Monday, June 17, 2024
Homeसोशल ट्रेंडहिंदुओं को जब इस्लामी आतंकियों ने मारा तो इंस्टाग्राम ने ब्लॉक किया #AllEyesOnReasi हैशटैग,...

हिंदुओं को जब इस्लामी आतंकियों ने मारा तो इंस्टाग्राम ने ब्लॉक किया #AllEyesOnReasi हैशटैग, राफा पर 2 लाख पोस्ट अब भी विजिबल

#Alleyesonreasi हैशटैग को हिडन किए जाने के मामले पर लोग हैरान हैं कि ये इकोसिस्टम हिंदुओं से कितनी घृणा करते हैं कि 10 लोगों की मौत होने के बावजूद ये नहीं चाहते ये आतंकी हमले की जानकारी दुनिया के सामने आए।

जम्मू-कश्मीर के रियासी में हुए आतंकी हमले में 10 हिंदू श्रद्धालुओं ने अपनी जान गँवा दी है लेकिन अभी तक किसी भी ‘All Eyes On Rafah’ वाली गैंग ने आतंकी हमले पर कुछ नहीं बोला है। इस घटना ने जहाँ इस गिरोह का दोहरा चेहरा उजागर किया है,वहीं मेटा के इंस्टाग्राम प्लेटफॉर्म पर हिंदुओं की आवाज दबाने वाले रवैये को भी जगजाहिर किया है। इंस्टा ने अपने प्लेटफॉर्म पर #Alleyesonreasi को ही ब्लॉक कर दिया है।

जी हाँ, अगर आप अपने इंस्टाग्राम से इस हैशटैग के साथ पोस्ट डालेंगे और सोचेंगे कि ये ट्रेंड पकड़ेगा तो ऐसा नहीं होने वाला, क्योंकि इंस्टा ने इस हैशटैग को हाइड किया हुआ है। यानी आप अपने पोस्ट में ##Alleyesonreasi डाल सकते हैं लेकिन जैसे ही इस पर क्लिक करके आप बाकी अन्य पोस्टों को देखेंगे तो आपको कुछ नहीं दिखेगा।

उदाहरण के लिए ऊपर लगाई तस्वी देख सकते हैं। राजस्थान कोठा ने पोस्ट में ये हैशटैग लगाया है, लेकिन जब हमने इनके हैशटैग पर क्लिक किया तो लिखा आया कि ये हैशटैग हिडन हैं। वहीं अब अगर यही चीज हम राफाह वाले हैशटैग के लिए देखें तो पाएँगे कि वो हैशटैग भी एक्टिव है और उसपर डाले गए पोस्ट भी साफ दिख रहे हैं। करीबन 295481 पोस्ट इस पर किए गए हैं।

कई इंस्टाग्राम यूजर जो रियासी पर इस हैशटैग को डाल रहे थे, उन्होंने इस समस्या को अपनी टाइमलाइन पर उठाया है। जैसे मधुर सिंह लिखते हैं- “ये इकोसिस्टम इतना ताकतवर है कि इन्होंने #Alleyesonreasi को ही ब्लॉक करवा दिया है। देख सकते हैं कि सर्च सेक्शन में मधुर ने भी हैशटैग डाला है लेकिन दिखाई कुछ नहीं दे रहा। सिर्फ स्क्रीन पर लिखा है- ये हैशटैग हिडन है।”

इस पोस्ट को देखने के बाद अब लोग कह रहे हैं कि आईटी मंत्रालय को इस मामले में एक्शन लेना चाहिए। वहीं कुछ लोग हैरान है कि ये इकोसिस्टम हिंदुओं से कितनी घृणा करते हैं कि 10 लोगों की मौत होने के बावजूद ये नहीं चाहते ये आतंकी हमले की जानकारी दुनिया के सामने आए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पहले उइगर औरतों के साथ एक ही बिस्तर पर सोए, अब मुस्लिमों की AI कैमरों से निगरानी: चीन के दमन की जर्मन मीडिया ने...

चीन में अब भी उइगर मुस्लिमों को लेकर अविश्वास है। तमाम डिटेंशन सेंटरों का खुलासा होने के बाद पता चला है कि अब उइगरों पर AI के जरिए नजर रखी जा रही है।

सेजल, नेहा, पूजा, अनामिका… जरूरी नहीं आपके पड़ोस की लड़की ही हो, ये पाकिस्तान की जासूस भी हो सकती हैं: जानिए कैसे ISI के...

पाकिस्तानी ISI के जासूस भारतीय लड़कियों के नाम से सोशल मीडिया पर आईडी बना देश की सुरक्षा से जुड़े लोगों को हनीट्रैप कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -