Thursday, June 30, 2022
Homeसोशल ट्रेंड2 IAS: एक के कुत्ते पर बन रहे मीम, दूसरे की 'मिड डे मील'...

2 IAS: एक के कुत्ते पर बन रहे मीम, दूसरे की ‘मिड डे मील’ के स्वाद के सब हुए दीवाने

"कोई स्टेडियम में कुत्ते घुमाने के लिए खिलाड़ियों का हक छीन रहा, कोई छात्रों को उनका हक दिलाने के लिए साथ में बैठकर मिड डे मील खा रहा। ये कटिहार के DM उदयन मिश्रा हैं।"

सोशल मीडिया पर दो आईएएस अधिकारी ट्रेंड कर रहे हैं। एक हैं संजीव खिरवार, जिनके कुत्ते पर मीम बन रहे हैं। दूसरे बिहार के कटिहार के डीएम उदयन मिश्रा (DM Udayan Mishra)। मिश्रा का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वे जमीन पर बैठकर एक स्कूल में बच्चों के साथ ‘मिड डे मील’ खा रहे हैं।

अमूमन साइकिल से ऑफिस जाने वाले उदयन मिश्रा ने गुरुवार (26 मई 2022) को रौतारा के उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय में औचक निरीक्षण के दौरान मिड-डे मील का स्वाद लिया और उसकी गुणवत्ता की जाँच की। उदयन मिश्रा के इस तरीके की सोशल मीडिया में काफी सराहना हो रही है। उत्कर्ष सिंह लिखते हैं कि कोई स्टेडियम में कुत्ते घुमाने के लिए खिलाड़ियों का हक छीन रहा, कोई छात्रों को उनका हक दिलाने के लिए साथ में बैठकर मिड डे मील खा रहा। ये कटिहार के DM उदयन मिश्रा हैं।

एक अन्य यूजर ट्विटर पर लिखते हैं, “एक उच्च अधिकारी का बच्चों के साथ इस तरह बैठकर खाना खाना बहुत ही अच्छा लगा। हर अधिकारी अगर इस तरीके से स्कूल में जाए तो एक अच्छा संदेश जाएगा। हमारे बच्चों को सही मिलेगा। ऐसे अधिकारियों का मान-सम्मान बढ़ाना जरूरी है, जो ईमानदार हो और गरीबों का ख्याल रखता हो। धन्यवाद।”

प्रकाश कुमार लिखते हैं, “एक DM ऐसा भी! ऐसे तो अधिकारी अपने कड़क अंदाज के लिए जाने जाते हैं, लेकिन मिलिए इस आईएएस अफसर से… ये कटिहार के डीएम हैं। नीचे जमीन पर बैठकर स्कूल में खाना खाने का तरीका दिलचस्प है। बच्चों के बीच ऐसे खाना चेक कर रहे हैं।”

बता दें कि डीएम ने अपने औचक निरीक्षण के दौरान स्कूल की प्रिंसिपल उर्मिला देवी से शिक्षा, मध्याह्न भोजन, विद्यालय के रख-रखाव आदि के संबंध में भी जानकारी ली।

उदयन मिश्रा का वीडियो ऐसे वक्त में वायरल हो रहा है जब दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में कुत्ते के साथ वॉक करने को लेकर आईएएस अधिकारी संजीव खिरवार चर्चा में हैं। इस खबर के सामने आने के बाद उनका लद्दाख ट्रांसफर कर दिया गया है। उनकी IAS पत्नी रिंकू दुग्गा का तबादला अरुणाचल प्रदेश किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा एजीएमयूटी कैडर के दोनों अधिकारियों का ट्रांसफर किए जाने के बाद नेटिजन्स पूछ रहे हैं कि कुत्ते का क्या होगा। वह कहाँ जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, नहीं थी किसी को कल्पना’: राजनीति के धुरंधर एनसीपी चीफ शरद पवार भी खा गए गच्चा, कहा- उम्मीद थी वो...

शरद पवार ने कहा कि किसी को भी इस बात की कल्पना नहीं थी कि एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बना दिया जाएगा।

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,188FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe