Thursday, October 28, 2021
Homeदेश-समाजYAK की सवारी पड़ी भारी: मेरठ बवाल में वॉन्टेड हाजी सईद को UP पुलिस...

YAK की सवारी पड़ी भारी: मेरठ बवाल में वॉन्टेड हाजी सईद को UP पुलिस ने फेसबुक देख किया गिरफ्तार

फेसबुक पोस्ट देखते ही यूपी पुलिस ने तुरंत अपनी एक टीम को शिमला भेजा। लेकिन सईद को इस कार्रवाई के बारे में पहले से ही किसी ने जानकारी दे दी। फिर पुलिस ने...

पिछले कुछ महीनों से लगातार पुलिस को चकमा देकर भाग निकलने वाला हिस्ट्रीशीटर अपनी छोटी सी गलती के कारण पकड़ा गया। हिंसा भड़काने समेत 9 मामलों के दोषी हाजी सईद को पुलिस ने सोशल मीडिया पर उसकी फोटो देखने के बाद गिरफ्तार कर लिया।

सईद की ये फोटो शिमला की है, जो सोशल मीडिया पर डलने के बाद खूब वायरल हुई। इस तस्वीर में सईद एक याक की सवारी करता नजर आ रहा है। इस फोटो के सोशल मीडिया पर पोस्ट होने के बाद पुलिस ने उसकी लोकेशन का फौरन पता लगाया और उसकी गिरफ्तारी संभव हुई।

पोस्ट की जानकारी मिलते ही पुलिस तुरंत एक्शन में आई और उसने अपनी एक टीम को शिमला भेज दिया। लेकिन सईद के कुछ जानकारों ने उसके ऊपर होने वाली कार्रवाई के बारे में उसे पहले ही इत्तेला कर दिया था, जिस कारण उसने अपनी लोकेशन बदलनी शुरू कर दी थी। पर पुलिस ने अपनी सूझ-बूझ से उसे आखिर में गिरफ्तार कर लिया ।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो एसएसपी अजय साहनी ने सईद की गिरफ्तारी के बाद बताया कि भूसा मंडी निवासी हिस्ट्रीशीटर हाजी सईद 9 मुकदमों में वांटेड था। 6 मार्च को भूसा मंडी-मछेरान में अवैध निर्माण तोड़ने को लेकर हुए बवाल और आगजनी में उस पर कुल 3 मुकदमे दर्ज हुए थे। हाजी सईद ने ही भीड़ को आगजनी और तोड़फोड़ करने के लिए उकसाया था।

इसके अलावा 1 जुलाई को भीड़ हत्या के खिलाफ फैज-ए-आम कॉलेज से निकले शांति मार्च में जो बवाल हुआ था, हाजी सईद उसका भी सह-अभियुक्त था। जानकारी के मुताबिक हाजी सईद और बदर अली ने मिलकर शांति मार्च के बहाने बवाल कराया था। कुल मिलाकर हाजी सईद पर सदर बाजार थाने में 5, कोतवाली में 1, रेलवे रोड में 2 और देहली गेट थाने में 1 मुकदमा दर्ज था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बॉम्बे हाईकोर्ट से आर्यन खान, मुनमुन और अरबाज को मिली बेल, जानिए कब तक आएँगे जेल से बाहर

बॉम्बे हाई कोर्ट ने लगातार तीन दिन की सुनवाई के बाद आर्यन खान को जमानत दी है। अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा को भी जमानत दी गई है।

‘वर्ल्ड कप में ये ड्रामे होते हैं, दिखावे की जरूरत नहीं’: क्विंटन डिकॉक ने डिटेल में बताया क्यों नहीं टेका घुटना

डिकॉक ने बयान में कहा कि जब भी सब वर्ल्ड कप में जाते हैं तो ऐसा कोई न कोई ड्रामा होता ही है। ये चीजें अच्छी बात नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
132,529FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe