। यह संपत्ति अंसारी की बीवी और उसके सालों के नाम पर थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,804FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe