Thursday, May 23, 2024

विषय

Entertainment

ज़ायरा वसीम पर सेलेब्रिटी दो-फाड़, कोई बोले- ‘ड्रामेबाज़’, तो कोई ‘साहसी’

रवीना टंडन के अनुसार दो फिल्म पुरानी लड़की के कृतघ्न होने से बॉलीवुड को कोई फर्क नहीं पड़ता। ऐसे लोगों को पुरातनपंथी विचार खुद तक सीमित रखने चाहिए।

‘ज़ायरा का अकाउंट हैक हो गया था, उसने नहीं कहा बॉलीवुड इस्लाम से दूर कर देता है’

ज़ायरा वसीम ने लिखा था कि इतनी शोहरत और सफलता मिलने के बाद भी वह खुश नहीं हैं। उनके कैरियर ने उनके मज़हब के साथ उनके रिश्ते पर असर डाला है।

बॉलीवुड का ‘दंगल’ छोड़ने पर उमर अब्दुल्ला और फ़ैसल ने ज़ायरा का किया समर्थन

दरअसल, ज़ायरा वसीम ने यह कहकर बॉलीवुड को बॉय-बॉय कह दिया कि अपने काम से ख़ुश नहीं हैं। अपने फेसबुक पेज पर उन्होंने लिखा कि वो ख़ुश इसलिए नहीं हैं क्योंकि बॉलीवुड उन्हें उनके अल्लाह और उनके मज़हब इस्लाम से दूर कर रहा था।

बॉलीवुड अल्लाह और इस्लाम से दूर कर रहा था: ‘दंगल गर्ल’ ज़ायरा वसीम ने ग्लैमर वर्ल्ड को कहा अलविदा

यह एक विडंबना है कि ज़ायरा का यह निर्णय सिल्वर स्क्रीन पर उनके द्वारा जिए गए किरदारों के व्यक्तित्व से एकदम उलट है। ज़ायरा ने अपने संक्षिप्त करियर में सामाजिक रूढ़ियों को तोड़ कर आगे बढ़ने वाली महिलाओं का किरदार निभाया है। सीक्रेट सुपरस्टार तो मुस्लिम पिता की दकियानूसी सोच के ही खिलाफ एक लड़की के ग्लैमर जगत में प्रवेश करने और सफलता पाने की ही कहानी थी।

बच्चों का नृत्य विचारोत्तेजक नहीं बल्कि उनकी क्षमता-शक्ति का परिचायक है, इसे सीमाओं में न बाँधें…

सुपर डांसर रियलिटी शो की दिपाली इसका उदाहरण है, जिसके डांस और एक्सप्रेशन के तालमेल ने उसे टीवी पर्दे पर लीड रोल दिलाया। मुमकिन है अगर इस जगह उसे दायरे में रहकर परफॉर्म करने की सलाह दी जाती, या फिर उसकी परवरिश विचारोत्तेजक नृत्य और उसकी उम्र के नृत्य में फर्क़ बताने में हुई होती तो ऐसा संभव नहीं हो पाता।

लैला: 2047 के काल्पनिक भारत के नाम पर डर, नफ़रत, अराजकता और हिंदुत्व विरोधी तानाबाना

इनके हर झूठ को बेनकाब कीजिए, इन्हें पढ़िए, तर्कों से घेरिए, इनसे सवाल पर सवाल कीजिए, इनके हर नैरेटिव की लंका लगा दीजिए। इनसे पूछिए कि क्यों ऐसे स्टोरी-टेलर और पूँजीपति हलाला, तलाक या आतंकवाद या समुदाय विशेष पर खुलकर कुछ नहीं कह पा रहे, कुछ बना नहीं पा रहे?

किशोर कुमार की पत्नी और बीते जमाने की एक्ट्रेस-सिंगर का निधन हो गया, क्या आप उन्हें जानते हैं?

रूमा गुहा ने साल 1944 में हिंदी फिल्म 'ज्वार-भाटा' से बॉलीवुड डेब्यू किया था। इसके बाद उन्होंने बंगाली फिल्मों की ओर रुख कर लिया था। रूमा ने ‘एंटोनी फिरंगी’, ‘गंगा ओभीजान’, ‘बालिका वधू’ और ‘अभिजान’ समेत कई बंगाली फिल्मों में काम भी किया।

अक्षय कुमार की फिल्म ‘Laxmmi Bomb’ से डायरेक्टर हुए अलग, बोला – आत्मसम्मान के लिए!

राघव लॉरेंस ने ट्विटर लिखा, "जिस घर में सम्मान ना मिले, उस घर में नहीं जाना चाहिए। इस दुनिया में दौलत और शोहरत से अधिक आत्मसम्मान जरूरी है। इसलिए मैं फिल्म 'लक्ष्मी बम' छोड़ रहा हूँ।"

मरने के बाद मेरी ‘इस’ तस्वीर पर चढ़ाना माला: ट्विंकल खन्ना की प्रबल इच्छा

ट्विकंल खन्ना अक्सर ऐसी तस्वीरें साझा कर पति अक्षय कुमार का मजाक उड़ाया करती हैं। हाल ही में उन्होंने एक तस्वीर साझा की थी, जिसमें वे बोट चलाती नजर आ रही हैं और बगल में अक्षय कुमार बैठे हैं।

LET’S KILL THIS LOVE: 24 घंटे में 5 करोड़ 67 लाख व्यूज़ के साथ बना डाला नया YouTube रिकॉर्ड

LET'S KILL THIS LOVE नाम का यह गाना 3.13 मिनट का है। इस गाने को बनाने के बाद जब इसको यूट्यूब पर 4 अप्रैल को अपलोड किया गया तो यह कुछ ही समय में यह वायरल हो गया। 24 घंटे में इसे 56.7 मिलियन (5 करोड़ 67 लाख) बार देखा गया।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें