Monday, June 24, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षा100 गाड़ियों ने किया पीछा, 1.5 घंटे की मशक्कत: पंजाब में अमृतपाल सिंह अब...

100 गाड़ियों ने किया पीछा, 1.5 घंटे की मशक्कत: पंजाब में अमृतपाल सिंह अब भी फरार, कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद

पिछले कुछ दिनों से पंजाब पुलिस ने अमृतपाल और उसके साथियों के खिलाफ शिकंजा कसना शुरू कर दिया था। कुछ दिन पहले ही अमृतपाल के साथी गुरिंदर सिंह को पुलिस ने उस वक्त गिरफ्तार कर लिया था, जब वह देश छोड़कर लंदन भागने की कोशिश कर रहा था। उसे गुरु रामदास एयरपोर्ट से पकड़ा गया था।

खालिस्तान (Khalistan) समर्थक अमृतपाल सिंह (Amritpal Singh) के खिलाफ पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने बड़ा एक्शन लिया है। शुरुआती मीडिया रिपोर्ट में बताया गया था कि अमृतपाल और उसके 6 साथियों का पीछा कर गिरफ्तार कर लिया गया है। हालाँकि, अब सामने आया है कि अमृतपाल सिंह अभी भी फरार है। उसके साथियों के पास से कई हथियार भी मिले हैं। स्थिति को देखते हुए पंजाब के कई इलाके में रविवार (19 मार्च 2023) तक के लिए इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक अमृतपाल सिंह अपने साथियों के साथ जा रहा था। इसी दौरान पंजाब पुलिस ने उसका पीछा करना शुरू कर दिया। पंजाब पुलिस के कई थानों की पुलिस उसके पीछे लग गई। कुछ मीडिया रिपोर्ट में उसके भाग निकलने की बात कही जा रही है। अमृतपाल सिंह के खिलाफ हेट स्पीच समेत कई मामले दर्ज हैं।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, वारिस पंजाब दे का प्रमुख अमृतपाल अपने साथियों के साथ मोगा की तरफ जा रहा था। उसके काफिले में तीन गाड़ियाँ शामिल थीं। पुलिस ने काफिले का पीछा कर 2 गाड़ियों को जब्त कर उनमें सवार अमृतपाल के 6 साथियों को गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि अमृतपाल उस वक्त भागने में कामयाब रहा।

मिली जानकारी के मुताबिक, इसके बाद पुलिस की लगभग 100 गाड़ियाँ अमृतपाल और उसके दूसरे साथियों का पीछा करने लगी। हिरासत में लिए गए अमृतपाल के साथियों के पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद किए गए हैं। अमृतपाल के खिलाफ जारी एक्शन के बीच कई इलाकों में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद किए जाने की भी खबर है।

पंजाब पुलिस ने लोगों से फेक न्यूज नहीं फैलाने की अपील की है। पंजाब पुलिस ने ट्वीट किया, “सभी नागरिकों से अनुरोध है कि शांति और सद्भाव बनाए रखें। पंजाब पुलिस कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए काम कर रही है। नागरिकों से अनुरोध है कि वे घबराएँ नहीं या फर्जी समाचार या अभद्र भाषा न फैलाएँ।”

बता कें कि 23 फरवरी 2023 को अमृतपाल के एक करीबी की गिरफ्तारी के बाद खालिस्तान समर्थकों ने अजनाला थाने पर हमला कर दिया था। अमृतपाल ने मीडिया के सामने आकर पंजाब पुलिस को अल्टीमेटम दिया था, जिसके कुछ ही घंटों के भीतर उसके साथी लवप्रीत को पुलिस ने छोड़ दिया था। इस घटना के बाद पंजाब पुलिस की जमकर आलोचना हुई थी।

पिछले कुछ दिनों से पंजाब पुलिस ने अमृतपाल और उसके साथियों के खिलाफ शिकंजा कसना शुरू कर दिया था। कुछ दिन पहले ही अमृतपाल के साथी गुरिंदर सिंह को पुलिस ने उस वक्त गिरफ्तार कर लिया था, जब वह देश छोड़कर लंदन भागने की कोशिश कर रहा था। उसे गुरु रामदास एयरपोर्ट से पकड़ा गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तू क्यों नहीं करता पत्रकारिता?’: नाना पाटेकर ने की ऐसी खिंचाई कि आह-ओह करने लगे राजदीप सरदेसाई, अभिनेता ने पूछा – तुझे सिर्फ बुरा...

राजदीप सरदेसाई ने कहा कि 'The Lallantop' ने वाकई में पत्रकारिता के नियम को निभाया है, जिस पर नाना पाटेकर पूछ बैठे कि तू क्यों नहीं इसको फॉलो करता है?

13 लोग ऐसे भी जो घर में सोने आए, लेकिन फिर कभी जगे नहीं: तमिलनाडु में जहरीली शराब से अब तक 56 मौतें, चुप्पी...

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को तमिलनाडु में जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में एक पत्र लिखा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -