Tuesday, July 27, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षागृह मंत्रालय ने लिया बड़ा फ़ैसला, CAPF बलों के जवानों को मिलेगी हवाई यात्रा...

गृह मंत्रालय ने लिया बड़ा फ़ैसला, CAPF बलों के जवानों को मिलेगी हवाई यात्रा की सुविधा

गृह मंत्रालय द्वारा उठाए गए इस सराहनीय क़दम से लगभग 7,80000 जवानों को इस फ़ैसले का लाभ मिलेगा। बता दें कि इनमें कॉन्स्टेबल, हेड कॉन्स्टेबल और एएसआई रैंक के अधिकारी शामिल हैं।

पुलवामा में 14 फ़रवरी को हुए आत्मघाती हमले को ध्यान में रखकर गृह मंत्रालय ने केंद्रीय अर्ध सैन्य बलों के जवानों के हित में बड़ा फ़ैसला लिया है। जानकारी के अनुसार अब जवानों को हवाई जहाज़ से आने-जाने की सुविधा उपलब्ध होगी। गृह मंत्रालय ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) के सभी जवानों को दिल्ली से श्रीनगर व श्रीनगर से दिल्ली के अलावा जम्मू से श्रीनगर और श्रीनगर से जम्मू की हवाई यात्रा पर स्वीकृति दे दी है।

अर्ध सैन्य बलों के जवानों को मिली हवाई यात्रा से आवागमन की सुविधा

गृह मंत्रालय द्वारा उठाए गए इस सराहनीय क़दम से CAPF बलों के उन लगभग 7,80,000 जवानों को लाभ मिल सकेगा जिन्हें पहले यह सुविधा प्राप्त नहीं थी। बता दें कि इनमें कॉन्स्टेबल, हेड कॉन्स्टेबल और एएसआई रैंक के जवान और अधिकारी शामिल हैं। इसलिए यह फैसला इन सभी जवानों को काफ़ी राहत पहुँचाने वाला है। बता दें कि गृह मंत्रालय द्वारा लिया गया यह फ़ैसला तत्काल काल से प्रभावशाली है। इसलिए अब जवानों को छुट्टी पर घर जाने और वापस ड्यूटी ज्वॉइन करने के लिए किसी प्रकार की असुविधा का सामना नहीं करना पड़ेगा।

आपको बता दें कि इससे पहले भी हमले के तुरंत बाद गृह मंत्रालय ने ऐलान किया था कि जब सेना का क़ाफ़िला किसी रास्ते से गुजर रहा होगा, तो वहाँ आम लोगों को आवाजाही की अनुमति नहीं दी जाएगी। और सेना के जवानों के क़ाफ़िले के नियमों में कई बदलाव किए गए हैं। केंद्र सरकार ने पुलवामा हमले के बाद जम्मू-कश्मीर में रह रहे अलगाववादी नेताओं को दी गई सुरक्षा भी वापस ले ली है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नाम: नूर मुहम्मद, काम: रोहिंग्या-बांग्लादेशी महिलाओं और बच्चों को बेचना; 36 घंटे चला UP पुलिस का ऑपरेशन, पकड़ा गया गिरोह

देश में रोहिंग्याओं को बसाने वाले अंतरराष्ट्रीय मानव तस्करी के गिरोह का उत्तर प्रदेश एटीएस ने भंडाफोड़ किया है। तीन लोगों को अब तक गिरफ्तार किया गया है।

‘राजीव गाँधी थे PM, उत्तर-पूर्व में गिरी थी 41 लाशें’: मोदी सरकार पर तंज कसने के फेर में ‘इतिहासकार’ इरफ़ान हबीब भूले 1985

इतिहासकार व 'बुद्धिजीवी' इरफ़ान हबीब ने असम-मिजोरम विवाद के सहारे मोदी सरकार पर तंज कसा, जिसके बाद लोगों ने उन्हें सही इतिहास की याद दिलाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,464FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe