Sunday, June 23, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'तुम्हें इंटरव्यू देकर भारत की छवि नहीं बिगाड़ सकती': महिला बाइक राइडर ने बरखा...

‘तुम्हें इंटरव्यू देकर भारत की छवि नहीं बिगाड़ सकती’: महिला बाइक राइडर ने बरखा दत्त को धोया, दुमका गैंगरेप पर कहा- ‘झारखंड सरकार चूड़ी पहने’

कंचन ने साफ कहा कि उन्हें जो कहना था वो अपनी वीडियो में कह चुकीं वो किसी मीडिया हाउस को पर्सनल इंटरव्यू नहीं देंगी। इसी लिस्ट में पुरानी पत्रकार बरखा दत्त भी थीं जिन्हें कंचन ने अलग से रिप्लाई देकर धोया।

झारखंड के दुमका में स्पैनिश महिला के साथ हुए गैंगरेप के मामले में भारत की महिला बाइकर कंचन उगूरसांडी ने सोशल मीडिया पर इस संबंध में विरोध जताया था। इसे देख कई मीडियाकर्मियों ने उनका इंटरव्यू करना चाहा। लेकिन कंचन ने साफ कहा कि उन्हें जो कहना था वो अपनी वीडियो में कह चुकीं वो किसी मीडिया हाउस को पर्सनल इंटरव्यू नहीं देंगी। इसी लिस्ट में पुरानी पत्रकार बरखा दत्त भी थीं जिन्हें कंचन ने अलग से रिप्लाई देकर धोया और दोनों के बीच हुई बात का स्क्रीनशॉट भी शेयर किया।

स्क्रीनशॉट में देख सकते हैं कि बरखा दत्त ने कंचन को मैसेज कर उनसे बात करने की इच्छा जाहिर की थी। उन्होंने कहा- “कंचन क्या मैं इस टेरिबल रेप केस मामले में तुम्हारा इंटरव्यू कर सकती हूँ। क्या तुम इस पर बोलना चाहोगी या फिर अगर रेप पीड़िता से बात हो जाए तो।”

इस पर कंचन ने रिप्लाई किया, “एक महिला सोलो राइडर होने के नाते ये मेरा निजी रोष है जो मैंने सोशल मीडिया पर जाहिर किया। मैं जानती हूँ तुम मेरा इंटरव्यू क्यों लेना चाहती हो। सॉरी मैं रूचि नहीं लेती आपके मीडिया हाउस को कंटेंट देने में, जिससे मेरे महान देश भारत की छवि बिगड़े। मेरा बायो देखो जिस पर साफ लिखा है- राष्ट्र सर्वप्रथम।”

तस्वीर साभार: कंचन उगूरसांडी का एक्स हैंडल

इसके अलावा उन्होंने मीडिया और यूट्यूबर दोस्तों को भी कहा, “मुझे आप लोगों के संदेश मिले। लेकिन मैं कोई यूट्यूबर और एक्टिविस्ट नहीं हूँ। दोबारा माफी माँगती हूँ। मैं कोई पर्सनल इंटरव्यू नहीं देना चाहती। जो कहना था मैंने कह दिया।”

बता दें कि झारखंड के दुमका से 1 मार्च 2024 को एक स्पेन की व्लॉगर के रेप की खबर आई थी। इसके बाद सोशल मीडिया पर लोग इस संबंध में लोग रोष प्रकट करने लगे। इसी क्रम में कंचन ने भी अपनी वीडियो शेयर की थी। उन्होंने इसमें कहा था- “मेरा नाम कंचन उगूरसांडी है और मैं झारखंड की रहने वाली हूँ। जब मैंने झारखंड की न्यूज सुनी तो मुझे बहुत गुस्सा आया, वो जो स्पैनिश लड़की थी वो अपने पति के साथ यहाँ घूमने आई थी और झांरखंड में जब उसके साथ ऐसे होने की बात सुनी तो मन किया सबको मार दूँ। झारखंड की सरकार और पुलिस अपने हाथ में चूड़ी पहन ले। लड़की के साथ जो हुआ है वो बहुत बुरा हुआ है।”

उन्होंने कहा, “मैं भी घूमती हूँ बाइक लेकर। उत्तरी भारत मैंने पूरा कवर कर लिया है। उत्तराखंड, लद्दाख, हिमाचल तक मुझे कोई परेशानी नहीं हुई। वहाँ की पुलिस अगर मुझे ज्यादा देर घूमते देखती है तो मुझसे पूछती है, अपना नंबर देती है कि अगर कुछ दिक्कत हो तो उन्हें बताया जाए। ऐसे होती है पुलिस। मुझे कभी डर नहीं लगा कि मेरे साथ कुछ होगा। झारखंड का सुनकर मुझे बहुत बुरा लग रहा है। आप पूछोगे जरूर कि वो टेंट में क्यों रही, होटल में क्यों नहीं रहे। तो मैं आपको बताना चाहूँगी कि राइडिंग कम्युनिटी ज्यादातर टेंट लेकर चलती है। उनके साथ ऐसे हो जाएगा ऐसा मैंने कभी नहीं सोचा था।”

उन्होंने अपनी वीडियो में कहा- “झारखंड की सरकार एक नंबर की निकम्मी सरकार है। उसे चूड़ी पहनना चाहिए। यहाँ कुछ कानून-व्यवस्था तो है नहीं। सबसे बड़ी बात मुझे झारखंड टूरिज्म से कॉल आया था तो मैं ये कहना चाहती हूँ ऐसे टूरिज्म को कौन प्रमोट करेगा? यहाँ कौन सुरक्षित रहेगा।”

दुमका गैंगरेप मामले में बता दें कि अपडेट खबर है कि महिला से गैंगरेप करने वाले आरोपितों में से 3 को पकड़ अब तक जेल भेजा जा चुका है जबकि चौथे की तलाश चल रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

‘PM मोदी ने किया जी अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का उद्घाटन, गिर गई उसकी दीवार’: News24 ने फेक न्यूज़ परोस कर डिलीट की ट्वीट,...

अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से जुड़े जिस दीवार के दिसंबर 2023 में बने होने का दावा किया जा रहा है, वो दावा पूरी तरह से गलत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -