Saturday, July 20, 2024
Homeरिपोर्टमीडिया'कहते रवीश के चैनल से हूँ, तो ये हाल न होता': NDTV के पत्रकार...

‘कहते रवीश के चैनल से हूँ, तो ये हाल न होता’: NDTV के पत्रकार पर मुस्लिम भीड़ ने किया पथराव

"प्रिय दोस्त! श्रीनिवासन जैन शाहीन बाग पिटाई के वक्त आपने लिखा था मैं तो पत्रकार हूँ नहीं! लेकिन आप तो हैं! फिर CAA के ख़िलाफ़ प्रदर्शन कर रहे इन शांतिदूतों ने आप पर पत्थर क्यों बरसाएँ? हाँ, अगर आप उनसे कहते कि आप रवीश कुमार के चैनल से हैं तो आपका ये हाल नहीं होता!"

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के बाबरपुर-मौजपुर इलाके में भड़की हिंसा पर रिपोर्ट करने पहुँचे NDTV पत्रकार श्रीनिवासन जैन पर मुस्लिम भीड़ द्वारा पथराव किए जाने की घटना सामने आई है। न्यूज नेशन के कंसल्टिंग एडिटर दीपक चौरसिया ने इस घटना का विडियो शेयर किया है।

विडियो में श्रीनिवासन को रिपोर्टिंग करते देखा जा सकता है और ये भी कहते सुना जा सकता है कि उनपर पथराव हो रहा है। उनके मुताबिक दंगाई कैमरे में रिकॉर्ड होना नहीं चाहते थे। इसलिए कैमरा देखते ही चिल्लाने लगे और देखते ही देखते एनडीटीवी पत्रकार के ऊपर पत्थरबाजी होने लगी।

यह वीडियो देखकर हैरानी तो तब होती है, जब श्रीनिवासन ये कहते हैं कि जाफराबाद इलाके में कुछ अल्पसंख्यक समुदाय के लोग इकट्ठा हुए हैं और उनमें मीडिया के प्रति बहुत ज्यादा गुस्सा है। इसके बाद वो दंगाइयों को चिल्लाता देख उन्हें आश्वासन देते हैं कि वो उनका विडियो नहीं बना रहे, जबकि उनपर पत्थरबाजी शुरू हो चुकी होती है। फिर वो कैमरे को लेकर उलटी दिशा में चलना शुरू कर देते हैं जिससे पत्थरबाजी करने वाली भीड़ कैमरे में कैद नहीं होती।

सोचिए, पत्थरबाजी करने वाले इन अल्पसंख्यक दंगाइयों के प्रति एनडीटीवी का और उसके पत्रकारों का कितना उदार रवैया है कि घटनास्थल पर मौजूद होने के बाद भी वो उन्हें कैमरे में कैद नहीं करते। विडियो में श्रीनिवासन को कहते सुना जा सकता है कि यहाँ पर पत्थर आने शुरू हो गए हैं तो हम यहाँ पर विडियो नहीं बनाएँगे। हम कैमरा घुमाएँगे और दूसरी तरफ चलेंगे। हमें भीड़ को उत्तेजित नहीं करना।

गौरतलब है कि इसी मामले पर दीपक चौरसिया ने श्रीनिवासन का विडियो वीडियो शेयर करके उनपर तंज कसा है। उन्होंने याद दिलाया है कि जब उनपर शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों ने हमला किया था, तब श्रीनिवासन ने कहा था कि दीपक चौरसिया पत्रकार ही नहीं हैं।

दीपक चौरसिया ने ट्वीट किया है, “प्रिय दोस्त! श्रीनिवासन जैन शाहीन बाग पिटाई के वक्त आपने लिखा था मैं तो पत्रकार हूँ नहीं! लेकिन आप तो हैं! फिर CAA के ख़िलाफ़ प्रदर्शन कर रहे इन शांतिदूतों ने आप पर पत्थर क्यों बरसाएँ? हाँ, अगर आप उनसे कहते कि आप रवीश कुमार के चैनल से हैं तो आपका ये हाल नहीं होता!” बता दें, 24 जनवरी को शाहीन बाग में भीड़ ने चौरसिया पर हमला किया था। उस वक़्त मीडिया गिरोह के लोगों ने इस हमले को जस्टिफाई करने की कोशिश की थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsदिल्ली हिंसा एनडीटीवी, एनडीटीवी श्रीनिवासन जैन, एनडीटीवी रवीश कुमार, रवीश कुमार प्राइम टाइम, रवीश कुमार दिल्ली हिंसा, दीपक चौरसिया एनडीटीवी, NDTV के पत्रकार पर हमला, दिल्ली हिंसा में कितने मरे, दिल्ली दंगों में मरे, दिल्ली कितने हिंदू मरे, दिल्ली हाईकोर्ट, जस्टिस मुरलीधर, जस्टिस मुरलीधर का तबादला, दिल्ली हाई कोर्ट जस्टिस मुरलीधर, दिल्ली हाई कोर्ट कपिल मिश्रा, दिल्ली दंगों में आप की भूमिका, आप पार्षद ताहिर हुसैन, आप नेता ताहिर हुसैन, ताहिर हुसैन वीडियो, कपिल मिश्रा ताहिर हुसैन, अंकित शर्मा का भाई, आईबी कॉन्स्टेबल की हत्या, अंकित शर्मा की हत्या, चांदबाग अंकित शर्मा की हत्या, दिल्ली हिंसा विवेक, विवेक ड्रिल मशीन से छेद, विवेक जीटीबी अस्पताल, विवेक एक्सरे, दिल्ली हिंदू युवक की हत्या, दिल्ली विनोद की हत्या, दिल्ली ब्रहम्पुरी विनोद की हत्या, दिल्ली हिंसा अमित शाह, दिल्ली हिंसा केजरीवाल, दिल्ली हिंसा उपराज्यपाल, अमित शाह हाई लेवल मीटिंग, दिल्ली पुलिस, दिल्ली पुलिस रतनलाल, हेड कांस्टेबल रतनलाल, रतनलाल का परिवार, ट्रंप का भारत दौरा, ट्रंप मोदी, बिल क्लिंटन का भारत दौरा, छत्तीसिंह पुरा नरसंहार, दिल्ली हिंसा, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली, दिल्ली पुलिस, करावल नगर, जाफराबाद, मौजपुर, गोकलपुरी, शाहरुख, कांस्टेबल रतनलाल की मौत, दिल्ली में पथराव, दिल्ली में आगजनी, दिल्ली में फायरिंग, भजनपुरा, दिल्ली सीएए हिंसा
ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -