Tuesday, July 27, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाघुसपैठ की कोशिश में मारे गए पाकिस्तान के 5 बैट 'आतंकी', भारतीय सेना ने...

घुसपैठ की कोशिश में मारे गए पाकिस्तान के 5 बैट ‘आतंकी’, भारतीय सेना ने जारी किया वीडियो

पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) सीमा पार से घुसपैठ की कोशिश कर रही थी। पाकिस्तान का बैट भारत में घुसपैठ करने और आतंकियों को घुसपैठ कराने के लिए कुख्यात है।

सीमा पार से पाकिस्तान लगातार घुशपैठ की कोशिशें जारी रखे हुए है। भारतीय सेना ने पाकिस्तान के ऐसे ही एक प्रयास को विफल कर दिया। ये घटना अगस्त के पहले सप्ताह की है, जब पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) सीमा पार से घुसपैठ की कोशिश कर रही थी। पाकिस्तान का बैट भारत में घुसपैठ करने और आतंकियों को घुसपैठ कराने के लिए कुख्यात है।

भारतीय सेना ने कैसे पाकिस्तानी आतंकियों के इस घुसपैठ को नाकाम किया, उसका वीडियो आप यहाँ देख सकते हैं:

ये घटना कुपवाड़ा के केरन सेक्टर की है, जहाँ एलओसी के पास पाकिस्तान की इस हरकत को नाकाम किया गया। भारतीय सेना द्वारा जारी की गई वीडियो में 5 बैट आतंकियों की लाशें और उनके हथियार दिख रहे हैं।

भारतीय सेना ने 6-7 बैट आतंकियों को मार गिराया था। इस साल के आठ महीनों में जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा 139 आतंकवादियों को ढेर किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फोन से ‘खेला’ फिर भी नहीं बचा राज कुंद्रा, कानपुर का खाता भी फ्रीज: शर्लिन चोपड़ा-पूनम पांडे को हाईकोर्ट से राहत

सबूत के रूप में एक प्रेजेंटेशन को भी इस चार्जशीट का हिस्सा बनाया गया है, जिसमें पोर्न कारोबार से 146 करोड़ रुपए का राजस्व का अनुमान लगाया गया है।

6 साल के जुड़वा भाई, अगवा कर ₹20 लाख फिरौती ली; फिर भी हाथ-पैर बाँध यमुना में फेंका: ढाई साल बाद इंसाफ

मध्य प्रदेश स्थित सतना जिले के चित्रकूट में दो जुड़वा भाइयों के अपहरण और हत्या के मामले में 5 दोषियों को आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,381FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe