Saturday, June 22, 2024

विषय

Indic Culture

गुजरात में मकरसंक्रांति पर पटाखे क्यों? विवादित बाबरी ढाँचे और वाजपेयी-आडवाणी के कनेक्शन से कैसे हुई इसकी शुरुआत?

पूरे गुजरात में मकरसंक्रांति की संध्या को पटाखे फोड़े जाते हैं। दो पल को ऐसा लगता है कि समग्र गुजरात में दीवाली वापस आ गई है।

BJP सरकार की दो धुरी- विकास और विरासत: जिस संस्कृति को भारतीय राजनीति मानती रही अछूत, उसे PM मोदी ने बना दिया कूटनीति का...

विकास और विरासत मोदी सरकार की दो धुरी हैं। यही कारण है कि प्रधानमंत्री बार-बार कहते हैं कि यह समय अपनी विरासत पर गर्व करने का है।

ईसाई रीति-रिवाज और पवित्र तेल से बना राजा: जो चले थे ‘ज्ञान का उजियारा’ देने… उनका लोकतंत्र आज अंधेरे में

भारत की धार्मिक और सांस्कृतिक परम्पराओं का मजाक उड़ाने वाले अंग्रेजों में आज भी ईसाई कुप्रथाएँ ऐसी फैली हैं कि राजा तक को...

उत्तरी प्रवेश द्वार पर हाथी और पूर्व में गरूड़: नए संसद भवन में मिलेगी 5000 साल पुरानी भारतीय संस्कृति की झलक, 1000 देसी कारीगरों...

दिल्ली में बन रही नई संसद में भारत की 5000 साल पुरानी सभ्यता को दर्शाया गया है। इसके लिए 5000 आर्ट वर्क तैयार किए गए हैं।

पोलैंड: लाइब्रेरी की दीवार पर उकेरे गए उपनिषद के छंद, यूजर्स बोले- दुनिया हिंदू धर्म अपना रही है

पोलैंड के पुस्तकालय की दीवार पर उकेरे गए उपनिषद के छंदों की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इसे भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया है।

गाँधी जब उठाए थे लाठी: PETA ने उनकी बकरी और दूध पर कर दी थी हिंसक बात

ऐसे भारतवासियों से आज PETA कह रहा है कि वेगन मिल्क पीयो। बता रहा है कि गाय और भैंस का दूध पीना पाप है। दूध निकालना गायों और भैंसों के साथ क्रूरता है, निष्ठुरता है, निर्दयता है।

होली के रंग में जीवन का उल्लास: होलिका, होलाका, धुलेंडी, धुरड्डी, धुरखेल, धूलिवंदन… हर नाम में छिपा है कुछ बहुत खास

आध्यात्मिक रूप से होलिका दहन का मकसद पुराने कपड़ों या वस्तुओं को जलाना ही नहीं है, बल्कि पिछले एक साल की यादों को जलाना है ताकि...

काशी में क्यों खेली जाती है चिता-भस्म की होली, भूतभावन महादेव अब भी आते हैं महाश्मशान मणिकर्णिका?

बनारस की होली भी बनारस के मिजाज के अनुसार ही अड़भंगी है। दुनिया का इकलौता शहर जहाँ अबीर, गुलाल के अलावा धधकती चिताओं के बीच चिता भस्म की होली होती है।

परमार वंश के राजमहल पर ‘निजी सम्पत्ति’ का बोर्ड लगाने वाले काजी पर जुर्माना, जगह खाली करने का आदेश

परमार वंश के राजमहल पर 'निजी सम्पत्ति' का बोर्ड लगाने वाले काजी इरफान अली को जगह खाली करने का आदेश दिया गया है।

प्रशासन ने हटाया परमार वंश के राजमहल से काजी परिवार की ‘निजी सम्पत्ति’ का बोर्ड

इस पर 'निजी संपत्ति' का बोर्ड लगाने वाले एक काजी ने दावा किया कि यह एक हजार साल पुराना ना होकर चार सौ साल पुराना है, जिसे उनके पूर्वजों द्वारा पूरा कराया गया था।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें