Monday, November 28, 2022
Homeरिपोर्टमीडियारोहिणी सिंह को मिला 'फ्लैट' जवाब, रुबिका लियाकत को लोगों ने कहा - 'सरे...

रोहिणी सिंह को मिला ‘फ्लैट’ जवाब, रुबिका लियाकत को लोगों ने कहा – ‘सरे आम बेइज्जती मत कीजिए’

“इस महिला को मैं वैसे तो जानती नहीं लेकिन जब भी यूपी की एक क्षेत्रीय पार्टी का ज़िक्र करती हूँ तो बेचैन होकर अनायास ही मेरे टाइम लाइन पर कूद पड़ती हैं...बड़ा ही ‘फ़्लैट’ सा संयोग है...”

दो भिन्न विचारधारओं का आपस में टकराना एक सामान्य बात है, लेकिन इस टकराव के कारण पैदा होने वाला विवाद अक्सर चर्चा का कारण बन जाता है। कुछ ऐसा ही ट्विटर पर दो महिला पत्रकारों के बीच हुआ। इनके नाम रुबिका लियाकत और रोहिणी सिंह हैं। 

रुबिका जहाँ टीवी न्यूज जगत का मशहूर नाम हैं और एबीपी न्यूज की एंकर हैं, वहीं डिजिटल मीडिया की द वायर की पत्रकार रोहिणी सिंह वामपंथी विचारधारा वाले लोगों की पहली पसंद हैं। रुबिका के पास ट्विटर पर 29 लाख फॉलोवर्स हैं और रोहिणी को फॉलो करने वाले भी 5 लाख से ऊपर हैं।

ऐसे में मंगलवार को रोहिणी सिंह ने रुबिका लियाकत को ट्विटर पर घेरने का प्रयास किया। किसान आंदोलन पर रुबिका के एक शो की 9 मिनट की वीडियो शेयर की। इस वीडियो में लियाकत समझा रही थीं कि आखिर सरकार किसानों की माँग मानने से पहले विचार क्यों कर रही है।

उन्होंने इस बिंदु को समझाने के लिए अपने वीडियो में कई तर्क दिए। इसके बाद उन्होंने एक रिपोर्ट दिखाई, जिसमें MSP के फायदे और नुकसान बताए गए। इसमें कई जानकारों ने अपनी राय भी दी।

इसी वीडियो को शेयर करके रोहिणी सिंह ने लिखा

“जब पत्रकार सरकार द्वारा लिखी गई ‘प्रेस रिलीज’ पढ़ कर सुनाने लगें, तब लोकतंत्र कमजोर होना लाजमी है। यहाँ रुबिका लियाकत बता रही हैं कि किसानों को MSP देने से अर्थव्यवस्था की कमर टूट जाएगी। पत्रकारिता के भेष में बैठे ‘पार्टी प्रवक्ताओं’ को पहचानिए।”

रोहिणी के इस ट्वीट पर कई लोगों ने उनका समर्थन किया और रुबिका को कोसने के लिए कई प्रतिक्रिया आती गईं। यूजर्स के बीच बहुत तर्क-वितर्क हुए। लोगों ने रुबिका लियाकत पर अभद्र टिप्पणियाँ तक कर डालीं। लेकिन थोड़ी देर बाद रुबिका ने रोहिणी के आरोपों पर अपना जवाब दिया।

रुबिका लियाकत ने रोहिणी सिंह का ट्वीट रीट्वीट करते हुए लिखा,

“इस महिला को मैं वैसे तो जानती नहीं लेकिन जब भी यूपी की एक क्षेत्रीय पार्टी का ज़िक्र करती हूँ तो बेचैन होकर अनायास ही मेरे टाइम लाइन पर कूद पड़ती हैं…बड़ा ही ‘फ़्लैट’ सा संयोग है…”

रुबिका के इस ट्वीट के बाद कई लोग इसे रोहिणी सिंह की खुलेआम बेइज्जती बता रहे हैं। ट्विटर के सक्रिय अकाउंट्स में से एक द स्किन डॉक्टर लिखते हैं, “ऐसे सरे आम बेइज्ज़ती तो मत कीजिए। कहीं रोष व्यक्त करने के लिए फ्लैट वापसी का ऐलान ना कर दे। आजकल वैसे ही अवार्ड वापसी का सीज़न चल रहा है।”

यहाँ बता दें कि रोहिणी सिंह से जुड़ा फ्लैट का किस्सा अभी हाल में दीपक चौरसिया द्वारा उठाया गया था। रोहिणी सिंह को लेकर दीपक चौरसिया ने तंज कसा था कि उन्हें किसी सरकार के प्रति अनुकूल ख़बरें लिखने के लिए 3BHK अपार्टमेंट नहीं दिया गया। ऐसा उन्होंने इसलिए लिखा था क्योंकि उत्तर प्रदेश चुनावों से पहले, यह अफ़वाह थी कि रोहिणी सिंह को समाजवादी पार्टी द्वारा 2BHK अपार्टमेंट प्राप्त हुआ था। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चीन के कई शहरों में फैला प्रदर्शन, सड़कों पर उतरे छात्र: शी जिनपिंग के खिलाफ नारेबाजी, पत्रकार को पुलिस ने पीटा

चीन में शी जिनपिंग के खिलाफ होता विरोध प्रदर्शन देश के कई शहरों में फैल गया है। लोग उस इलाके तक आ गए हैं जहाँ सबसे ज्यादा एबेंसी हैं।

‘बच्चों की हत्यारी सरकार’: हिजाब विरोधी प्रदर्शन के बीच ईरान ने अपने सर्वोच्च नेता की भांजी को ही गिरफ्तार किया, UN को भी सुनाई...

ईरान में चल रहे हिजाब विरोधी प्रदर्शन के बीच पुलिस ने सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई की भांजी फरीद मोरादखानी को गिरफ्तार किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,794FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe