Monday, July 26, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाभारत में हमले का बड़ा प्लान: 40 रोहिंग्याओं का दस्ता, पाकिस्तान दे रहा ट्रेनिंग

भारत में हमले का बड़ा प्लान: 40 रोहिंग्याओं का दस्ता, पाकिस्तान दे रहा ट्रेनिंग

एलओसी पर भारतीय सुरक्षाबलों की मुस्तैदी के चलते आतंकियों की घाटी में घुसपैठ कराने में पाकिस्तान नाकाम रहा। ऐसे में उसने हमलों को अंजाम देने के लिए बांग्लादेश को चुना है। इसी कड़ी अब वह रोहिंग्याओं को ट्रेनिंग दे रहा है।

पाकिस्तान की कुख्यात खुफिया एजेंसी आईएसआई भारत में बड़े आतंकी हमलों को अंजाम देने की फिराक में है। इसके लिए उसने रोहिंग्याोंओं का दस्ता तैयार किया है। भारतीय खुफिया एजेंसियों ने इस बाबत सेना और अर्ध सैनिक बलों को अलर्ट किया है।

खुफिया सूत्रों के मुताबिक, भारत पर हमले के लिए आईएसआई करीब 40 रोहिंग्याओं को बांग्लादेश में ट्रेनिंग दे रही है। इसमें बांग्लादेशी आंतकी संगठन जमात-उल-मुजाहिदीन (जेएमबी) आईएसआई की मदद कर रहा है। खुफिया एजेंसी की जानकारी के बाद सीमा पर तैनात सुरक्षाबलों को अलर्ट किया गया है।

खुफिया एजेंसियों ने कहा, “पाकिस्तान पड़ोसी बांग्लादेश की सीमा से भारत के खिलाफ बड़ा षड्यंत्र रच रहा है। बांग्लादेशी आतंकी संगठन जेएमबी को आईएसआई धन मुहैया करा रही है। आईएसआई बांग्लादेश के कॉक्स बाजार में रहने वाले 40 रोहिंग्याओं को आतंकी ट्रेनिंग दे रही है।”

एजेंसी ने बताया है कि जेएमबी को धन सऊदी अरब और मलेशिया के जरिए मुहैया कराया जा रहा है और पहली किस्त के रूप में जेएमबी को एक करोड़ टका उपलब्ध कराए गए हैं। खुफिया एजेंसियों ने इसकी सूचना राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) के साथ भी शेयर किया है।

दरअसल, पाकिस्तान एलओसी पर भारतीय सुरक्षाबलों की मुस्तैदी के चलते आतंकियों की घाटी में घुसपैठ कराने में नाकाम रहा। ऐसे में उसने भारत में हमलों को अंजाम देने के लिए बांग्लादेश को चुना है। इसी कड़ी अब भारत में आतंकी हमला करने के लिए पाकिस्तान रोहिंग्याओं को तैयार कर रहा है।

पिछले साल एनआइए प्रमुख वाईसी मोदी ने कहा था कि जेएमबी पूरे भारत में अपना जाल फैलाना चाह रहा है। इसको लेकर 125 संदिग्धों की सूची विभिन्न राज्यों के साथ साझा की गई है। इनके जमात-उल-मुजाहिदीन के नेृतत्व से करीबी रिश्ते हैं।

एनआईए चीफ मोदी के मुताबिक, जेएमबी ने झारखंड, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल जैसे राज्यों में अपनी गतिविधियाँ तेज की हैं। इस आतंकी संगठन ने 2014 से 2018 यानी 4 साल के भीतर अकेले बेंगलुरु में 20-22 ठिकाने बनाए और इसे दक्षिण भारत के दूसरे राज्यों तक फैलाने की कोशिश की। उन्होंने बताया कि जेएमबी ने कर्नाटक सीमा पर कृष्णागिरी की पहाड़ियों में रॉकेट लॉन्चर तक टेस्ट किए हैं। जेएमबी ने भारत में 2007 में अपनी गतिविधियाँ शुरू कीं। शुरुआत में पश्चिम बंगाल और असम को अपना ठिकाना बनाया और फिर देश के अन्य राज्यों में पहुँचा।

राष्ट्रीय और क्षेत्रीय सुरक्षा के लिए ख़तरा हैं रोहिंग्या: बांग्लादेश की PM शेख हसीना

बांग्लादेशी या रोहिंग्या इस देश का नहीं है, उसकी पहचान कर, अलग करना समय की माँग

1 लाख रोहिंग्या को मुस्लिम देश भेज रहा ऐसी जगह जिसके चारों ओर है पानी ही पानी

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe