Wednesday, February 8, 2023
Homeदेश-समाजनौशेरा में सर्च ऑपरेशन के दौरान IED ब्लास्ट, एक मेजर वीरगति को प्राप्त, दो...

नौशेरा में सर्च ऑपरेशन के दौरान IED ब्लास्ट, एक मेजर वीरगति को प्राप्त, दो जवान घायल

सर्च ऑपरेशन में संदिग्ध मानकर इसकी जाँच के समय पास जाते ही ब्लास्ट हुआ। फ़िलहाल भारतीय सेना इस विस्फोट पर और जानकारी जुटा रही है।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी आत्मघाती हमले से देश अभी उठा भी नहीं था, कि आतंकियों ने एक और घाव दे दिया। इस बार आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर में रजौरी के नौशेरा में आईईडी ब्लास्ट किया, जिसमें इंजीनियरिंग कोर के मेजर के खेत आने के साथ दो अन्य गंभीर जवान गंभीर रूप से घायल हो गए।

ख़बर की मानें तो यह एक बैट हमला था, बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सेना और आतंकी मिलकर भारतीय सीमा के अंदर आए और उन्होंने आईडी प्लांट किया था। सर्च ऑपरेशन में संदिग्ध मानकर इसकी जाँच के समय पास जाते ही ब्लास्ट हुआ। फ़िलहाल भारतीय सेना इस विस्फोट पर और जानकारी जुटा रही है।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफ़िले पर (14 फ़रवरी 2019) को आतंकियों ने देश को बड़ा जख्म दिया था। आतंकियों ने कायरतापूर्ण तरीके से सीआरपीएफ के काफ़िले पर हमला किया था, जिसमें 44 जवान शहीद जबकि दर्जनों जवान गंभीार रूप से घायल हुए थे। बता दें कि, घटना के बाद से पूरे देश में आतंकवादी हमले के ख़िलाफ़ अलग-अलग हिस्सों में लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। देश के कई शहरों में लोगों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगाए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाकवि जो आपातकाल के दौरान भी बने थे कॉन्ग्रेस की टेंशन, फिर उन्हीं के नाम से राहुल गाँधी के नीचे से ‘खिसक रही जमीन’:...

प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधने के लिए दुष्यंत कुमार का एक शेर पढ़ा। पीएम मोदी के शायराना तंज पर NDA के सांसद ठहाका लगाने लगे।

बिन दाढ़ी मुख सून… कौन थे हाथरस वाले प्रभुनाथ गर्ग, PM मोदी ने पढ़ा जिनका दोहा तो ठहाकों से गूँज उठी संसद: सामाजिक-राजनीतिक कुरीतियों...

जब काका हाथरसी सिर्फ 15 दिन के थे, तभी उनके पिता का निधन हो गया था। बड़े भाई भजन लाल उस समय केवल 2 साल के थे। प्रभुनाथ गर्ग से ऐसे बने 'काका'।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
244,416FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe