Friday, October 22, 2021
Homeसंस्कृत'बददिमाग, कुंठित...': जिस ट्विटर पर सस्पेंड वहीं ट्रेंड कर रहीं कंगना, इजरायल के समर्थन...

‘बददिमाग, कुंठित…’: जिस ट्विटर पर सस्पेंड वहीं ट्रेंड कर रहीं कंगना, इजरायल के समर्थन पर भड़के कट्टरपंथी

"वे आतंकवाद फैलाएँगे। अगर आपने उसका मजबूती से जवाब दिया, तो वे रोने लगेंगे और विक्टिम बन जाएँगे।"

ट्विटर अकाउंट सस्पेंड होने के बाद बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत इन दिनों इंस्टाग्राम के जरिए अपनी बात रख रही हैं। उन्होंने इजरायल की तारीफ करते हुए एक पोस्ट किया। इसके बाद कट्टरपंथियों ने उन्हें ऐसे ट्रोल किया गया कि वे ट्विटर पर न होने के बावजूद ट्रेंड करने लगीं।

अपनी स्टोरी में कंगना ने लिखा, “अपने देश और लोगों को कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद से बचाने के लिए यह हर देश का मौलिक अधिकार है। भारत इजरायल के साथ खड़ा है। जिन्हें लगता है कि आतंकवाद का जवाब धरना और कड़ी निंदा करके देना चाहिए, उन्हें इजरायल से सीखना चाहिए।”

अगली स्टोरी में उन्होंने कहा, “वे आतंकवाद फैलाएँगे। अगर आपने उसका मजबूती से जवाब दिया, तो वे रोने लगेंगे और विक्टिम बन जाएँगे। अगर आप सिर्फ धरना देंगे तो वे आपकी संसद और फाइव स्टार होटल्स पर हमला करेंगे- यही कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद है।”

इन स्टोरी के अपडेट होने के बाद से अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर कंगना को लेकर प्रतिक्रियाएँ आ रही हैं। ट्विटर पर उनके विचारों का विरोध करने वाले लोग उनका हैशटैग चलाकर उन्हें इंस्टाग्राम से भी ब्लॉक करने की जुगत में लगे हैं। लगातार उनके अकाउंट को शेयर कर उसे रिपोर्ट करने की अपील हो रही है।

एक यूजर ने उनकी स्टोरी का स्क्रीनशॉट शेयर कर लिखा, “क्या बददिमाग, कुंठित और इस्लामोफोबिक कंगना रनौत जानती है कि असली आतंकवाद क्या है? रमजान की सबसे पाक रात लैलत-अल-कद्र में 300 रोजेदार घायल हुए थे और इस मूर्ख के लिए निहत्थे रोजेदार क्रूर आतंकवादी थे? वाह।”

नबरीसा नाम की ट्विटर यूजर ने फलस्तीनियों को मासूम करार देते हुए कहा, “कंगना रनौत मुझे नहीं लगता कि तुम्हे फिर कभी आतंकवाद के बारे में बात करनी चाहिए, क्योंकि यह पाखंड है। तुमने आज जो चीजें पोस्ट की हैं, वे आतंकवाद, नाजीवाद और हत्याओं की तरह तुम्हारा मैल दिखाती हैं। जो तुमने कहा, वही आतंकवाद भी कहेगा। तुम्हे शर्म आनी चाहिए कि तुम मासूमों की हत्या करने वालों का समर्थन कर रही हो। इससे फर्क नहीं पड़ता कि तुम किसे जमीन का हकदार बता रही हो, बल्कि इससे पड़ता है कि तुम बेगुनाहों की हत्याओं को सही बता रही हो। थू है तुम पर।”

बता दें कि कंगना ने हालिया स्टोरीज में हमास का उदाहरण देते हुए कहा कि आज दुनिया भर के मुसलमान इस्लाम के लिए हमास के जिहादियों और आतंकियों का समर्थन कर रहे हैं। लेकिन किसी हिंदू या मुस्लिम ने एक बार भी बंगाल में हुए हिंदू नरसंहार पर कुछ नहीं किया और न ही तब बोला जब पाकिस्तान या बांग्लादेश में उन्हें हर रोज मारा जाता है। ये हिंदू मुस्लिम जयचंदों की हकीकत है। वह हिंदुओं को नपुंसक समझते हैं। वहीं मुस्लिमों के लिए बस ये बात महत्वपूर्ण है कि कोई आसमानी किताब को फॉलो करता हो। इसके अलावा उनके लिए इस्लामी देश हैं, लेकिन हिंदुओं के लिए सिर्फ भारत है।

अपनी स्टोरी में कंगना ने नक्शे के जरिए समझाया है कि कैसे यहूदियों के पास सिर्फ उनका एक छोटा देश है। आसपास सारे इस्लामिक राष्ट्र है। कंगना कहती हैं कि इतने इस्लामी देशों के बीच रहने के लिए हिम्मत चाहिए। भारत, इजरायल और उन सभी के साथ है जो इस्लामी कट्टरपंथ से लड़ रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंक पर योगी सरकार लगाएगी नकेल: जम्मू-कश्मीर में बंद 26 आतंकियों को भेजा जा रहा यूपी, स्लीपर सेल के जरिए फैला रहे थे आतंकवाद

कश्मीर घाटी की अलग-अलग सेंट्रल जेलों में बंद 26 आतंकियों का पहला ग्रुप उत्तर प्रदेश की आगरा सेंट्रल जेल के लिए रवाना कर दिया गया।

‘बधाई देना भी हराम’: सारा ने अमित शाह को किया बर्थडे विश, आरफा सहित लिबरलों को लगी आग, पटौदी की पोती को बताया ‘डरपोक’

सारा ने गृहमंत्री को बधाई दी लेकिन नाराज हो गईं आरफा खानुम शेरवानी। उन्होंने सारा को डरपोक कहा और पारिवारिक बैकग्राउंड पर कमेंट किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,880FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe