Thursday, July 7, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयहमारे पास सभी आकार के स्मार्ट बम हैं, भारत के 22 टुकड़े करेंगे: करंट...

हमारे पास सभी आकार के स्मार्ट बम हैं, भारत के 22 टुकड़े करेंगे: करंट लगने के बाद पाक मंत्री का नया दावा

पाकिस्तानी मंत्री ने कहा कि भारतीय अल्पसंख्यकों को दोयम दर्जे का नागरिक बनाने के लिए एनआरसी तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि असम, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में उन्हें नीचा दिखाया जा रहा है।

पाकिस्तान के रेलमंत्री शेख रशीद अहमद ने अजीबोगरीब दावे किए हैं। लंदन में अंडों से पिट चुके पाकिस्तानी मंत्री ने दावा किया कि उनके देश के पास बड़ी संख्या में ‘स्मार्ट बम’ हैं। शेख रशीद वही मंत्री हैं, जिन्हें मोदी का नाम लेते ही करंट लगा था। जम्मू-कश्मीर की जनता के प्रति कथित एकजुटता दिखाने समय शेख रशीद ने जैसे ही माइक लेकर पीएम मोदी को कोसना शुरू किया, उन्हें जोर का झटका लगा। हमेशा विवादों में रहने वाले शेख रशीद सुर्ख़ियों में रहने के लिए अपना ही मज़ाक बनाते रहते हैं।

शेख रशीद ने दावा किया कि पाकिस्तान के पास हर आकार के ‘स्मार्ट बम’ हैं। पाकिस्तानी मंत्री ने भारत के टुकड़े कर के 22 पाकिस्तान बनाने का दावा भी किया। उन्होंने एनआरसी जैसे भारत के आंतरिक मुद्दों पर भी टिप्पणी की। रशीद ने कहा कि एनआरसी का उद्देश्य उनके मजहब वालों को रास्ते से हटाने के लिए किया गया है। बता दें कि घुसपैठियों को चिह्नित कर उन्हें वापस प्रत्यर्पित करने के लिए भारत सरकार ने एनआरसी सूची तैयार की है।

पाकिस्तानी मंत्री ने कहा कि भारतीय अल्पसंख्यकों को दोयम दर्जे का नागरिक बनाने के लिए एनआरसी तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि असम, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में उनके मजहब के लोगों को नीचा दिखाया जा रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हिटलर और मुसलोनी जैसे तानाशाहों की सूची में रखते हुए कहा कि उनके लिए समुदाय विशेष के 25 करोड़ का सामना करना असंभव होगा। उन्होंने इमरान ख़ान की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्हीं की बदौलत आज अंतरराष्ट्रीय मीडिया जम्मू-कश्मीर पर ध्यान दे रहा है और उसके बारे में आर्टिकल लिख रहा है।

पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद ने दावा किया कि पाकिस्तानी फ़ौज की तैयारियों पर बयान देने के लिए फ़ौज ने उन्हें रखा हुआ है। हालाँकि, आधिकारिक रूप से पाकिस्तान में यह काम आसिफ गफूर का है लेकिन आजकल वे बॉलीवुड पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। हाल ही में गफूर ने शाहरुख़ ख़ान को कश्मीरियों के लिए कथित आवाज़ उठाने को कहा था। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के पास 75% ‘मिसाइल टेक्नोलॉजी’ है और 25% ‘एयर टेक्नोलॉजी’ है।

शेख रशीद ने अपने देश के विदेश मंत्री से अपील की कि वे जम्मू-कश्मीर को लेकर इस्लामी राष्ट्रों को लगातार पत्र लिखते रहें और प्रतिदिन ऐसा करें। ख़ुद को फ़ौज द्वारा नियुक्त बताते समय शेख रशीद ये भूल गए कि पाकिस्तान की सरकार लोकतान्त्रिक रूप से चुनी होने का दावा करती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इस्लामी कट्टरपंथी काटते रहे और हिंदू आत्मरक्षा भी न करें… आखिर ये किस तरह की ‘शांति’ चाहता है TOI

भारत आज उथल-पुथल के दौर से गुजर रहा है। इस्लामवादियों के हौसले भी लगातार बढ़ रहे हैं और वे लोगों को धमकियाँ दे रहे हैं।

‘ह्यूमैनिटी टूर’ पर प्रोपेगेंडा, कश्मीर फाइल्स ‘इस्लामोफोबिक’: द क्विंट को विवेक अग्निहोत्री ने किया बेनकाब

"हम इन फे​क FACT-CHECKERS को नजरअंदाज करते थे, लेकिन सच्ची देशभक्ति इन देशद्रोही Urban Naxals (अर्बन नक्सलियों) को बेनकाब करना और हराना है।”

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
204,341FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe