Sunday, August 1, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षा₹2500 करोड़ की 354 kg हेरोइन जब्त: अफगान-Pak-पंजाब तक कनेक्शन - नार्को आतंकवाद एंगल...

₹2500 करोड़ की 354 kg हेरोइन जब्त: अफगान-Pak-पंजाब तक कनेक्शन – नार्को आतंकवाद एंगल की जाँच

रिजवान कश्मीरी एक अफगानी महिला ईशा खान के अंडर काम कर रहा था, वो भारत छोड़कर अफगानिस्तान जा चुकी है। ईशा खान ने ही रिजवान को जालंधर के गुरप्रीत सिंह और गुरजोत सिंह से संपर्क करने के लिए कहा था।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सबसे बड़े ड्रग नेक्सस का खुलासा करते हुए चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 354 किलोग्राम हेरोइन बरामद की गई है। अधिकारियों ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में इस हेरोइन की कीमत लगभग 2500 करोड़ रुपए से भी अधिक है। गिरफ्तार किए गए आरोपितों में से एक अफगानिस्तान, एक दिल्ली और दो पंजाब के रहने वाले हैं। दिल्ली पुलिस को अपने विश्वसनीय सूत्र से मिली जानकारी के बाद यह कार्रवाई की गई।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद सिंह कुशवाह ने बताया कि सोमवार (05 जुलाई 2021) को यह जानकारी मिली कि दक्षिण दिल्ली के एक इलाके में एक व्यक्ति नशीले पदार्थ की डिलीवरी करने वाला है। जानकारी मिलने के बाद आरोपित को पकड़ने के लिए पूरी तैयारी की गई और जब आरोपित 1 किलोग्राम के हेरोइन की डिलीवरी करने के लिए आया तो उसे गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपित रिजवान कश्मीरी ने बताया कि वह एक अफगानी महिला ईशा खान के अंडर काम कर रहा था जो कि भारत छोड़कर अफगानिस्तान जा चुकी है।

रिजवान ने पुलिस को बताया कि ईशा ने ही उसे जालंधर, पंजाब के रहने वाले गुरप्रीत सिंह और गुरजोत सिंह से संपर्क करने के लिए कहा था। दोनों ही हरियाणा के फरीदाबाद से ड्रग रैकेट चला रहे थे। रिजवान से प्राप्त जानकारी के बाद गुरप्रीत और गुरजोत को गिरफ्तार कर लिया गया। दोनों गिरफ्तार आरोपितों से 166 किलोग्राम और 115 किलोग्राम हेरोइन बरामद हुआ जो दो कारों में रखा गया था। बाद में पुलिस ने दोनों आरोपितों के किराए के घर से 70 किलोग्राम हेरोइन भी बरामद किया।

रिजवान के द्वारा ही दी गई सूचना के आधार पर पुलिस ने गुरुग्राम से अफगानी नागरिक हजरत अली को गिरफ्तार किया, जिसके पास से 2 किग्रा हेरोइन बरामद हुआ। डीसीपी सिंह के अनुसार आरोपितों से 100 किग्रा केमिकल भी बरामद किया गया है, जिसका उच्च क्वालिटी वाले हेरोइन के निर्माण में किया जाता है।

यह संभावना जताई जा रही है कि यह मामला नार्को टेररिज्म से जुड़ा हुआ हो सकता है और इसकी जाँच भी इसी एंगल के आधार पर भी की जा रही है। साथ ही इस पूरे ड्रग नेक्सस के तार पाकिस्तान से जुड़े होने की संभावना भी है।

दिल्ली पॉलिक के मुताबिक यह ऑपरेशन कई महीनों से चल रहा था। हेरोइन की यह खेप कंटेनर्स में छुपाकर समुद्र के रास्ते मुंबई और फिर दिल्ली लाई गई थी। इसे मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में स्थित किसी स्थान पर केमिकल के उपयोग से और भी बेहतर क्वालिटी का बनाया जाना था और अंततः यह हेरोइन पंजाब लाया जाता।

फरीदाबाद में इस हेरोइन को छुपाने के लिए किराए का मकान लिया गया था। इस पूरे मामले में पाकिस्तान से पैसों की सप्लाई के सबूत भी मिले हैं। इसी साल मई में 125 किलोग्राम हेरोइन की खेप के साथ दो अफ़गान नागरिकों को गिरफ्तार किया गए था, जिसके बाद दिल्ली पुलिस को लगातार इस ड्रग नेक्सस की जानकारी मिल रही थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गिरफ्तार आरोपित इस ड्रग रैकेट के लगा-अलग समूहों से संबंध रखते हैं। इस पूरे ड्रग रैकेट के तार भारत के पंजाब, जम्मू और कश्मीर, राजस्थान, हरियाणा और अन्य कई राज्यों समेत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी जुड़े हुए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ममता बनर्जी महान महिला’ – CPI(M) के दिवंगत नेता की बेटी ने लिखा लेख, ‘शर्मिंदा’ पार्टी करेगी कार्रवाई

माकपा नेताओं ने कहा ​कि ममता बनर्जी पर अजंता बिस्वास का लेख छपने के बाद से वे लोग बेहद शर्मिंदा महसूस कर रहे हैं।

‘मस्जिद के सामने जुलूस निकलेगा, बाजा भी बजेगा’: जानिए कैसे बाल गंगाधर तिलक ने मुस्लिम दंगाइयों को सिखाया था सबक

हिन्दू-मुस्लिम दंगे 19वीं शताब्दी के अंत तक महाराष्ट्र में एकदम आम हो गए थे। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक इससे कैसे निपटे, आइए बताते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,404FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe