Friday, June 5, 2020
होम सोशल ट्रेंड CAA-विरोधी को नहीं पसंद आई CAA-समर्थक ड्राइवर की FoE, Ola से की शिकायत

CAA-विरोधी को नहीं पसंद आई CAA-समर्थक ड्राइवर की FoE, Ola से की शिकायत

"आपने तब विरोध किया जब कश्मीरी पंडितों का बलात्कार और उनकी हत्या की जा रही थी? आप उन देशद्रोही लोगों में से एक हैं, जिन्हें सरकार की हर बात में बुराई नजर आती है। आप जरूर CAA और NRC के भी विरोध में होंगे।"

ये भी पढ़ें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

सत्ता-विरोधी दलों ने मानो CAA-विरोधी माहौल के बहाने अपनी मानसिकता के जहर को भुनाने की कसम खा ली है। इसका ही एक ताजा उदाहरण कैब सर्विस ओला (Ola) के एक ड्राइवर के साथ देखने को मिला है, जिसे एक CAA विरोधी ने सिर्फ इस वजह से Ola से नौकरी से निकलवा दिया क्योंकि वह CAA और NRC के मुद्दे पर सरकार के समर्थन में था। पिछले कुछ समय से देशभर से ऐसी घटनाएँ देखने को मिल रही हैं, जिनमें CAA और NRC के विषय पर सरकार का समर्थन करना लोगों को महँगा पड़ गया।

Ola कैब सर्विस ने अपने एक ड्राइवर को एक CAA-विरोधी की शिकायत पर निकाल दिया है। ट्विटर पर कनव शर्मा नाम के एक व्यक्ति ने, जो कि ‘A.T. Kearney’ नाम की एक कम्पनी में मैनेजमेंट कंसल्टेंट के तौर पर काम करते हैं (उनके ट्विटर द्वारा प्राप्त जानकारी) ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए एक ओला कैब ड्राइवर के प्रति अपनी नफरत को जाहिर किया है।

कनव शर्मा ने अपने ट्वीट्स में लिखा है कि ओला कैब ड्राइवर ने उन्हें फोन पर बात करते हुए सुना, जिसमें कि वो भारत की आर्थिक स्थिति की आलोचना कर रहे थे। इस पर कैब ड्राइवर ने अपना विचार रखते हुए कनव शर्मा से कहा कि मोदी सरकार को तो अभी सिर्फ 6 साल हुए हैं और कॉन्ग्रेस द्वारा सत्तर सालों तक किए गए नुकसान के लिए मोदी को जिम्मेदार ठहरना गलत होगा। इस पर कनव शर्मा ने ड्राइवर से पूछा कि कॉन्ग्रेस ने क्या नुकसान किया?

कनव शर्मा के अनुसार, ड्राइवर ने उनसे कहा कि कॉन्ग्रेस ने JNU जैसी संस्थाएँ बनाई जो कि आज टुकड़े-टुकड़े गैंग के लिए वैश्यावृत्ति की जगह बन चुका है। कनव शर्मा ने लिखा है कि ड्राइवर ने उनसे कहा- “आपको पता है कि नेहरू कौन था? वो इंडिया के पहले प्रधानमंत्री थे लेकिन उनके दादा मुस्लिम थे जो कि हिन्दुओं को बेवकूफ बनाने के लिए कन्वर्ट होकर हिन्दू बन गए थे।”

इसके बाद कनव शर्मा ने लिखा कि उन्होंने ड्राइवर को तथ्यों को जाँचने की सलाह दी और कहा कि यह तथ्य उनकी आर्थिक स्थिति की समस्या का समाधान नहीं हो सकता है। इसके बाद कनव शर्मा ने लिखा है कि ड्राइवर ने उन्हें जवाब देते हुए कहा- “आप उन देशद्रोही लोगों में से एक हैं, जिन्हें सरकार की हर बात में बुराई नजर आती है। आप जरूर CAA और NRC के भी विरोध में होंगे।”

इस पर कनव शर्मा ने ट्वीट में लिखा है कि उन्होंने जवाब दिया कि हाँ वो CAA और NRC, दोनों के विरोध में हैं। इसके बाद कनव शर्मा ने कहा कि ओला ड्राइवर ने कहा- “आपने तब विरोध किया जब कश्मीरी पंडितों का बलात्कार और उनकी हत्या की जा रही थी?” इसके बाद कनव ने ड्राइवर को जवाब दिया कि उनके साथ गलत हुआ लेकिन वो जम्मू-कश्मीर से हैं और सभी धर्म के लोगों के साथ बड़े हुए हैं इसलिए वो उन सबकी इज्जत करते हैं।”

कनव शर्मा ने लिखा है कि इसके बाद ड्राइवर ने उनसे कहा- “तुम्हारा परिवार 1990 की घटना में बच गया, तुम लोग भी उनके साथ शामिल रहे होंगे।” कनव इस पर अपनी प्रतिक्रिया में लिखते हैं कि उसे यह पता नहीं रहा होगा कि वो एक कश्मीरी पंडित नहीं हैं, जिनके साथ ना 1990 की घटना हुई और ना ही कश्मीर से संबंध रखते हैं।”

कनव शर्मा ने ड्राइवर पर आरोप लगाया कि उसने उन्हें पाकिस्तान जाने की सलाह देते हुए यह भी कहा कि उनकी जैसी मानसिकता वाले लोगों के बिना यह देश ज्यादा साफ़ होता।” इसके बाद कनव शर्मा ने लिखा है कि वो अपनी जगह पर पहुँच चुके थे और उन्होंने Ola कैब सर्विस को टैग करते हुए ड्राइवर की शिकायत की। कनव ने Ola को टैग करते हुए लिखा कि बेहतर होता कि उनके ड्राइवर्स बजाए लोगों को देशद्रोही बताने के अपनी ड्राइविंग पर ज्यादा ध्यान दें।

इसके बाद कैब सर्विस Ola ने कनव शर्मा को आश्वस्त करते हुए ट्वीट का जवाब देकर लिखा है कि वो उनसे असुविधा के लिए क्षमा चाहते हैं। Ola ने लिखा कि उन्होंने अपने ड्राइवर पार्टनर से इस बारे में सम्पर्क किया है और वो उनके खिलाफ आवश्यक कार्रवाई करेंगे।

इसके बाद कुछ ट्विटर यूजर्स ने शिकायतकर्ता की बिना सुबूत के आरोप लगाने पर सवाल उठाए हैं और Ola से वापस सवाल किए हैं कि उनके पास क्या सबूत हैं कि कनव शर्मा द्वारा लगाए गए आरोप सच हैं? साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि यदि ड्राइवर ने यह कहा भी है तो यह उसकी अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता है, जो कि उससे नहीं छीनी जा सकती है।

एक नजर कैब ड्राइवर के समर्थन में किए जा रहे ट्वीट्स पर-

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

ख़ास ख़बरें

दरभंगा: नजीर के घर बड़ा धमाका, 1 किमी तक गूॅंजी आवाज; लोगों ने पूछा- बम बना रहा था या पटाखा?

नजीर के परिवार के 5 लोगों जख्मी हैं। इनमें तीन बच्चे हैं। जबरदस्त धमाके के साथ हुए विस्फोट में लगभग एक दर्जन घर क्षतिग्रस्त हो गए।

सुनियोजित साजिश थी जामिया हिंसा, हर दंगाई के पास पहले से थे पत्थर, पेट्रोल बम: दिल्ली पुलिस का खुलासा

जामिया में बीते साल 13 और 15 दिसंबर को हिंसा हुई थी। बकौल दिल्ली पुलिस यह सीएए के विरोध में हुई छोटी-मोटी घटना नहीं थी।

गुजरात कॉन्ग्रेस: बगिया लुट गई, माली बेखबर, राज्यसभा चुनाव के साथ ही टलने वाला नहीं है यह संकट

मोरबी से कॉन्ग्रेस विधायक बृजेश मेरजा ने इस्तीफा दे दिया है। गुजरात में राज्यसभा चुनाव से पहले यह आठवें विधायक का इस्तीफा है। लेकिन, कॉन्ग्रेस के लिए तो यह केवल संकटों की शुरुआत है।

दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में बताया मुस्लिम दंगाइयों ने काटकर आग में फेंक दिया था दिलबर नेगी को, CCTV तोड़ दिए थे

इस चार्जशीट के अनुसार, मुस्लिम समुदाय की एक भीड़ ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली के बृजपुरी पुलिया की तरफ से आई और हिंदुओं की संपत्तियों को निशाना बनाते हुए दंगा करना शुरू कर दिया और 24 फरवरी की देर रात तक उनमें आगजनी करती रही।

जब अजीत डोभाल ने रिक्शावाला बन कर खालिस्तानी आतंकियों को विश्वास दिलाया कि वो ISI अजेंट हैं

ऑपरेशन ब्लू स्टार के पीछे जो बातें सबसे अहम रहीं, उनमें खालिस्तानी अलगाववादियों के पंजाब की स्वायत्तता की माँग का उग्र रूप में सामने आना प्रमुख वजह रहा।

ताहिर हुसैन के बचाव में फिर खड़ा हुआ केजरीवाल का MLA अमानतुल्लाह खान, कहा- मुसलमान होने की मिली है सजा

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हिंदू विरोधी दंगों में चार्जशीट दाखिल होने के बाद AAP विधायक अमानतुल्लाह खान ने पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन का बचाव किया है।

प्रचलित ख़बरें

पूजा भट्ट ने 70% मुस्लिमों की आबादी के बीच गणेश को पूजने वालों को गर्भवती हथनी की हत्या का जिम्मेदार बताया है

पूजा भट्ट का मानना है कि 70% मुस्लिम आबादी वाले केरल के मल्लपुरम में इस हत्या के लिए गणेश को पूजने वाले लोग जिम्मेदार हैं।

लव जिहाद में मारी गई एकता: भाभी रेशमा ने किया था नंगा, शाकिब और अब्बू सहित परिवार ने किए थे शरीर के टुकड़े

पीड़िता की माँ सीमा शाकिब का साथ देने वाली उसकी दोनों भाभियों रेशमा और इस्मत से पूछती रहीं, क्या एकता के कपड़ें उतारते हुए, उसे नंगा करते हुए...

हलाल का चक्रव्यूह: हर प्रोडक्ट पर 2 रुपए 8 पैसे का गणित* और आतंकवाद को पालती अर्थव्यवस्था

PM CARES Fund में कितना पैसा गया, ये सबको जानना है, लेकिन हलाल समितियाँ सर्टिफिकेशन के नाम पर जो पैसा लेती हैं, उस पर कोई पूछेगा?

जब अजीत डोभाल ने रिक्शावाला बन कर खालिस्तानी आतंकियों को विश्वास दिलाया कि वो ISI अजेंट हैं

ऑपरेशन ब्लू स्टार के पीछे जो बातें सबसे अहम रहीं, उनमें खालिस्तानी अलगाववादियों के पंजाब की स्वायत्तता की माँग का उग्र रूप में सामने आना प्रमुख वजह रहा।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी की भतीजी ने चाचा पर लगाया यौन उत्‍पीड़न का आरोप, कहा- बड़े पापा ने भी मेरी कभी नहीं सुनी

"चाचा हैं, वे ऐसा नहीं कर सकते।" - नवाजुद्दीन ने अपनी भतीजी की व्यथा सुनने के बाद सिर्फ इतना ही नहीं कहा बल्कि पीड़िता की माँ के बारे में...

‘सीता माता पर अपशब्द… शिकायत करने पर RSS कार्यकर्ता राजेश फूलमाली की हत्या’ – अनुसूचित जाति आयोग से न्याय की अपील

RSS कार्यकर्ता राजेश फूलमाली की मौत को लेकर सोशल मीडिया पर आवाज उठनी शुरू हो गई। बकरी विवाद के बाद अब सीता माता को लेकर...

दरभंगा: नजीर के घर बड़ा धमाका, 1 किमी तक गूॅंजी आवाज; लोगों ने पूछा- बम बना रहा था या पटाखा?

नजीर के परिवार के 5 लोगों जख्मी हैं। इनमें तीन बच्चे हैं। जबरदस्त धमाके के साथ हुए विस्फोट में लगभग एक दर्जन घर क्षतिग्रस्त हो गए।

शरजील इमाम और हर्ष मंदर ने प्रदर्शनकारियों को बरगलाया: चार्जशीट में दंगे भड़काने में इनकी अहम भूमिका का उल्लेख

चार्जशीट में जेएनयू छात्र शारजील इमाम और हर्ष मंदर की दिल्ली हिंसा में भूमिका बताई गई है। पुलिस ने चार्जशीट में कहा कि समिति ने जेएनयू छात्र शरजील इमाम को विरोध के लिए बुलाया था। जहाँ शरजील ने......

दिसंबर 2019 से 2020 के दिल्ली दंगों तक: पहचान छिपाने के लिए इस्लामी भीड़ ने CCTV कैमरों से कैसे की छेड़छाड़

दिल्ली दंगों की जाँच के दौरान खुलासा हुआ कि इस्लामिक दंगाइयों ने पकड़ में आने से बचने के लिए CCTV कैमरों को नष्ट कर दिया था।

आकार पटेल पर FIR: भारत में अमेरिका जैसे दंगों के लिए मुस्लिमों और दलितों को उकसाया था

एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया के कार्यकारी निदेशक आकार पटेल के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। उन पर दलितों और मुस्लिमों को उकसाने का आरोप है।

केरल: गर्भवती हथिनी की हत्या मामले में एक गिरफ्तार, अनानास में पटाखे रखकर खिला दिया था

केरल में एक गर्भवती हथिनी को पटाखों से भरा अनानास खिलाने के मामले में एक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उससे पूछताछ की जा रही है।

सुनियोजित साजिश थी जामिया हिंसा, हर दंगाई के पास पहले से थे पत्थर, पेट्रोल बम: दिल्ली पुलिस का खुलासा

जामिया में बीते साल 13 और 15 दिसंबर को हिंसा हुई थी। बकौल दिल्ली पुलिस यह सीएए के विरोध में हुई छोटी-मोटी घटना नहीं थी।

कोरोना के इलाज में प्रयुक्त हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा के शोध में बड़ा फर्जीवाड़ा, लैंसेट पत्रिका ने हटाया विवादास्पद शोधपत्र

इस स्टडी की सत्यता को जानने के लिए WHO और दूसरी संस्थाओं से दुनियाभर के 100 से ज्यादा रिसर्चर ने जाँच करवाने की डिमांड की थी। जिसके बाद लैंसेट ने कहा, "नए डेवलपमेंट के बाद हम प्राइमरी डेटा सोर्स की गारंटी नहीं ले सकते, इसलिए स्टडी वापस ले रहे हैं।"

गुजरात कॉन्ग्रेस: बगिया लुट गई, माली बेखबर, राज्यसभा चुनाव के साथ ही टलने वाला नहीं है यह संकट

मोरबी से कॉन्ग्रेस विधायक बृजेश मेरजा ने इस्तीफा दे दिया है। गुजरात में राज्यसभा चुनाव से पहले यह आठवें विधायक का इस्तीफा है। लेकिन, कॉन्ग्रेस के लिए तो यह केवल संकटों की शुरुआत है।

हथिनी के बाद, अब हिमाचल में गर्भवती गाय को बम खिलाने की बात सोशल मीडिया पर आई सामने

सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे इस वीडियो में हिमाचल प्रदेश के गुरदयाल सिंह इस जख्मी गाय के साथ नजर आ रहे हैं। उनका कहना है कि लोग गौरक्षा की बात कर रहे हैं जबकी......

दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में बताया मुस्लिम दंगाइयों ने काटकर आग में फेंक दिया था दिलबर नेगी को, CCTV तोड़ दिए थे

इस चार्जशीट के अनुसार, मुस्लिम समुदाय की एक भीड़ ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली के बृजपुरी पुलिया की तरफ से आई और हिंदुओं की संपत्तियों को निशाना बनाते हुए दंगा करना शुरू कर दिया और 24 फरवरी की देर रात तक उनमें आगजनी करती रही।

हमसे जुड़ें

212,379FansLike
61,453FollowersFollow
246,000SubscribersSubscribe