‘मेरे 40 करोड़ टोपी वाले भाइयो! अल्लाह से माँगो कि हमको ताकत दे, पूरा हिन्दुस्तान बंद हो जाएगा’

"अब पीर पर्वत सी हो चुकी, अब पिघलनी चाहिए और इनके पिछवाड़े से गंगा निकलनी चाहिए।"

बॉलीवुड अभिनेत्री पायल रोहतगी को लेकर टिप्पणी करते हुए भड़काऊ बयान देने के कारण चर्चा में आए बॉलीवुड एक्टर एजाज खान इस बार नए वीडियो में हिन्दुओं को अपमानित करते नजर आ रहे हैं। इस बार भी वो अपने बयान को लेकर सोशल मीडिया में छाए हुए हैं। कुछ लोग उनकी बातों का समर्थन कर रहे हैं तो काफी लोग उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाने की बात भी लिख रहे हैं।

“जब मुसलमान ज्वालामुखी बनकर फटेंगे तो सब कलमा पढ़ने लगेंगे”

फेसबुक पर एजाज खान अपने भड़काऊ वीडियो के माध्यम से समाज में नफरत फैलाने और मुसलमानों को उकसाने का प्रयास करते हुए देखे जा रहे हैं। इस बार एजाज खान ने पीएम मोदी पर और RSS पर आरोप लगाते हुए कहा है कि वो लोगों को ‘जय श्री राम’ बुलवाने और देश का ‘सेक्युलर फ़ेब्रिक’ तोड़ने के लिए उकसा रहे हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इस वीडियो में एजाज खान कहते देखे जा सकते हैं कि ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने वाले लोग नाथू राम गोडसे को पूजते हैं, जो कि महात्मा गाँधी का हत्यारा है। एजाज खान का कहना है कि अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जय श्री राम बोलने वालों को रोकते हैं, तो वो उन्हें ‘आप’ नहीं बल्कि ‘तू’ कहना शुरू कर देंगे।

नाराज एजाज खान लोगों से अपील कर रहे हैं कि ‘जय श्री राम बुलवाने’ वालों को कभी उनसे (खुद एजाज से) ‘जय श्री राम’ बुलवाने की कोशिश करनी चाहिए। इसके बाद, एजाज खान कह रहे हैं कि वो ‘जय श्री राम’ बुलवाने वाले लोगों से ही अगर ‘अल्लाहु-अकबर’ ना बुलवा दें तो उनका नाम बदल दें। RSS पर ‘जय श्री राम’ कहकर लोगों को भड़काने का आरोप लगाते हुए एजाज खान इस वीडियो में कह रहे हैं, “अब पीर पर्वत सी हो चुकी, अब पिघलनी चाहिए और इनके पिछवाड़े से गंगा निकलनी चाहिए।”

एजाज खान इस वीडियो में कह रहे हैं-

“अल्लाह से माँगो कि हमको ताकत दे। हम लोग सड़क पर नहीं निकले, हमें शर्म आनी चाहिए। हम लोगों में एकता नहीं, हम लोग केकड़े हैं। हम लोग खाली बातों के शेर हैं। 2 दिन सड़क पर उतर आएँ तो हिन्दुस्तान पूरा बंद हो जाए। ये जो हम लोगों को डराने की कोशिश कर रहे हैं… मेरे भाइयो ये सब बंद हो जाएगा। खाली एक दिन निकलना है सड़क पर। चालीस करोड़ लोग हैं हम, वैध और अवैध मिलाकर… एक बार निकलना है खाली। मेरे टोपी वाले भाइयो, कब निकलेंगे टोपियाँ पहन-पहनकर सड़क पर। खाली एक दिन काम पर नहीं जाना है।”

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी, राम मंदिर
हाल ही में ख़बर आई थी कि पाकिस्तान ने हिज़्बुल, लश्कर और जमात को अलग-अलग टास्क सौंपे हैं। एक टास्क कुछ ख़ास नेताओं को निशाना बनाना भी था? ऐसे में इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि कमलेश तिवारी के हत्यारे किसी आतंकी समूह से प्रेरित हों।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

100,990फैंसलाइक करें
18,955फॉलोवर्सफॉलो करें
106,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: