Sunday, August 1, 2021
Homeबड़ी ख़बर5 घंटे में 6 चैनलों पर 17 बार केजरीवाल का चेहरा... 150 करोड़ के...

5 घंटे में 6 चैनलों पर 17 बार केजरीवाल का चेहरा… 150 करोड़ के विज्ञापन से नहीं छुप पाया दिल्ली में मौत का खेल

जब पूरी दिल्ली में ऑक्सीजन हाहाकार मचा हुआ है, तब केजरीवाल TV पर विज्ञापनों के जरिए नजर आ रहे हैं। सिर्फ India Today चैनल की बात करें तो यहाँ 5 घंटे में 12 बार CM केजरीवाल का चेहरा चमका है!

दिल्ली में कोरोना का कहर चरम पर है। कोविड-19 वैसे तो महामारी है लेकिन इस पर अंकुश लगाने के लिए राज्य प्रशासन को जिस राजनीतिक इच्छाशक्ति के साथ जमीन पर काम करना था, उसमें दिल्ली की AAP सरकार एकदम फिसड्डी रही है।

कोविड-19 महामारी के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक काम लेकिन बखूबी किया है – अपना चेहरा चमकाना – विज्ञापनों के जरिए!

25 अप्रैल 2021 की बात करें तो सिर्फ एक चैनल इंडिया टुडे पर ही केजरीवाल लगातार बैटिंग करते जा रहे हैं – एकदम नॉटआउट। सुबह 9 बजकर 56 मिनट से उनकी बैटिंग 2 बजकर 51 मिनट तक चली है – विज्ञापन के जरिए नाबाद!

इसके अलावा न्यूज नेशन, TV9 भारतवर्ष, इंडिया TV, रिपब्लिक भारत और न्यूज 24 पर भी CM केजरीवाल का विज्ञापन बराबर आया।

धरने-प्रदर्शन करने वाले केजरीवाल अब दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल बन चुके हैं। लेकिन धरने-प्रदर्शन के कारण TV मीडिया के चेहरे वाले छवि से अभी तक वो निकल नहीं पाए हैं – ऐसा प्रतीत होता है। यह इसलिए क्योंकि और कोई कारण नहीं, जब पूरी दिल्ली में ऑक्सीजन हाहाकार मचा हुआ है, तब केजरीवाल TV पर विज्ञापनों के जरिए नजर आ रहे हैं।

सोशल मीडिया पर उनका यह विज्ञापनी रूप लोगों को पसंद नहीं आ रहा है। मीम के जरिए लोग दिल्ली की जनता (वोटरों को) धृतराष्ट्र तक की संज्ञा दे रहे हैं। जबकि कुछ तो उनके पिछले 20 दिन की कुंडली निकाल कर फोटो/ग्राफिक्स बना कर फैला रहे हैं, सच्चाई बता रहे हैं।

CM केजरीवाल ने 3 महीने में विज्ञापनों पर लुटाए ₹150 करोड़

RTI से पता चला है कि जनवरी 2021 में केजरीवाल सरकार द्वारा विज्ञापनों पर 32.52 करोड़ रुपए, फरवरी में 25.33 करोड़ रुपए और मार्च में 92.48 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे। ऐसे हालात में जब कोरोना की दूसरी लहर से राष्ट्रीय राजधानी की स्वास्थ्य सेवाएँ चरमरा रही हैं, केजरीवाल सरकार ने औसतन हर दिन 1.67 करोड़ रुपए विज्ञापन पर खर्च किए हैं।

8 ऑक्सीजन प्लांट के लिए लिया पैसा, बनवाया मात्र 1

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रिकॉर्ड को देखें तो केंद्र सरकार ने पीएम केयर्स फंड से दिसंबर 2020 में ही केजरीवाल सरकार को ऑक्सीजन के लिए राशि मुहैया कराई थी। केंद्र सरकार द्वारा यह राशि दिल्ली में 8 PSA (Pressure Swing Absorption) ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने के लिए दी गई थी। केजरीवाल सरकार पैसा तो ले लिया लेकिन अब तक मात्र 1 ही ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया।

‘फाँसी पर चढ़ा देंगे’ – केजरीवाल सरकार की निष्क्रियता पर दिल्ली HC

दिल्ली स्थित जयपुर गोल्डन हॉस्पिटल ने दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी को लेकर दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल की थी। वरिष्ठ वकील सचिन दत्ता ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार की अक्षमता पर प्रश्न उठाते हुए कहा कि दिल्ली सरकार के अधिकारी उस समय नदारद रहे, जब अस्पताल में मरीज ऑक्सीजन की कमी से मरते रहे। उन्होंने बताया कि शुक्रवार (23 अप्रैल) को पूरा दिन दिल्ली सरकार के अधिकारियों से संपर्क करने का प्रयत्न किया लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

इस जानकारी के बाद दिल्ली हाई कोर्ट के जज ने कहा – “कोई भी अधिकारी ऑक्सीजन की आपूर्ति में बाधा डालेगा तो हम फाँसी पर चढ़ा देंगे।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी चीन को भूले, Covid के लिए भारत को ठहराया जिम्मेदार, कहा- विश्व ‘इंडियन कोरोना’ से परेशान

पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि दुनिया कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने की कगार पर थी, लेकिन भारत ने दुनिया को संकट में डाल दिया।

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,314FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe