Sunday, May 19, 2024
Homeरिपोर्टमीडियामिलिए पत्रकार हरमन गोमेज से, हिंदुओं को कहता है- भ@वे, गां$… महिला ब्यूरोचीफ को...

मिलिए पत्रकार हरमन गोमेज से, हिंदुओं को कहता है- भ@वे, गां$… महिला ब्यूरोचीफ को बोलता है- मा@$द: माधवी लता को बताता है ‘ट्रांसजेंडर

गोमेज पत्रकार सुशांत सिन्हा को जवाब देते हुए भारतीयों को 'पजीत' बताता है। पजीत शब्द का उपयग कई विदेशी भारतीयों का अपमान करने के लिए करते हैं। वह इस ट्वीट में 'भड@वा' की गाली भी देता है। इसके बाद वह कहता है कि उनके जैसे लोग भाभियों के साथ दुराचार करेंगे।

भारत में हिन्दुओं से घृणा करने वाले पत्रकारों और बुद्धिजीवियों की कमी नहीं है। इनकी हिन्दू घृणा समय-समय पर सामने आते रहती है। इनमें से विदेश में रहने वाले पत्रकार और कर्थित बुद्धिजीवी हिन्दुओं के विरुद्ध सबसे अधिक जहर फैलाते हैं।

गोवा का निवासी एक ऐसा ही ईसाई पत्रकार इन दिनों हिन्दुओं को ‘गौमांस’ और ‘सती’ जैसे शब्दों का उपयोग करके गालियाँ दे रहा है। वह बड़े गर्व से बताता है कि उसने अपनी महिला ब्यूरो चीफ को ‘मा@रचो*द गाली दी थी। वह मात्र हिन्दू विरोधी ही नहीं बल्कि महिला विरोधी भी है। वह हैदराबाद से भाजपा प्रत्याशी को ‘ट्रांसजेंडर’ बताता है।

इस हिन्दू और महिला विरोधी पत्रकार का नाम हरमन गोमेज है। वह भारत के बड़े पत्रकारिता संस्थानों में काम कर चुका है। पिछले कुछ दिनों से वह मोदी सरकार की आलोचना के चक्कर में हिन्दुओं, भारतीयों और महिलाओं को गालियाँ दे रहा है।

वह हिन्दुओं को खुले तौर पर गालियाँ भी दे रहा है। वह भारत में रहने वाले हिन्दुओं के प्रति ही नहीं बल्कि विदेशों में रहने वाले हिन्दुओं के प्रति भी घृणा रखता है। उसका कहना है कि विदेशों में रहने वाले हिन्दू अपनी बीवियों को विदेशी नागरिकता के लिए दूसरों को सौंपते हैं।

हरमन गोमेज कौन है?

हरमन गोमेज गोवा का निवासी एक ईसाई पत्रकार है। उसके ट्विटर से पता चलता है कि वह अब पुर्तगाल की नागरिकता ले चुका है। पुर्तगाल के पासपोर्ट के आधार पर वह वर्तमान में इंग्लैंड की राजधानी लंदन में रह रहा है वहीं एक संस्थान में काम करता है। उसके लिंक्डइन प्रोफाइल से पता चलता है कि वह देश के शीर्ष अंग्रेजी समाचार संस्थानों में काम कर चुका है। उसकी प्रोफाइल दिखाती है कि वह टाइम्स नेटवर्क में पाँच साल काम कर चुका है। इसके अलावा वह CNN-NEWS18 में भी काम कर चुका है।

हर्मन गोमेस
हरमन गोमेज कई बड़े पत्रकारिता संस्थानों में काम कर चुका है

सबसे अधिक हैरानी की बात है कि वह वर्तमान में गोवा के बड़े अखबार हेराल्ड गोवा का पत्रकार है जबकि वह लगातार हिन्दू और महिला विरोधी रवैया अपनाए हुए है। उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है। हरमन गोमेज के आचरण को लेकर ना संस्थान ने कोई सफाई पेश की है, ना ही उसने खुद भी अपने कारनामों के लिए माफ़ी माँगी है।

हरमन गोमेज का हिन्दू-महिला विरोधी चरित्र

हरमन गोमेज लगातर सोशल मीडिया पर अपना हिन्दू और महिला विरोधी चरित्र दिखा रहा है। वह एक ट्वीट में एक व्यक्ति को सती प्रथा चलाने वाला बताता है और गाली देता है।

वह एक हिन्दू महिला को कहता है कि गौमांस खाए।

वह पत्रकार सुशांत सिन्हा को जवाब देते हुए भारतीयों को ‘पजीत’ बताता है। पजीत शब्द का उपयग कई विदेशी भारतीयों का अपमान करने के लिए करते हैं। वह इस ट्वीट में ‘भ@वा’ की गाली भी देता है। इसके बाद वह कहता है कि उनके जैसे लोग भाभियों के साथ दुराचार करेंगे।

वह एक ट्वीट में गर्व से बताता है कि उसने अपनी सहकर्मी महिला ब्यूरो चीफ को खुले तौर पर ‘मा@रचो*’ कहा। इसके बाद वह इस बात पर जोर डालता है कि महिला यही थी।

वह भाजपा समर्थकों को गोबर खाने वाला और यौन अपराधी बताता है।

उसका कहना है कि विदेशों में रहने वाले भारतीय अपनी पत्नियों के सौदे के बदले नागरिकता लेते हैं। इसमें वह गुजरातियों को भी विशेष रूप से निशाना बनाता है।

वह ट्विटर पर हिन्दुओं को गौमूत्र पीने की बात कहता है।

गोमेज सिर्फ हिन्दुओं और भारतीयों का विरोध नहीं करता, वह महिला विरोधी भी है। वह हैदराबाद से भाजपा प्रत्याशी माधवी लता को ‘ट्रांसजेंडर’ बताता है। वह इन महिला विरोधी टिप्पणियों के बाद भी बचा हुआ है।

हेराल्ड का यह पत्रकार लगातार हिन्दुओं और महिलाओं को गालियाँ देकर बचता रहा है। यह इंग्लैंड में बैठ कर भारतीयों को नीचा दिखाता है जबकि कुछ साल पहले तक खुद यह भारतीय नागरिक था। उसकी हिन्दू घृणा दिन प्रति दिन बढती जा रही है। वह ट्विटर पर खुले आम अपशब्दों का प्रयोग करता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अर्पित त्रिपाठी
अर्पित त्रिपाठीhttps://hindi.opindia.com/
अवध से बाहर निकला यात्री...

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘गिरफ्तारी से आजादी’ अपने घोषणापत्र में लिखने वाली कॉन्ग्रेस ने गिरफ्तार करवाया एक आम नागरिक को… ‘न्याय’ सिर्फ एक परिवार तक सीमित होगा?

भिकू म्हात्रे ने 'कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो में मुस्लिम शब्द के इस्तेमाल' की बात जोर देकर कही, जिसे खुद कॉन्ग्रेस समर्थक नकार रहे थे।

‘कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो में मुस्लिम’ : सिर्फ इतना लिखने पर ‘भिकू म्हात्रे’ को कर्नाटक पुलिस ने गिरफ्तार किया, बोलने की आजादी का गला घोंट...

सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर 'भिकू म्हात्रे' नाम के फिक्शनल नाम से एक्स पर अपनी राय रखते हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो पर अपनी बात रखी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -