Monday, July 26, 2021
Homeसोशल ट्रेंडऐसे कैसे चलेगा खान साहब... पुलिस का ये अंदाज देख भौंचक रह गए लोग

ऐसे कैसे चलेगा खान साहब… पुलिस का ये अंदाज देख भौंचक रह गए लोग

"खान साहब को कूल भी बनना है, खान साहब को हेयर स्टाइल भी दिखाना है, खान साहब को हीरो वाली बाइक भी चलाना है, पर खान साहब को ट्रैफिक रूल्स फॉलो नहीं करना, ऐसे कैसे चलेगा खान साहब।"

पुलिस वाले भी हमारी आप की तरह हाड़-मांस के ही बने होते हैं। फिर भी अमूमन उनका ह्यूमर खाकी के पीछे छिप जाता है। लेकिन, पुणे पुलिस ने अपने ह्यूमर से सोशल मीडिया यूजर्स को चौंका दिया है। वैसे पुणे पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर हमेशा कुछ न कुछ ऐसे ट्वीट आते हैं कि जिन्हें पढ़कर यूजर खुद ही रीट्वीट करने पर मजबूर हो जाए। पुणे पुलिस यूजर्स से उनकी भाषा में बात करने के लिए मशहूर है। अभी ये हालिया उदाहरण देखिए। एक ट्विटर यूजर ने ट्वीट के जरिए उनसे एक बाइक चालक की शिकायत की। यूजर ने अपने ट्वीट में लिखा कि खान साहब बिना हेलमेट के फैंसी नंबर प्लेट लगा कर गाड़ी चला रहे हैं, इन पर जरूरी कार्रवाई की जाए।

लेकिन, यहाँ इस शिकायत पर अन्य शहरों की पुलिस की तरह पुणे पुलिस ने यूजर को केवल इस मामले पर संज्ञान लेने का आश्वासन ही नहीं दिया। पुणे पुलिस ने अलग ही अंदाज में जवाब दिया। पुणे पुलिस यूजर्स की शिकायत पर लिखती है, “खान साहब को कूल भी बनना है, खान साहब को हेयर स्टाइल भी दिखाना है, खान साहब को हीरो वाली बाइक भी चलाना है, पर खान साहब को ट्रैफिक रूल्स फॉलो नहीं करना, ऐसे कैसे चलेगा खान साहब।”

देखते ही देखते पुणे पुलिस का ये पोस्ट वायरल हो गया। अभी तक पुणे पुलिस के इस ट्वीट पर 5.6k रीट्वीट्स हैं, जबकि 20.4K लाइक आ चुके हैं। पुणे सिटी के पुलिस कमिश्नर के आधिकारिक हैंडल से भी इसे रिट्वीट किया गया है।

एक यूजर लिखता है, “मेरी तो हँसी नहीं रुक रही है, वैसे कितने का चालान काटा है सर, ये भी ट्वीट करना चाहिए था। बेचारा नवाब बन रहा था पूरी नवाबी तो एक फोटो अपलोड होने से निकाल गई।”

पुणे पुलिस के इस ट्वीट के बाद लोग अन्य बाइकों की भी फोटो डालने लगे और उन लोगों को भी सबक सिखाने को कहा। कुछ इसे सीएए और एनआसी से जोड़कर चुटकी लेने लगे कि अगर खान साहब कागज़ नहीं दिखाएँगे तो कितने का जुर्माना लगेगा।

बता दें, सोशल मीडिया पर युवक की शिकायत के बाद पुलिस ने इस मामले में एक्शन ले लिया है। जिसके लिए उन्होंने यूजर को बकायादा चालान नंबर बताते हुए सूचित भी किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हम आपको नहीं सुनेंगे…’: बॉम्बे हाईकोर्ट से जावेद अख्तर को झटका, कंगना रनौत से जुड़े मामले में आवेदन पर हस्तक्षेप से इनकार

जस्टिस शिंदे ने कहा, "अगर हम इस तरह के आवेदनों को अनुमति देते हैं तो अदालतों में ऐसे मामलों की बाढ़ आ जाएगी।"

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस रहे मदन लोकुर से पेगासस ‘इंक्वायरी’ करवाएँगी ममता बनर्जी, जिस NGO से हैं जुड़े उसे विदेशी फंडिंग

पेगासस मामले की जाँच के लिए गठित आयोग का नेतृत्व सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश मदन लोकुर करेंगे। उनकी नियुक्ति सीएम ममता बनर्जी ने की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,324FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe