Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षापाकिस्तान अब भी कर रहा आतंकी एजेंडे पर काम, सीजफायर तोड़ने और आतंक फैलाने...

पाकिस्तान अब भी कर रहा आतंकी एजेंडे पर काम, सीजफायर तोड़ने और आतंक फैलाने पर देंगे करारा जवाब: सेना प्रमुख

भारत को अपने उन पाँच सुरक्षाकर्मियों पर गर्व है, जिन्होंने आम नागरिकों की जान बचाते हुए अपना सर्वोच्च बलिदान किया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जब तक राज्य द्वारा प्रायोजित आतंकवाद की अपनी नीति नहीं छोड़ता, हम उचित और सटीक जवाब देना जारी रखेंगे।

जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों का सामना करते हुए वीरगति को प्राप्त हुए देश के पाँचों जवानों को सेना प्रमुख ने नमन करते हुए पाकिस्तान पर निशाना साधा है। सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने कहा कि पाकिस्तान की दिलचस्पी देश में कोरोनो के फैलते संक्रमण को रोकने में नहीं बल्कि वह अब भी भारत के खिलाफ आतंकी एजेंडे पर काम कर रहा है।

थल सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने कहा कि भारत को अपने उन पाँच सुरक्षाकर्मियों पर गर्व है, जिन्होंने आम नागरिकों की जान बचाते हुए अपना सर्वोच्च बलिदान किया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जब तक राज्य द्वारा प्रायोजित आतंकवाद की अपनी नीति नहीं छोड़ता, हम उचित और सटीक जवाब देना जारी रखेंगे।

सेना प्रमुख ने कहा कि पाक की ओर से लगातार भारत में घुसपैठ की कोशिश दर्शाती है कि पाकिस्तान की दिलचस्पी देश में लगातार फैलते कोरोना संक्रमण को समाप्त करने में नहीं है। पाकिस्तान अब भी भारत में आतंकवादियों को धकेलने के अपने अदूरदर्शी और तुच्छ आतंकी एजेंडे पर काम कर रहा है।

थलसेना प्रमुख ने कहा कि कमांडिंग ऑफिसर कर्नल आशुतोष शर्मा ने आगे बढ़कर नेतृत्व किया और सुनिश्चित किया कि ऑपरेशन के दौरान सहायकों का नुकसान नहीं हो। मैं अपनी सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के बहादुर जवानों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना और आभार व्यक्त करता हूँ।

संघर्ष विराम उल्लंघन और आतंकवादी गतिविधियों पर सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने कहा कि भारतीय सेना संघर्ष विराम का उल्लंघन और आतंकवाद का समर्थन करने वाले सभी कृत्यों का करारा जवाब देगी, क्योंकि क्षेत्र में शांति बहाल करने की जिम्मेदारी पाकिस्तान पर है। उन्होंने कहा कि पाक समर्थित आतंकवादी कश्मीर में निर्दोष नागरिकों को निशाना बना रहे हैं ताकि वे उनकी आजादी की प्रोपगेंडा को फैला सके।

बता दें कि कल 3 मई को उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में स्थित हंदवाड़ा में आतंकियों के साथ एनकाउंटर के दौरान एक मेजर और एक कर्नल समेत 5 भारतीय जवान वीरगति को प्राप्त हुए थे। इन सभी वीर सपूतों ने एक इमारत में छिपे आतंकियों से लोहा लेने के लिए बाहर से हमला करने के बजाय अंदर जाकर कार्रवाई करना मुनासिब समझा था, ताकि नागरिकों की जानमाल की क्षति न हो। इस एनकाउंटर में दो आतंकी मारे गए थे।

वहीं पाँच जवानों के वीरगति को प्राप्त होने पर रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया था। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया था, “हंदवाड़ा में शहीद हुए हमारे साहसी सैनिकों और सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि। उनकी वीरता और बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। उन्होंने राष्ट्र के लिए अत्यंत समर्पण के साथ काम किया और हमारे नागरिकों की रक्षा के लिए अथक परिश्रम किया। उनके परिवारों और दोस्तों के प्रति संवेदना।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान हारे भी न और टीम इंडिया गँवा दे 2 अंक: खुद को ‘देशभक्त’ साबित करने में लगे नेता, भूले यह विश्व कप है-द्विपक्षीय...

सृजिकल स्ट्राइक का सबूत माँगने वाले और मंच से 'पाकिस्तान ज़िंदाबाद' का नारा लगवाने वाले भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच रद्द कराने की माँग कर 'देशभक्त' बन जाएँगे?

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe