YAK की सवारी पड़ी भारी: मेरठ बवाल में वॉन्टेड हाजी सईद को UP पुलिस ने फेसबुक देख किया गिरफ्तार

फेसबुक पोस्ट देखते ही यूपी पुलिस ने तुरंत अपनी एक टीम को शिमला भेजा। लेकिन सईद को इस कार्रवाई के बारे में पहले से ही किसी ने जानकारी दे दी। फिर पुलिस ने...

पिछले कुछ महीनों से लगातार पुलिस को चकमा देकर भाग निकलने वाला हिस्ट्रीशीटर अपनी छोटी सी गलती के कारण पकड़ा गया। हिंसा भड़काने समेत 9 मामलों के दोषी हाजी सईद को पुलिस ने सोशल मीडिया पर उसकी फोटो देखने के बाद गिरफ्तार कर लिया।

सईद की ये फोटो शिमला की है, जो सोशल मीडिया पर डलने के बाद खूब वायरल हुई। इस तस्वीर में सईद एक याक की सवारी करता नजर आ रहा है। इस फोटो के सोशल मीडिया पर पोस्ट होने के बाद पुलिस ने उसकी लोकेशन का फौरन पता लगाया और उसकी गिरफ्तारी संभव हुई।

पोस्ट की जानकारी मिलते ही पुलिस तुरंत एक्शन में आई और उसने अपनी एक टीम को शिमला भेज दिया। लेकिन सईद के कुछ जानकारों ने उसके ऊपर होने वाली कार्रवाई के बारे में उसे पहले ही इत्तेला कर दिया था, जिस कारण उसने अपनी लोकेशन बदलनी शुरू कर दी थी। पर पुलिस ने अपनी सूझ-बूझ से उसे आखिर में गिरफ्तार कर लिया ।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो एसएसपी अजय साहनी ने सईद की गिरफ्तारी के बाद बताया कि भूसा मंडी निवासी हिस्ट्रीशीटर हाजी सईद 9 मुकदमों में वांटेड था। 6 मार्च को भूसा मंडी-मछेरान में अवैध निर्माण तोड़ने को लेकर हुए बवाल और आगजनी में उस पर कुल 3 मुकदमे दर्ज हुए थे। हाजी सईद ने ही भीड़ को आगजनी और तोड़फोड़ करने के लिए उकसाया था।

इसके अलावा 1 जुलाई को भीड़ हत्या के खिलाफ फैज-ए-आम कॉलेज से निकले शांति मार्च में जो बवाल हुआ था, हाजी सईद उसका भी सह-अभियुक्त था। जानकारी के मुताबिक हाजी सईद और बदर अली ने मिलकर शांति मार्च के बहाने बवाल कराया था। कुल मिलाकर हाजी सईद पर सदर बाजार थाने में 5, कोतवाली में 1, रेलवे रोड में 2 और देहली गेट थाने में 1 मुकदमा दर्ज था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by paying for content

बड़ी ख़बर

नरेंद्र मोदी, डोनाल्ड ट्रम्प
"भारतीय मूल के लोग अमेरिका के हर सेक्टर में काम कर रहे हैं, यहाँ तक कि सेना में भी। भारत एक असाधारण देश है और वहाँ की जनता भी बहुत अच्छी है। हम दोनों का संविधान 'We The People' से शुरू होता है और दोनों को ही ब्रिटिश से आज़ादी मिली।"

ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

92,258फैंसलाइक करें
15,609फॉलोवर्सफॉलो करें
98,700सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: