Tuesday, July 23, 2024
Homeरिपोर्टमीडियाये जो नया जेनरेशन है… बेटे ने की PM मोदी की तारीफ, राजदीप सरदेसाई...

ये जो नया जेनरेशन है… बेटे ने की PM मोदी की तारीफ, राजदीप सरदेसाई को नहीं हुआ ‘हजम’: तीसरी बार मोदी सरकार पर हो रही थी चर्चा

पत्रकार सौरभ द्विवेदी भी मौजूद थे। राजदीप सरदेसाई ने जुलाई 2020 में एक पुराने वाकये का जिक्र करते हुए बताया था कि कैसे उन्होंने नरेंद्र मोदी का प्रोग्राम रद्द कर दिया था।

पत्रकार राजदीप सरदेसाई अक्सर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के खिलाफ माहौल बनाने के लिए जाने जाते हैं। लेकिन, अब पता चला है कि खुद उनका बेटा ही मोदी फैन है। राजदीप सरदेसाई ने खुद ये बात एक चर्चा के दौरान बताई है। उन्होंने बताया कि उनका बेटा जयपुर गया था, वहाँ से लौटने के बाद उसने फोरलेन हाइवे की तारीफ की। बकौल राजदीप सरदेसाई, उनके बेटे ने कहा, “मोदी जी को देखिए, उन्होंने सड़कों को बदल कर रख दिया है।” राजदीप सरदेसाई ने ‘आज तक’ के सर्वे पर चर्चा के दौरान ये बातें कही, जिसमें भाजपा को 304 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है।

राजदीप सरदेसाई के अनुसार, उन्होंने अपने बेटे को जवाब दिया कि मोदी जी तो हैं, लेकिन नितिन गडकरी केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री हैं, उन्होंने भी किया है। इस पर राजदीप सरदेसाई के बेटे ने कहा कि उसे ये पता है, लेकिन मोदीजी हैं। सोशल मीडिया पर लोग इसे ‘राजदीप सरदेसाई का बेटा निकला मोदी भक्त’ लिख कर शेयर कर रहे हैं। राजदीप सरदेसाई की पत्नी सागरिका घोष भी भाजपा और पीएम मोदी के खिलाफ अक्सर ट्वीट करती रहती हैं। राजदीप सरदेसाई इस दौरान ‘नए जनरेशन’ को लेकर परेशान दिखे।

इस पर सौरभ द्विवेदी ने कहा कि राजदीप सरदेसाई के घर में ही मोदी समर्थक है। राजदीप सरदेसाई ने नितिन गडकरी पर चर्चा के दौरान ये बताया, जो ‘मूड ऑफ द नेशन सर्वे’ में पीएम मोदी के उत्तराधिकारी के रूप में 16% लोगों के समर्थन के साथ तीसरे नंबर पर हैं। पहले नंबर पर 29% समर्थन के साथ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और 25% के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हैं। वीडियो में 1:52 घंटे के बाद इसे देखा जा सकता है।

राजदीप सरदेसाई ने ‘द लल्लनटॉप’ के शो ‘नेता नगरी’ में हिस्सा लेते हुए ये बात कही। इसमें पत्रकार सौरभ द्विवेदी भी मौजूद थे। राजदीप सरदेसाई ने जुलाई 2020 में एक पुराने वाकये का जिक्र करते हुए बताया था कि कैसे उन्होंने नरेंद्र मोदी का प्रोग्राम रद्द कर दिया था। उन्होंने कहा था, “इंडो यूएस समिट में पीएम मोदी अंग्रेजी में बात कर रहे हैं। यह इस बात का सबूत है कि वह कई सालों पहले मुझसे किए गए एक वादे पर खरे उतरे हैं! मैंने एक बार प्रोग्राम में आखिरी समय में उनकी जगह प्रमोद महाजन को लिया था क्योंकि महाजन बेहतर अंग्रेजी बोलते थे।”

बकौल राजदीप सरदेसाई, फिर नरेंद्र मोदी ने उनसे कहा था – “एक दिन मैं अंग्रेजी में भाषण दूँगा।” दिल्ली में AAP की जीत पर राजदीप सरदेसाई ने स्टूडियो में डांस किया था। राजदीप सरदेसाई ने स्वीकार किया था कि वह व्यक्तिगत रूप से मानते थे कि गोधरा नरसंहार के बाद हुए 2002 के दंगों के लिए मोदी जिम्मेदार नहीं थे। इसके बावजूद वो गुजरात दंगों को लेकर प्रोपेगंडा चलाते रहे हैं। किसान आंदोलन के दौरान भी राजदीप सरदेसाई ने पीएम मोदी की आलोचना की थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -