Friday, July 19, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयव्हाइट हाउस में हुआ अब तक का सबसे बड़ा दिवाली आयोजन, अमेरिकी राष्ट्रपति ने...

व्हाइट हाउस में हुआ अब तक का सबसे बड़ा दिवाली आयोजन, अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा – अब ये अमेरिका की संस्कृति का भी हिस्सा

अमेरिका की फर्स्ट लेडी जिल बाइडेन ने एशियाई-अमेरिकी समुदाय के योगदान की तारीफ की और कहा कि इन्होंने आगे का रास्ता रोशन करने में मदद की।

व्‍हाइट हाउस में अबतक के सबसे बड़े दिवाली समारोह की अमेर‍िका के राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने मेजबानी की। इस दौरान उनके साथ प्रथम महिला जिल बाइडन और भारतीय मूल की उपराष्‍ट्रपति कमला हैरिस भी मौजूद थीं। बाइडन समेत कमला हैरिस ने यहां भारतवंशियों से मुलाकात की और दिवाली की शुभकामनाएँ दी। इसके साथ ही अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारतीय मूल के ऋषि सुनक के ब्रिटेन का प्रधानमंत्री चुने जाने को अभूतपूर्व बताया।

200 से अधिक प्रख्यात भारतीय अमेरिकियों ने ईस्ट रूम में स्वागत समारोह में भाग लिया। ईस्ट रूम भारत-अमेरिका संबंधों से संबंधित कुछ ऐतिहासिक घटनाओं का गवाह रहा है, जिसमें परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर और नवंबर 2008 में भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा संयुक्त संवाददाता सम्मेलन का आयोजन शामिल है।

जो बाइडन ने कहा, “हम आपकी मेजबानी कर सम्मानित महसूस कर रहे हैं। यह व्हाइट हाउस में अब तक का सबसे बड़ा दिवाली रिसेप्शन है। अब तक के इतिहास में हमारे प्रशासन में सबसे ज्यादा एशियाई अमेरिकी हैं और हम दिवाली को अमेरिका के कल्चर का खुशनुमा हिस्सा बनाने के लिए आपका धन्यवाद करते हैं।”

बाइडन ने भारतीय मूल के ऋषि सुनक के ब्रिटेन का प्रधानमंत्री चुने जाने को अभूतपूर्व बताया । उन्होंने कहा, “हमें खबर मिली है कि ऋषि सुनक अब यूके के पीएम होंगे। कल मैं किंग चार्ल्स III से मिलने जाने वाले हूँ । यह बहुत ही अच्छा है, एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है और यह काफी मायने रखता है।”

वहीं अमेरिकी उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस ने अपने संबोधन के दौरान कहा, “आज रात हम दुनिया भर में एक अरब से अधिक लोगों के साथ मिलकर दीया जलाएँगे और बुराई पर अच्छाई, अज्ञान पर ज्ञान और अंधेरे पर प्रकाश की जीत का जश्न मनाएँगे ।दिवाली हमें याद दिलाती है कि हम दुनिया में एक दूसरे में और अपने आप में रोशनी देखें। यह हमें यह भी याद दिलाती है कि हमें शांति, न्याय के लिए लड़ना चाहिए।”

कमला हैरिस ने इसके साथ ही दिवाली मनाते हुए ट्वीट भी क‍िया। उन्‍होंने ल‍िखा, “संयुक्त राज्य अमेरिका और दुनिया भर में जहां भी रोशनी का यह त्योहार लोग मना रहे हैं, उन सभी लोगों को दीपावली की शुभकामनाएँ!”

अमेरिका की फर्स्ट लेडी जिल बाइडेन ने एशियाई-अमेरिकी समुदाय के योगदान की तारीफ की और कहा कि इन्होंने आगे का रास्ता रोशन करने में मदद की। जिल बाइडेन ने कहा, “विश्वास, दृढ़ता और प्यार के साथ मैं आभारी हूँ कि आज इन दीयों ने आपको इस घर में मार्गदर्शन किया है। यह घर आप सभी का है। दिवाली बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। इस दिन भगवान राम रावण पर जीत हासिल करने के बाद अयोध्या वापस लौटे थे।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -