Saturday, April 13, 2024
Homeरिपोर्टमीडियासुधीर चौधरी को जिहाद पर रिपोर्ट करने पर आई पाक से धमकी, कहा- केरल...

सुधीर चौधरी को जिहाद पर रिपोर्ट करने पर आई पाक से धमकी, कहा- केरल में FIR होने में भी हमारा हाथ

धमकियों में कहा गया कि अगर सुधीर चौधरी जिहाद संबंधी खबरे दिखाना नहीं बंद करेंगे तो जैसे केरल में उनके ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज हुई है। वैसे ही अन्य जगहों में भी उनके ख़िलाफ़ दर्ज होगी। धमकी देने वाले ने दावा किया कि सुधीर चौधरी के खिलाफ केरल में जो मामला दर्ज हुआ है, उसे उसकी टीम ने करवाया है।

जी न्यूज के एडिटर इन चीफ सुधीर चौधरी को अपने प्रोग्राम में जिहाद का खुलासा करने के कारण पाकिस्तान से भी धमकियाँ आने लगी हैं। अभी तक ये सिलसिला सिर्फ़ भारत के कट्टरपंथियों और सेकुलरों द्वारा चलाया जा रहा था। मगर, अब व्हॉट्सअप कॉल के जरिए पाकिस्तान भी सुधीर चौधरी को धमकी देने लगा है

इस बात की सूचना जी न्यूज ने खुद अपनी रिपोर्ट के जरिए दी है। रिपोर्ट में बताया गया कि सुधीर चौधरी को अपने शो में जिहाद संबंधी न्यूज दिखाने से रोकने के लिए पाकिस्तान से धमकी मिली। जिसके बाद उन्होंने, इस मामले के संबंध में शिकायत दर्ज करवाई और दिल्ली समेत गौतमबुद्ध नगर में नंबर्स की डिटेल भी भेजी।

इन धमकियों में जी न्यूज के एंकर को कहा गया कि अगर वे जिहाद की खबरें दिखाना बंद नहीं करते तो फिर उन्हें परिणामों को भुगतना पड़ सकता है।

रिपोर्ट के अनुसार, सुधीर चौधरी को ये धमकी व्हॉट्सअप कॉल के जरिए मिली। इस कॉल के बाद कुछ भारत विरोधी तस्वीरें और मैसेज भी उन्हें भेजे गए। बाद में अन्य पाकिस्तानी नंबरों से धमकियाँ आनी भी शुरू हुई। साथ ही तरह-तरह के घृणा भरे मैसेज भी उनके लिए ट्विटर पर पोस्ट किए जाने लगे।

कुछ कॉलर्स ने सुधीर को अभिनंदन जैसे परिणाम भुगतने की धमकी दी। जबकि कुछ ने बलूचिस्तान के मुद्दे पर पत्रकार को धमकाया और कहा कि उन्हें (भारत को) इसका सपना देखना छोड़ देना चाहिए, क्योंकि वे (पाकिस्तान) कश्मीर को भी भारत से छीन लेंगे।

हालाँकि, बातचीत के दौरान जब पत्रकार ने उनसे उनकी पहचान पूछी कि क्या वे पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी स्पाई से हैं? तो वे लोग इस सवाल का जवाब देने से कतराने लगे और बस यही बोला कि उनके पास सुधीर चौधरी से संबंधी सब जानकारी है।

धमकियों में कहा गया कि अगर सुधीर चौधरी जिहाद संबंधी खबरे दिखाना नहीं बंद करेंगे तो जैसे केरल में उनके ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज हुई है। वैसे ही अन्य जगहों में भी उनके ख़िलाफ़ दर्ज होगी। धमकी देने वाले ने दावा किया कि सुधीर चौधरी के खिलाफ केरल में जो मामला दर्ज हुआ है, उसे उसकी टीम ने करवाया है।

इसके अलावा उनमें से किसी ने ये भी कहा कि जी न्यूज की रिपोर्टिंग कट्टरपंथियों को नहीं रोक पाएगी, क्योंकि संयुक्त राज्य अमेरिका भी अब तालिबान से बात कर रहा है और अफगानिस्तान में युद्ध को समाप्त करने में पाकिस्तान की मदद माँग रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले 7 मई को ज़ी न्यूज़ के एडिटर इन चीफ सुधीर चौधरी के खिलाफ केरल पुलिस ने गैरजमानती धाराओं के अंतर्गत मामला दर्ज किया था। इस कार्रवाई के पीछे का कारण 11 मार्च को ब्रॉडकॉस्ट हुए DNA प्रोग्राम को बताया गया था। उन पर आरोप लगा था कि अपने शो में उन्होंने इस्लाम को अपमानित किया है। इसलिए उनपर ये एफआईआर दर्ज हुई।

बता दें, 11 मार्च को सुधीर चौधरी के डीएनए प्रोग्राम में एक जिहाद चार्ट दिखाया गया था। जिसमें उन्होंने जिहाद के अलग-अलग रूप बताए थे। उन्होंने इस चार्ट के जरिए समझाने की कोशिश की थी हार्ड जिहाद और सॉफ्ट जिहाद क्या होता है।

उन्होंने बताया था कि हार्ड जिहाद में जनसंख्या जिहाद, लव जिहाद, जमीन जिहाद, शिक्षा जिहाद, विक्टिम जिहाद और सीधा जिहाद आता है। जबकि सॉफ्ट जिहाद में आर्थिक जिहाद, ऐतिहासिक जिहाद, मीडिया जिहाद, फिल्में व गानों का जिहाद और सेकुलर जिहाद आता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

BJP की तीसरी बार ‘पूर्ण बहुमत की सरकार’: ‘राम मंदिर और मोदी की गारंटी’ सबसे बड़ा फैक्टर, पीएम का आभामंडल बरकार, सर्वे में कहीं...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी तीसरी बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनाती दिख रही है। नए सर्वे में भी कुछ ऐसे ही आँकड़े निकलकर सामने आए हैं।

‘राष्ट्रपति आदिवासी हैं, इसलिए राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा में नहीं बुलाया’: लोकसभा चुनाव 2024 में राहुल गाँधी ने फिर किया झूठा दावा

राष्ट्रपति मुर्मू को राम मंदिर ट्रस्ट का प्रतिनिधित्व करने वाले एक प्रतिनिधिमंडल ने अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए औपचारिक रूप से आमंत्रित किया गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe