Sunday, October 17, 2021
Homeसोशल ट्रेंड‘आतंकवादी हैं सारे मुसलमान’: मायावती का मजाक उड़ाने वाली जपलीन पसरीचा का एक और...

‘आतंकवादी हैं सारे मुसलमान’: मायावती का मजाक उड़ाने वाली जपलीन पसरीचा का एक और ट्वीट वायरल

फेमिनिस्ट जपलीन पसरीचा का लगभग 8 साल पुराना यह ट्वीट ट्विटर पर वायरल होने के बाद कई सोशल मीडिया यूजर उनकी आलोचना कर रहे हैं

‘फेमिनिज्म इन इंडिया’ की संस्थापक-सीईओ व एडिटर इन चीफ जपलीन पसरीचा ने साल 2012 में बसपा सुप्रीमो मायावती को लेकर एक आपत्तिजनक (sexist jibe) ट्वीट किया था। इस ट्वीट पर उन्होंने कल (18 मई) ही माफी मांगी थी। लेकिन अब पसरीचा का एक और पुराना ट्वीट वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने कहा था कि सभी मुस्लिम आतंकवादी हैं। यह ट्वीट पसरीचा द्वारा सितंबर 2013 में किया गया था जिसमें उन्होंने लिखा था, “Because all muslims are terrorists”.

2013 में जपलीन पसरीचा द्वारा किए गए ट्वीट का स्क्रीनशॉट

फेमिनिस्ट जपलीन पसरीचा का लगभग 8 साल पुराना यह ट्वीट ट्विटर पर वायरल होने के बाद कई सोशल मीडिया यूजर उनकी आलोचना कर रहे हैं। यूजर्स लिख रहे हैं कि पसरीचा ‘इस्लामोफोबिया’ से पीड़ित हैं और उन्हें इसका इलाज कराने की जरूरत है। एक अन्य यूजर ने लिखा कि पसरीचा के ट्वीट घृणित हैं और वह 90% मुसलमानों की वजह से 10% मुसलमानों को बदनाम कर रही हैं।

जपलीना पसरीचा ने दी सफाई

इस पुराने ट्वीट पर आलोचना झेलने के बाद जपलीन पसरीचा ने कहा कि लोग उनके इस पुराने ट्वीट को गलत ढंग से ले रहे हैं। सफाई देते हुए पसरीचा ने कहा कि उनका यह ट्वीट व्यंग्यात्मक था।

ट्वीट वायरल होने के बाद पसरीचा की सफाई

पसरीचा के अनुसार उन्होंने 2013 में पहली इंडियन-अमेरिकन नीना दवुलुरी (Nina Davuluri) द्वारा मिस अमेरिका का खिताब जीतने के बाद यह ट्वीट किया था क्योंकि नीना के खिलाफ उस समय अमेरिका के एक बड़े वर्ग ने नस्लीय टिप्पणियाँ करते हुए उन्हें ‘अरब’ और ‘आतंकी’ कहना शुरू कर दिया था। नीना द्वारा झेले गए इसी भेदभाव के चलते पसरीचा ने यह ट्वीट व्यंग्यात्मक तौर पर किया था न कि इस्लामोफोबिया के चलते।

ज्ञात हो कि जपलीन पसरीचा ने बसपा सुप्रीमो मायावती के लिए 2012 में आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। उन्होंने अपने एक ट्वीट में उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के बच्चे नहीं होने और उनके द्वारा जनसंख्या नियंत्रण और परिवार नियोजन की बात करने के लिए उनका मजाक उड़ाया था।

महिलाओं के मुद्दे पर जोर शोर से अपनी बात रखने वाली जपलीन पसरीचा ने बहन मायावती का मजाक उड़ाते हुए ट्वीट किया था, ”मायावती लोकसभा में परिवार नियोजन और जनसंख्या नियंत्रण के बारे में बात कर रही हैं। लालू गुस्से में बोले: बेबी, जब आप गेम खेल नहीं सकती, तो नियम मत बनाओ।” इस ट्वीट के वायरल होने पर जब उनकी आलोचना हुई तब उन्होंने कल (18 मई) इसके लिए माफी माँग ली।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काटेंगे-मारेंगे और दिखाएँगे भी… फिर करेंगे जिम्मेदारी की घोषणा: आखिर क्यों पाकिस्तानी कानून को दिल में बसा लिया निहंग सिखों ने?

क्या यह महज संयोग है कि पाकिस्तान की तरह 'किसान' आंदोलन की जगह पर भी हुई हत्या का कारण तथाकथित तौर पर ईशनिंदा है?

डीजल डाल कर जला दिया दलित लखबीर का शव, चेहरा तक नहीं देखने दिया परिजनों को: ग्रामीणों ने किया बहिष्कार

डीजल डाल कर मोबाइल की रोशनी में दलित लखबीर सिंह के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। शव से पॉलीथिन नहीं हटाया गया। परिजन चेहरा तक न देख पाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,199FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe