Monday, December 5, 2022
Homeरिपोर्टमीडियामुंबई पुलिस ने दर्ज की Republic TV के 1000 मीडियाकर्मियों के खिलाफ FIR

मुंबई पुलिस ने दर्ज की Republic TV के 1000 मीडियाकर्मियों के खिलाफ FIR

चैनल के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी ने कहा कि आपातकाल के समय भी कभी किसी मीडिया के खिलाफ ऐसा नहीं हुआ था। उन्होंने कहा कि हम नहीं डरने वाले, इस बार सिर्फ मैं नहीं, चैनल के सभी स्टाफ पुलिस थाने में जाएँगे।

मुंबई पुलिस को कथित रूप से बदनाम करने के आरोप में शुक्रवार (अक्टूबर 23, 2020) को समाचार चैनल Republic TV के 4 पत्रकारों समेत चैनल के लगभग सभी मीडियाकर्मियों के खिलाफ गैर जमानती धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। Republic TV मीडिया नेटवर्क ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि इतिहास में पहली बार किसी न्यूज़ चैनल के खिलाफ ऐसी कार्रवाई हुई है।

वहीं, रिपब्लिक चैनल का कहना है कि चैनल की पूरी एडिटोरियल टीम के खिलाफ FIR दर्ज की गई है, जिसका मतलब है कि करीब 1000 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। रिपब्लिक टीवी ने इसे ‘मीडिया अधिकारों पर हमला’ करार दिया और कहा कि चैनल बदले की भावना से की जा रही कार्रवाई के खिलाफ हर ‘मजबूत रणनीति’ से लड़ेगा, मुंबई पुलिस आयुक्त संविधान और कानून से ऊपर नहीं है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, एक अधिकारी ने कहा कि शहर के एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन में दर्ज एफआईआर में शहर पुलिस आयुक्त के खिलाफ ‘विद्रोह’ के बारे में चैनल द्वारा चलाई गई एक रिपोर्ट से संबंधित है।

अधिकारी ने कहा कि FIR पुलिस की धारा 3 (1) के तहत दायर की गई है। इसमें एंकर और डिप्टी न्यूज एडिटर शिवानी गुप्ता, एंकर और सीनियर एसोसिएट एडिटर सागरिका मित्रा, डिप्टी एडिटर शवन सेन और कार्यकारी संपादक निरंजन नारायणस्वामी का नाम है।

रिपब्लिक टीवी पर मुंबई पुलिस की इस कार्रवाई के बाद चैनल के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी ने कहा कि आपातकाल के समय भी कभी किसी मीडिया के खिलाफ ऐसा नहीं हुआ था। उन्होंने कहा कि हम नहीं डरने वाले, इस बार सिर्फ मैं नहीं, चैनल के सभी स्टाफ पुलिस थाने में जाएँगे।

चैनल ने कहा कि रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को नोटिस जारी करने के बाद से हर लेनदेन का विवरण प्रस्तुत करने और हर एक पत्रकार और कर्मचारी को नोटिस जारी किया गया है। हम हर मजबूत रणनीति की लड़ाई लड़ेंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमेरिका का पैसा और सिक्योरिटी, चीन का लैब… ऐसे लीक हुआ कोरोना वायरस: वुहान में काम कर चुके वैज्ञानिक की किताब में खुलासा –...

एंड्रयू हफ ने चीन में WIV में काम किया था। उनका दावा है कि कोविड-19 एक मानव निर्मित वायरस है, जो WIV से लीक हो गया था। किताब में खुलासा।

हवाई सफर हुआ आसान, अब करिए Digi Yatra: आपका चेहरा ही बोर्डिंग पास, जानिए FRT का कब-कहाँ-कैसे मिलेगा फायदा

डिजी यात्रा (Digi Yatra)। डिजी यात्रा सेंट्रल इकोसिस्टम (DYCE)। चेहरा पहचान प्रणाली (FRT)। यदि हवाई यात्रा करते हैं तो इन शब्दों से नाता जोड़ लीजिए, क्योंकि अब चेहरा ही आपका बोर्डिंग पास है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,909FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe