Wednesday, December 7, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत को अमेरिका देगा 2.9 मिलियन डॉलर की...

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत को अमेरिका देगा 2.9 मिलियन डॉलर की मदद

अमेरिका ने भारत के अलावा बांग्लादेश को 3.4 बिलियन डॉलर, अफगानिस्तान को 5 मिलियन डॉलर, श्रीलंका को 1.3 मिलियन डॉलर और नेपाल को 1.8 डॉलर की राशि देने का ऐलान किया है।

दुनिया के करीब 200 देश कोरोना वायरस के संकट से जूझ रहे हैं। अब तक लाखों लोगों की जान जा चुकी है। इसी बीच लोगों की जिंदगियाँ बचाने के लिए अमेरिका आगे आया है। अमेरिका ने भारत सहित दुनिया के 64 देशों की आर्थिक रूप से मदद करने के लिए 174 मिलियन डॉलर के पैकेज का ऐलान किया है। अमेरिका ने कोरोना से निपटने के लिए भारत को 2.9 मिलियन डॉलर (करीब 22 करोड़ रुपए) की राशि देने की घोषणा की है।

बता दें कि यह राशि फरवरी में अमेरिका की ओर से घोषित 10 करोड़ डॉलर की मदद के अलावा है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के मुताबिक लेबोरेटरी सिस्टम, ऐक्टिव केस ढूँढने, निगरानी और टेक्निकल एक्सपर्ट्स की मदद संबंधी तैयारियों आदि को दुरुस्त करने के काम में इस पैसे का इस्तेमाल किया जा सकेगा।

अमेरिका ने भारत के अलावा बांग्लादेश को 3.4 बिलियन डॉलर, अफगानिस्तान को 5 मिलियन डॉलर, श्रीलंका को 1.3 मिलियन डॉलर और नेपाल को 1.8 डॉलर की राशि देने का ऐलान किया है। अमेरिका ने कहा है कि वो दशकों से स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए दुनिया में मदद देता रहा है। स्टेट डिपार्टमेंट के अनुसार, “अमेरिका लोगों की जिंदगियाँ बचाने में आगे रहा है, हम वैसे लोगों की रक्षा करते रहे हैं, जिन्हें बीमारियों की चपेट में आने का खतरा है, हम स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित संस्थान बनाते रहे हैं और समुदायों और राष्ट्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करते रहे हैं।” बता दें कि इस वक्त अमेरिका खुद भी कोरोना महामारी से जूझ रहा है। वहाँ पर अभी एक लाख से ज्यादा कोरोना मरीज हैं, जिनका देश के अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक, अब तक कोरोना के 918 केस की पुष्टि हुई है। इन 918 संक्रमितों में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। इनमें से 79 लोग ठीक होकर घर लौट चुके हैं। जबकि 19 लोगों की मौत हो गई है। कोरोना वायरस के मामले लगातार दुनियाभर में बढ़ रहे हैं। दुनिया भर में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमण के छह लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं और 28,812 लोगों की इस संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। वहीं, अकेले इटली में अब तक 9,000 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 80 हज़ार से अधिक लोग संक्रमित बताए जा रहे हैं। इटली में संक्रमण से होने वाली मौत के आँकड़े चीन और USA से कहीं आगे निकल चुके हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान में गुरुद्वारे पर इस्लामी कट्टरपंथियों ने जमाया कब्ज़ा, जड़ दिया ताला: सिखों के आने-जाने पर भी रोक, कह रहे – ये हमारी मस्जिद...

लाहौर स्थित गुरुद्वारे को पाकिस्तान की इवेक्‍यू ट्रस्‍ट प्रॉपर्टी बोर्ड (ETPB) ने कट्टरपंथियों के साथ मिलकर सिख समुदाय के लिए बंद कर दिया है।

‘भारती जी, रिजर्वेशन पर आए थे नौकरी में क्या?’: पटना HC के जज के सवाल पर वकीलों ने लगाए ठहाके, ₹24 लाख की गड़बड़ी...

पटना हाईकोर्ट के जज संदीप कुमार ने एक घोटाला आरोपित अधिकारी से पूछा कि क्या उन्होंने रिजर्वेशन पर नौकरी प्राप्त किया है? अधिकारी ने 'हाँ' में जवाब दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
237,113FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe