Tuesday, July 27, 2021
Homeसोशल ट्रेंडपीएम मोदी के जनता कर्फ्यू को मिला लिबरल-सेक्युलर गैंग का साथ तो किसी ने...

पीएम मोदी के जनता कर्फ्यू को मिला लिबरल-सेक्युलर गैंग का साथ तो किसी ने किया कटाक्ष

मोदी के समर्थन में खुलकर उतर आई लिबरल-सेक्युलर ब्रिगेड इस बात का स्पष्ट साक्ष्य है कि उन्हें भी अब इस कोरोना क्राइसिस की गंभीरता का न सिर्फ अंदाजा हो चुका है बल्कि उन्हें अच्छे से खबर है कि इस बेहद खतरनाक स्थिति से निकालने के लिए जिस सशक्त लीडरशिप की जरूरत है वह मोदी ही दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कल गुरुवार को देश से ‘संकल्प और संयम’ अपना, कोरोना वायरस को मात देने की अपील की। उन्होंने अपने सम्बोधन में 22 मार्च को देशवासियों से ‘जनता कर्फ्यू’ का पालन करने की गुजारिश की, जो कि आने वाले दिनों में कोरोना से लड़ने के लिए एक तरह का सामाजिक मेलजोल से दूरी बनाए रखने का परीक्षण होगा।

देश के नाम इस 30 मिनट के सम्बोधन में मोदी ने लोगों से सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक घर पर रहने को कहा। उन्होंने कोरोना के खतरे से आगाह करते हुए, इस कोरोना के इस वैश्विक खतरे को अभूतपूर्व कहा।

मोदी की इस अपील का समर्थन में कुछ अपवादों के अतिरिक्त सभी तबके के लोगों ने किया है। मोदी के समर्थन में लिबरल-सेक्युलर मीडिया गैंग के अलावा कॉन्ग्रेसी इकोसिस्टम का भी उतर आना वाकई सुखद आश्चर्य देता है, जिसने मोदी के जनता कर्फ्यू का न सिर्फ दिल खोल कर स्वागत किया बल्कि मोदी की इसके लिए जमकर प्रशंसा भी की।

मोदी विरोध के लिए कुख्यात सागरिका घोष मोदी के इस कदम की तारीफ़ करते हुए भी, पीएम पर कटाक्ष करने से बाज नहीं आईं।

वहीं मल्टी टैलेंटेड स्वयंभू सेफालॉजिस्ट और कथित समाजिक कार्यकर्ता योगेंद्र यादव ने भी मोदी की तारीफ करते हुए इकोनॉमिक टास्क फ़ोर्स के आईडिया का भी समर्थन किया।

इन लिबरल सेक्युलर गैंग के प्रमुख व्यक्तियों में से एक राजदीप सरदेसाई ने भी मोदी के ‘जनता कर्फ्यू’ को अपना समर्थन देते हुए इस हेल्थ क्राइसिस से निपटने के लिए सभी उपाय करने की अपील की। सबसे आश्चर्यजनक शेहला राशिद का मोदी की अपील को समर्थन देना रहा। टुकड़े-टुकड़े गैंग की मशहूर सदस्य और मोदी की आलोचना कर सुर्ख़ियों में रहने की आदी शेहला राशिद ने भी लोगों से घर में रहने, अपने एम्प्लॉयी को सवेतन अवकाश देने का पुरजोर समर्थन किया।

इनके अलावा ट्रोल स्वाति चतुर्वेदी ने भी जनता कर्फ्यू के पक्ष में ट्वीट किया, हालाँकि, उन्हें मोदी द्वारा उन लोगों के प्रति आभार जताने की अपील नागवार गुजरी जो इस हेल्थ क्राइसिस में अपनी जान जोखिम में डाल, रात दिन बीमारों की सेवा-उपचार में लगे हैं।

मोदी के समर्थन में खुलकर उतर आई लिबरल-सेक्युलर ब्रिगेड इस बात का स्पष्ट साक्ष्य है कि उन्हें भी अब इस कोरोना क्राइसिस की गंभीरता का न सिर्फ अंदाजा हो चुका है बल्कि उन्हें अच्छे से खबर है कि इस बेहद खतरनाक स्थिति से निकालने के लिए जिस सशक्त लीडरशिप की जरूरत है वह मोदी ही दे सकते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

औरतों का चीरहरण, तोड़फोड़, किडनैपिंग, हत्या: बंगाल हिंसा पर NHRC की रिपोर्ट से निकली एक और भयावह कहानी

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने 14 जुलाई को बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा पर अपनी अंतिम रिपोर्ट कलकत्ता हाईकोर्ट को सौंपी थी।

विधानसभा से मंत्री का ही वॉकआउट: छत्तीसगढ़ कॉन्ग्रेस की लड़ाई में नया मोड़, MLA ने कहा था- मेरी हत्या करा बनना चाहते हैं CM

अपनी ही सरकार के रवैये से आहत होकर छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री TS सिंह देव सदन से वॉकआउट कर गए। उन पर आदिवासी विधायक ने हत्या के प्रयास का आरोप लगाया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,464FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe