Saturday, June 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयआगजनी, तोड़फोड़, जानलेवा हमले... अर्जेंटीना के फीफा वर्ल्ड कप जीतने के बाद फ्रांस में...

आगजनी, तोड़फोड़, जानलेवा हमले… अर्जेंटीना के फीफा वर्ल्ड कप जीतने के बाद फ्रांस में भड़के दंगे, 14000 पुलिसकर्मी तैनात

एक वीडियो सामने आया है जिसमें सड़क पर एक महिला की गाड़ी रोकी गई है और कुछ उपद्रवी उसकी गाड़ी को पहले घेरते हैं और फिर उस पर खींचकर कुछ मारते हैं। पूरी भीड़ उस कार पर अटैक करती दिखती है।

फीफा वर्ल्ड कप 2022 के फाइनल में 18 दिसंबर 2022 को अर्जेंटीना से मिली हार को फ्रांस के फैन्स बर्दाश्त नहीं कर पाए। उन्होंने देश के अलग-अलग कोनों में हिंसा, आगजनी, तोड़फोड़ को अंजाम दिया। हालात इतने बेकाबू हो गए कि पुलिस को आँसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।

जानकारी के मुताबिक, फीफा वर्ल्ड कप फाइनल देखने के लिए फ्रांस के अलग-अलग शहरों में बड़ी स्क्रीन सड़कों पर लगाई थी ताकि चलते-फिरते भी लोग मैच का आनंद ले सकें। इन्हीं बड़ी स्क्रीन पर फ्रांस को जीतता देखने के लिए हजारों लोग इकट्ठा हुए। मगर जैसे ही अर्जेंटीना ने पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से मोर्चा मारकर वर्ल्ड कप का खिताफ जीता, वैसे ही सारे फैन्स बिदक गए।

अलग-अलग शहरों से हिंसा की खबरें आईं। पेरिस और लॉयन जैसे शहरों में लोगों ने गाड़ियों में आग लगा दी। इनमें से कुछ की तस्वीरें और कुछ की वीडियोज भी सोशल मीडिया पर वायरल है। देख सकते हैं कि उपद्रवियों को रोकने के लिए वहाँ बड़ी संख्या में पुलिस को तैनात किया गया है। वहीं हिंसक लोग सड़कों पर तोड़फोड़ करते हुए आगे बढ़ते जा रहे हैं।

एक वीडियो सामने आया है जिसमें सड़क पर एक महिला की गाड़ी रोकी गई है और कुछ उपद्रवी उसकी गाड़ी को पहले घेरते हैं और फिर उस पर खींचकर कुछ मारते हैं। पूरी भीड़ उस कार पर अटैक करती दिखती है।

कथिततौर पर पुलिस ने इस हिंसा मामले में दर्जनों लोगों को गिरफ्तार है। पुलिस उन्हें अपने साथ फटकारते हुए घेरकर ले जाती दिख रही है। फ्रांस भर में 14000 पुलिस अधिकारी तैनात हैं। फ्रांस की हार से आहत जहाँ उसके फैन्स हल्ला कर रहे हैं, तोड़फोड़ कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर पेरिस में ही अर्जेंटीना की एंबेसी के पास टीम के फैन्स खुशी का जश्न मनाते भी दिखे।

गौरतलब है कि इस बार कतर में हुआ फीफा वर्ल्ड कप 2022 कई बार हिंसा की वजह से चर्चा में रहा। फ्रांस ने मोरक्को से जब मैच जीता था तब मोरक्कन फैन्स ने फ्रांस की सड़कों पर आकर उपद्रव किया था। घटना में एक 14 साल के बच्चे की मौत हो गई थी और कई जगह तोड़फोड़ व आगजनी को अंजाम दिया गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -