Saturday, June 15, 2024
Homeसोशल ट्रेंडबेड तक रखें सेक्शुअल पसंद, हर जगह न करें प्रदर्शन: समलैंगिक विवाह पर कंगना...

बेड तक रखें सेक्शुअल पसंद, हर जगह न करें प्रदर्शन: समलैंगिक विवाह पर कंगना रनौत, कहा- बिस्तर में क्या करते हैं उससे नहीं बनती पहचान

"आप दुनिया में क्या करते हैं यह आपकी पहचान है, न कि आप बिस्तर में क्या करते हैं। अपनी सेक्शुअल पसंद को बिस्तर तक ही रखें। उसे अपना आईडी कार्ड या मेडल बनाकर हर जगह मत दिखाओ।"

समलैंगिक विवाह को कानूनी वैधता देने पर इन दिनों बहस छिड़ी हुई है। सुप्रीम कोर्ट से लेकर सोशल मीडिया तक रिएक्शंस देखने को मिल रहे हैं। अब बाॅलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की प्रतिक्रिया भी इस मुद्दे पर सामने आई है। शुक्रवार (28 अप्रैल 2023) को उन्हें सिलसिलेवार ट्वीट में कहा है कि आपके जेंडर से आपके अलावा किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता। आप जो काम करते हैं, उससे आपकी पहचान होती है। इसलिए अपनी सेक्शुअल प्रेफरेंस बिस्तर तक ही सीमित रखें। हर जगह उसका प्रदर्शन करना ठीक नहीं।

उन्होंने लिखा, “चाहे आप एक पुरुष, महिला या कुछ और हों, आपके जेंडर का आपके अलावा किसी और के लिए कोई महत्व नहीं है, कृपया समझें। आज के समय में हम अभिने​त्रियों या महिला निर्देशकों जैसे शब्दों का भी उपयोग नहीं करते हैं, हम उन्हें एक्टर्स और डायरेक्टर्स कहते हैं। आप दुनिया में क्या करते हैं यह आपकी पहचान है, न कि आप बिस्तर में क्या करते हैं। अपनी सेक्शुअल पसंद को बिस्तर तक ही रखें। उसे अपना आईडी कार्ड या मेडल बनाकर हर जगह मत दिखाओ। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हर उस व्यक्ति का गला काटने के लिए छुरी लेकर न घूमें जो आपके जेंडर से सहमत नहीं है। मैं फिर कह रही हूँ कि आपका जेंडर आपकी पहचान नहीं है, इसे इस तरह से न बनाएँ।”

कंगना अपनी बात को जारी रखते हुए आगे कहती हैं, “मैं ग्रामीण क्षेत्र की महिला हूँ। जीवन ने मुझे कोई रियायत नहीं दी। मुझे अभिनेताओं, फिल्म निर्देशकों, निर्माताओं और लेखकों की दुनिया में अपनी जगह बनानी थी। कभी भी लोगों को जेंडर या किसी अन्य शारीरिक विशेषताओं के लेंस से न देखें। आप जानते हैं कि कंगना को सिर्फ एक महिला समझने वालों का क्या हुआ। आज वे बड़े आश्चर्य में हैं। मैं कभी भी खुद को या किसी और को इस तरह से नहीं देखती हूँ। मैं हमेशा लोगों के बीच रहती हूँ। व्यक्तिगत ऊर्जा केवल लोग ही होते हैं न कि पुरुष/महिला/होमो/हेट्रो/शारीरिक रूप से मजबूत या कमजोर।”

अभिनेत्री ने कहा है, “मैं अपनी जिंदगी में इतनी आगे नहीं आ पाती, अगर मैंने अपने और अपने आसपास के सभी लोगों को ऐसे ही जज किया होता। आप सभी अपने आसपास के लोगों को जज करने पर इतना समय क्यों बर्बाद करते हैं, कृपया समझें कि यदि आपके पास दुनिया के बारे में ऐसा सीमित दृष्टिकोण और धारणा है, तो आप ज्यादा दूर नहीं जा पाएँगे। जो कभी दूसरों के साथ न्याय नहीं कर पाते, वे कभी खुद के साथ भी न्याय नहीं कर सकते हैं। इसलिए अपने आप को जेंडर या किसी अन्य सीमित धारणा से मुक्त करें। उठो और चमको जैसे आप कौन हैं और धर्म कहता है कि आप भौतिक चीजों से परे परम ईश्वर हैं… शुभकामनाएँ।”

वर्क फ्रंट की बात करें तो कंगना अपनी आगामी फिल्म ‘इमरजेंसी’ में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की भूमिका में नजर आएँगी। इसके अलावा वह तेजस और चंद्रमुखी 2 में भी अहम किरदार निभाते हुए दिखाई देंगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -