Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाज'मैं अब जन्नत में हूँ', पुलवामा आतंकी का वीडियो; ट्विटर पर कॉन्ग्रेस की शर्मनाक...

‘मैं अब जन्नत में हूँ’, पुलवामा आतंकी का वीडियो; ट्विटर पर कॉन्ग्रेस की शर्मनाक बयानबाजी चालू

जैश के आतंकी आदिल अहमद उर्फ वकास कमांडो ने आज दोपहर 3:15 बजे यह फिदायीन हमला किया। ये वही आतंकी है जो मई 2018 में सेना के एनकाउंटर में बच निकला था।

पिछले लगभग 2 सालों से भारत आतंकी हमलों से खुद को सुरक्षित समझ रहा था, लेकिन बृहस्पतिवार (फरवरी 14, 2019) शाम को आतंकियों ने कश्मीर के पुलवामा में फिदायीन हमला कर दिया। मीडिया के अनुसार आतंकवादियों की इस कायराना हरकत में अब तक CRPF के लगभग 40 जवानों के शहीद होने की खबर आ रही हैं। यह हमला सितंबर, 2016 में उरी में हुए आतंकी हमले से भी बड़ा हमला है। उस समय आतंकियों ने राष्ट्रीय राइफल्स के कैंप पर अटैक किया था, जिसमें मौके पर ही 18 जवान शहीद हो गए थे।

इस घटना के बाद एक ओर जहाँ कुछ लोगों ने शहीदों को लेकर अपनी संवेदना और नाराजगी व्यक्त की है, वहीं दूसरी तरफ मीडिया और राजनीतिक दल इसे सरकार को घेरने का एक अच्छा मौका समझकर मैदान में उतर चुके हैं। सेना पर हुए इस आतंकी हमले पर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएँ देखने को मिली।

पुलवामा में CRPF के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर इस हमले की निंदा की है। पीएम ने कहा, “पुलवामा में CRPF के जवानों पर हुआ हमला बेहद घृणित है। मैं इस कायराना हमले की कठोर निंदा करता हूँ। हमले में शहीद हुए जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। पूरा देश शहीदों के परिवार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। प्रार्थना करता हूँ कि घायल जल्द ठीक हों।”

वहीं, विपक्ष ने इस मौके को भुनाते हुए हमले में मारे गए जवानों पर राजनीति भी शुरू कर दी है। कॉन्ग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने अपने ट्वीट में लिखा है, “उरी, पठानकोट, पुलवामा… आतंकी हमलों की लिस्ट और राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता जारी है और मोदी सरकार चुप है।”

इसके बाद मीडिया से बातचीत में रणदीप सुरजेवाला ने कहा, “मोदी सरकार में 5 साल में यह 17वां बड़ा हमला है। उरी और पठानकोट इससे पहले के कई बड़े उदाहरण हैं। हमारी सरकार पाकिस्तान को 56 इंची सीना नहीं दिखा सकी है। जवानों की शहादत पर अब तक पीएम मोदी ने दो शब्द तक नहीं कहे। हम मोदी जी से पूछना चाहते हैं कि उनका 56 इंची सीना कब इस हमले का जवाब देगा?”  हैरानी की बात है कि ऐसे समय में जब सभी लोगों को
आतंकवाद से लड़ने के लिए सरकार के साथ खड़ा होकर साथ होना चाहिए, मीडिया गिरोह और विपक्ष राजनीतिक लाभ के लिए सरकार पर अपनी भड़ास निकालने का प्रयास कर रहा है।

विदेश राज्य मंत्री और पूर्व सेनाध्यक्ष वीके सिंह ने कहा, “एक सैनिक और देश का नागरिक होने के नाते मेरा खून ऐसे कायराना हमलों पर खौलता है। पुलवामा हमले में CRPF जवानों की जान गई है। मैं उनकी शहादत को सलाम करता हूँ और वादा करता हूँ कि उनके खून की एक-एक बूंद का बदला लिया जाएगा।”

सर्जिकल स्ट्राइक को हमेशा संदेहास्पद बताते रहने वाली मीडिया के समुदाय विशेष की पत्रकार सागरिका घोष ने अपने ट्वीट में लिखा है कि देश में CRPF और उरी जैसी घटनाएँ हो रही हैं और दिशाहीन सरकार तथाकथित सर्जिकल स्ट्राइक पर खुश होती है और धार्मिक प्रतीकों के साथ नाटक करती है। इसके जवाब में ट्विटर यूज़र्स ने लिखा है कि सरकार दुबारा सर्जिकल स्ट्राइक करेगी और तुम फिर भी इसे झूठा साबित करने के पूरे प्रयास करते रहोगे।

अरुण जेटली, वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर के साथ ही अन्य लोगों ने भी ट्वीट कर इस आतंकी घटना पर अपनी प्रतिक्रियाएँ जाहिर की हैं।

जैश-ए-मोहम्मद ने ली जिम्मेदारी, आतंकी का वीडियो वायरल

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। बताया जा रहा है कि आदिल अहमद डार नाम के आतंकी ने इस काफिले पर हमले की साजिश रची थी। जैश के आतंकी आदिल अहमद उर्फ वकास कमांडो ने आज दोपहर 3:15 बजे यह फिदायीन हमला किया। ये वही आतंकी है जो मई 2018 में सेना के एनकाउंटर में बच निकला था। इसी ने विस्फोटक से भरी कार जवानों की बस से टकराई। जैसे ही सीआरपीएफ का काफिला लेथपोरा से गुजरा, आतंकी ने अपनी गाड़ी जवानों से भरी बस से टकरा दी।

इस हमले के बाद जैश-ए-मोहम्‍मद ने आदिल डार का एक वीडियो जारी किया। कहा जा रहा है कि इस वीडियो कोआत्‍मघाती हमले के पहले ही शूट किया गया था। इस वीडियो में आदिल के पीछे जैश-ए-मोहम्‍मद का बैनर दिख रहा है। इसमें आतंकी डार तमाम हथियारों से लेस है। इस हमले के बाद जैश के प्रवक्‍ता मोहम्‍मद हसन ने दावा किया है कि इस हमले में सेना के कई वाहन नष्‍ट कर दिए गए हैं। डार ने इस वीडियो में ऐलान करते हुए सरकार के प्रति अपनी नफरत को दिखाया है। इसमें उसने बाबरी मस्‍ज‍िद के मुद्दे को भी उठाया है, इस वीडियो से साफ है कि इस हमले से पहले उसका ब्रेनवॉश किस हद तक किया गया था।

वीडियो में आतंकी डार कह रहा है कि जब तक यह वीडियो लोगों तक पहुँचेगा वो जन्नत पहुँच चुका होगा। उसने कहा है कि दक्षिण कश्मीर के लोग कश्मीर के लिए भारत से लड़ रहे हैं, अब मध्य कश्मीर और जम्मू को भी इस लड़ाई में उतर जाना चाहिए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,543FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe