Monday, June 17, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाबशीर ने पुलवामा हमले में पहुँचाया सबसे ज्यादा नुकसान, Pak आकाओं ने जिसकी तुलना...

बशीर ने पुलवामा हमले में पहुँचाया सबसे ज्यादा नुकसान, Pak आकाओं ने जिसकी तुलना अफजल गुरु से की

किस जगह पर सबसे ज्यादा नुकसान होगा, गाड़ी किधर से आएगी, कहाँ स्लो होगी, कैसे बम वाली गाड़ी से उसे हिट करना है... इन बातों की सटीक जानकारी देने के लिए आतंकियों के पाकिस्तानी आकाओं ने बशीर की तुलना संसद हमले के दोषी अफजल गुरु से की।

पुलवामा में पिछले साल केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के काफिले पर हुए हमले में 40 जवान बलिदान हो गए थे। इस केस की जाँच कर रहे राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) ने अब चार्जशीट फाइल कर दी है। ये हमला कैसे हुआ? किसकी थी प्लानिंग? कौन-कौन थे शामिल? चार्जशीट में सब कुछ डिटेल में बताया गया है।

अब तक की जानकारी के अलावा जो सबसे चौंकाने वाली बात है वो है अटैक की जगह को फाइनल करने वाले शख्स का नाम। यह शख्स है – शाकीर बशीर मागरने। 22 साल इसकी उम्र है। फर्नीचर की दुकान चलाता है। किस जगह पर सबसे ज्यादा नुकसान होगा, इस बात की सटीक जानकारी देने के लिए इन आतंकियों के पाकिस्तानी आकाओं ने बशीर की तुलना संसद हमले के दोषी अफजल गुरु से की है।

पुलवामा की प्लानिंग ताकि हो मैक्सिमम नुकसान

बशीर पुलवामा के लेथपोरा में फर्नीचर की दुकान चलाता था। इस शख्स ने ही आतंकियों को बताया कि कहाँ से CRPF का काफिला निकलता है। क्योंकि इसकी दुकान हमले वाली साइट के ही पास थी। सड़क किनारे दुकान होने का इसने फायदा उठाया। क्योंकि सुरक्षाबलों के काफिले को वो हर दिन बड़ी आसानी से ध्यान से देख पाता था।

बशीर ने ही अन्य आतंकियों को बताया कि हाई-वे पर जहाँ उसकी दुकान है, वहाँ से आगे एक ढलान है, जहाँ गाड़ियों का काफिला धीमा हो जाता है। साथ ही उसने यह भी बताया कि क्यों उस जगह पर बम से भरी कार CRPF काफिले को टक्कर मार सकती है। क्योंकि उसी ढलान के पास हाइवे को जोड़ती हुई एक स्लिप रोड भी है। इतनी सटीक जानकारी के बाद आतंकियों ने इसी जगह हमला करने की प्लानिंग बनाई।

बशीर मतलब अफजल गुरु!

पुलवामा हमले की योजना बनाने वाला शख्स मोहम्मद उमर फारूक़। मैक्सिमम नुकसान के लिए लोकल इंफो देने वाला बशीर। बशीर की सूचना मोहम्मद उमर फारूक़ के लिए इतनी अहम थी कि वो उसे संसद हमले के दोषी अफजल गुरु से समान दर्जा देते हुए तुलना करने लगा था। NIA ने पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान भेजे गए ऑडियो मैसेज से यह जानकारी निकाली।

NIA ने जिस मैसेज को डिकोड किया, उसने शाकिर बशीर की जमकर तारीफ की गई थी। तारीफ के अलावा फारूक़ ने बशीर की तुलना अफजल गुरु से की थी। NIA ने 13500 पन्नों की चार्जशीट में बताया है कि बशिर हमले से कुछ दिन पहले ही जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हुआ था।

ज्ञात हो कि NIA ने इस साल फरवरी में शाकिर बशीर को गिरफ्तार किया था। शुरुआती जाँच में इस आतंकी को NIA पुलवामा हमले को अंजाम देने वालों को एक साल तक अपने पास रखने और हमले में शामिल कार में RDX लगाने तक सीमित मान रही थी। लेकिन अब इसे सबसे अहम कड़ी के तौर पर देखा जा रहा है। वैसे भी बशीर हमले को अंजाम देने वाले आदिल अहमद का खास दोस्त है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बकरों के कटने से दिक्कत नहीं, दिवाली पर ‘राम-सीता बचाने नहीं आएँगे’ कह रही थी पत्रकार तनुश्री पांडे: वायर-प्रिंट में कर चुकी हैं काम,...

तनुश्री पांडे ने लिखा था, "राम-सीता तुम्हें प्रदूषण से बचाने के लिए नहीं आएँगे। अगली बार साफ़-स्वच्छ दिवाली मनाइए।" बकरीद पर बदल गए सुर।

पावागढ़ की पहाड़ी पर ध्वस्त हुईं तीर्थंकरों की जो प्रतिमाएँ, उन्हें फिर से करेंगे स्थापित: गुजरात के गृह मंत्री का आश्वासन, महाकाली मंदिर ने...

गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि किसी भी ट्रस्ट, संस्था या व्यक्ति को अधिकार नहीं है कि इस पवित्र स्थल पर जैन तीर्थंकरों की ऐतिहासिक प्रतिमाओं को ध्वस्त करे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -