Sunday, September 25, 2022
Homeसोशल ट्रेंडकृषि कानून विरोधी सिख प्रदर्शनकारियों ने लगाए ‘नारा-ए-तकबीर, अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे: देखें वीडियो

कृषि कानून विरोधी सिख प्रदर्शनकारियों ने लगाए ‘नारा-ए-तकबीर, अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे: देखें वीडियो

सोशल मीडिया पर लोगों ने इस मामले पर नाराजगी जाहिर की। वीडियो को देखने से ऐसा लग रहा है कि ये लोग किसी चलती वाहन में बैठे हैं। इन लोगों ने अपने सिर पर पगड़ी या दुपट्टा बाँध रखा है। उन्होंने ‘सत श्री अकाल’ और ‘मोदी सरकार मुर्दाबाद’ सहित कई नारे भी लगाए।

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें कृषि कानून विरोधी सिख प्रदर्शनकारियों को ‘नारा-ए-तकबीर, अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे लगाते हुए सुना जा सकता है। इसके अलावा प्रदर्शनकारियों ने ‘किसान-मजदूर एकता ज़िंदाबाद’ और मोदी विरोधी नारे भी लगाए गए।

सोशल मीडिया पर लोगों ने इस मामले पर नाराजगी जाहिर की। वीडियो को देखने से ऐसा लग रहा है कि ये लोग किसी चलती वाहन में बैठे हैं। इन लोगों ने अपने सिर पर पगड़ी या दुपट्टा बाँध रखा है। उन्होंने ‘सत श्री अकाल’ और ‘मोदी सरकार मुर्दाबाद’ सहित कई नारे भी लगाए।

हालाँकि, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि वीडियो कहाँ का है या फिर ये कहाँ पर शूट किया गया है, लेकिन ऐसा लगता है कि यह वीडियो संसद द्वारा पारित कृषि कानूनों के खिलाफ जारी आंदोलन के दौरान कैप्चर किया गया है। 

सोशल मीडिया पर शेयर किया गया वीडियो 45 सेकंड लंबा है। विरोध प्रदर्शन पिछले कुछ महीनों से चल रहा है और यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि वे कब तक समाप्त होंगे। गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी में प्रदर्शनकारियों के हंगामे के बाद दिल्ली पुलिस ने दिल्ली में सीमाओं को मजबूत कर दिया है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों एक वीडियो सामने आया था, जिसमें ‘प्रदर्शनकारी’ महिलाएँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मरने की दुआ कर रही थी। इससे पहले पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह ने ‘किसान आंदोलन’ में भड़काऊ भाषण दिया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का नाम लेकर कहा था कि अगर ‘हिम्मत है तो वो अकेले आएँ और किसानों से बात करे।’ एक पंजाबी समाचार चैनल से बात करते हुए उन्होंने पीएम मोदी को जान से मारने की दी गई धमकियों का भी समर्थन किया था। योगराज सिंह ने कहा कि उन्होंने पीएम मोदी सहित भाजपा के अन्य नेताओं के चेहरे देखे हैं, वो सभी ‘शैतानों की तरह’ दिखते हैं।

इसी तरह का एक और वीडियो सामने आया था जिसमें एक तथाकथित किसान द्वारा स्पष्ट तौर पर यह कहते हुए सुना जा सकता था कि जैसे इंदिरा गाँधी को ठोका वैसे ही नरेंद्र मोदी को भी ठोक देंगे। वहीं एक वीडियो में प्रदर्शनकारी ‘जय हिन्द’ बोलने से भी इनकार कर रहा था। जब ये सब चल रहा था, तब ओखला से आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक अमानतुल्लाह खान वहीं पर मौजूद थे। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

’20 साल में दोगुनी हो गई मुस्लिमों की जनसंख्या, संसद में उठी थी शरिया की माँग’: नेपाल के सांसद ने बताया – यहाँ के...

सांसद अभिषेक प्रताप शाह ने बताया कि नेपाल की केंद्रीय और प्रादेशिक राजनीति में कई मुस्लिम सक्रिय है और मुस्लिमों के लिए बजट भी पास होता है, मदरसों को अनुदान मिलता है।

अब उत्तर प्रदेश के हर स्कूल में अनिवार्य होगी योग की शिक्षा, योगी सरकार ने तैयार किया ड्राफ्ट: खेल टूर्नामेंट्स के लिए बच्चों को...

योगी आदित्यनाथ की सरकार ने उत्तर प्रदेश के सभी स्कूलों में योग को अनिवार्य करेगी। इसका मसौदा तैयार कर लिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,170FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe