Saturday, June 15, 2024
Homeरिपोर्टमीडियारिपब्लिक टीवी के खिलाफ बड़ी रणनीति तैयार, कोई नहीं रोक सकता बैन होने से:...

रिपब्लिक टीवी के खिलाफ बड़ी रणनीति तैयार, कोई नहीं रोक सकता बैन होने से: कॉन्ग्रेस नेता ने स्टिंग में किया खुलासा

इस स्टिंग में देख सकते हैं कि शुक्ला पहले सीएम ठाकरे की पैरवी करते हैं और फिर दावा करते हैं कि रिपब्लिक टीवी बैन होगा। इसे तय कर लीजिए। उसको बैन होने से कोई नहीं बचा सकता है। इसके बाद स्टिंग करने वाली महिला साफ शब्दों में पूछती है कि मतलब ये सब सरकार की ओर से चल रहा है, तो व्यक्ति कहता है -"हाँ।"

महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस से खींचतान के बीच रिपब्लिक टीवी कॉन्ग्रेस हेडक्वार्टर के भीतर से एक स्टिंग लेकर आया है। इस स्टिंग को लेकर मीडिया चैनल का दावा है कि इससे मालूम पड़ रहा है कि महाआघाड़ी सरकार ने रिपब्लिक टीवी को सुनियोजित ढंग से टारगेट किया।

उन्होंने इस स्टिंग के आधार पर अभी तक हुई कार्रवाई को राजनीतिक षड्यंत्र बताया। यह वीडियो कॉन्ग्रेस हेडक्वार्टर के भीतर की बताई जा रही है। इसमें कॉन्ग्रेस नेता राघवेंद्र शुक्ला बताते नजर आ रहे हैं कि कैसे रिपब्लिक टीवी को बंद करने के प्रयास उद्धव सरकार की ओर से किए जा रहे हैं।

इस स्टिंग में देख सकते हैं कि शुक्ला पहले सीएम ठाकरे की पैरवी करते हैं और फिर दावा करते हैं कि रिपब्लिक टीवी बैन होगा। इसे तय कर लीजिए। उसको बैन होने से कोई नहीं बचा सकता है। इसके बाद स्टिंग करने वाली महिला साफ शब्दों में पूछती है कि मतलब ये सब सरकार की ओर से चल रहा है, तो व्यक्ति कहता है -“हाँ।”

फिर कॉन्ग्रेस नेता बताते है कि उद्धव ठाकरे ने रिपब्लिक टीवी के पीछे पूरी एक टीम लगाई है। उन्हें निर्देश दिए गए हैं कि उन्हें कोई दूसरा काम नही करना है। उसे समझ आना चाहिए कि वो क्या बोलता है।

फिर स्टिंगर पूछती है कि ये सब महाराष्ट्र सरकार की ओर से हो रहा है या पुलिस की ओर से इस पर शुक्ला कहते हैं कि ये सरकार की ओर से चल रहा है। इसके लिए पूरी टीम तैयार है। इसमें आईएसएस, आईपीएस समेत पूरा महकमा है। टीम काम पर लग चुकी है। जैसे अभी टीआरपी का मामला आया। अभी एक मामला दो दिन बाद भी आ जाएगा।

जब आगे स्ट्रिंगर रिपब्लिक टीवी के पीछे लगी टीम के संबंध किस ब्यूरो से है पूछती हैं तो राघवेंद्र जवाब देते हैं कि बात ब्यूरोक्रेसी की नहीं है। प्रशासन में ही बहुत टीमें होती हैं। वह कहते हैं कि इन टीमों में पुलिस को लेकर वह कुछ नहीं कह सकते, मगर ये पक्का है कि कोई न कोई शामिल है।

राघवेंद्र अपनी वीडियो में बताते हैं कि अर्नब गोस्वामी को उनके स्वभाव के कारण टारगेट किया जा रहा है। वह कहते हैं कि अर्नब किसी को कुछ भी समझने की कोशिश नहीं करते। वह (उद्धव ठाकरे) आज सीएम हैं। कुछ तो काबिलियत होगी कि वह मुख्यमंत्री बने। इसके बाद रिपब्लिक भारत के ख़िलाफ़ रणनीति का खुलासा करते हुए शुक्ला कहते हैं कि रिपब्लिक टीवी प्रतिबंधित तो होगा।

बता दें, इस खुलासे के बाद से लगातार कई क्षेत्रों के दिग्गज महाआघाड़ी सरकार की निंदा कर रहे हैं। धर्मगुरू आर्चाय तुषार भोसले ने कहा, “रिपब्लिक मीडिया के खिलाफ सोनिया सेना और उद्धव ठाकरे द्वारा जो साजिश की जा रही है उसकी महाराष्ट का संत समाज निंदा करता है।”

वहीं प्रदीप भंडारी कहते हैं, “अगर किसी मीडिया चैनल को बंद करने की साजिश सरकार द्वारा खुले तौर पर की जा रही है, तो सुप्रीम कोर्ट को कार्रवाई करनी चाहिए।”

सुप्रीम कोर्ट के वकील केके मनन कहते हैं, “मैंने इस तरह का अत्याचार कभी नहीं देखा, बता दें कि देश के वकील इसके खिलाफ खड़े हैं।”

पत्रकार शाजिया इल्मी कहती हैं, “वाक-अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर अभियान चलाने वालों में से कोई नहीं इस पर बोल रहा, मैं अपने साथी पत्रकारों पर शर्मिंदा हूँ।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कहीं दर्जनों परिवारों को करना पड़ा पलायन, कहीं सिर मर मार दी गोली… बंगाल में राजनीतिक हिंसा की जाँच के लिए BJP ने बनाई...

लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के एक दिन बाद 5 जून को पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों से चुनाव-पश्चात हिंसा की कई घटनाएँ सामने आईं।

‘हिन्दुओं गाड़ियों से रौंदो, बम से उड़ाओ, चाकू से उनके पेट चीरो’: ISIS की पत्रिका में हिंसक जिहाद का एलान, PM मोदी और राम...

आतंकी संगठन ISIS समर्थित वॉयस ऑफ़ खुरासान पत्रिका ने दुनिया भर के मुस्लिमों को भारत में हिन्दुओं के नरसंहार के लिए उकसाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -