Wednesday, November 30, 2022
Homeवीडियोचीन के लिए भारत में बल्लेबाजी करने वाले कौन: अजीत भारती का सवाल |...

चीन के लिए भारत में बल्लेबाजी करने वाले कौन: अजीत भारती का सवाल | Ajeet Bharti on China backers in India

राहुल गाँधी ने प्रश्न पूछने का ढोंग रचा है। वो भी ऐसे समय में जब भारतीय सेना प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दे चुकी है। तो क्या उनकी जानकारी इतनी अविश्वसनीय है कि राहुल गाँधी को पीएम से जवाब चाहिए।

जब सभी देशवासियों को देश के साथ खड़े होकर सेना का मनोबल बढ़ाने का समय होता है, ऐसे हर वक्त पर कॉन्ग्रेस पार्टी ने सेना पर सवाल उठाए हैं। गलवान घाटी में 20 सैनिकों के बलिदान को लेकर पूर्व कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने लिखा कि पीएम मोदी चुप क्यों हैं? कहाँ छुपे हुए हैं? वहाँ क्या हुआ है, ये देश को बताते क्यों नहीं? चीन की हिम्मत कैसे हुई हमारे जवानों को मारने की? वो हमारी जमीन कैसे ले सकते हैं?

इस ट्वीट के जरिए राहुल गाँधी ने प्रश्न पूछने का ढोंग रचा है। वो भी ऐसे समय में जब भारतीय सेना प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दे चुकी है। तो क्या उनकी जानकारी इतनी अविश्वसनीय है कि राहुल गाँधी को पीएम से जवाब चाहिए। चीन ने कितनी जमीन पर, कॉन्ग्रेस के किस और यूपीए के किस प्रधानमंत्री के काल में कब्जा किया है, इसका राहुल गाँधी को तनिक भी ज्ञान नहीं है।

पूरी वीडियो यहाँ क्लिक कर के देखें।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अजीत भारती
अजीत भारती
पूर्व सम्पादक (फ़रवरी 2021 तक), ऑपइंडिया हिन्दी

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अब वक्फ बोर्ड खुद खोलेगा स्कूल-कॉलेज, मुस्लिम छात्राएँ पहनेंगी बुर्का-हिजाब: बोले आक्रोशित हिन्दू संगठन – देश के लिए खतरा बनेंगे शरिया शैक्षणिक संस्थान

मुस्लिमों की बढ़ती माँगों को देखते हुए वक्फ बोर्ड खोलेगा नए शिक्षण संस्थान। हिन्दू संगठनों ने कहा कि देश में 'शरीया संस्थानों' की जरूरत नहीं।

मॉर्निंग वॉक पर निकली मंदिर के हथिनी ‘लक्ष्मी’ की मौत, लोगों ने रोते हुए दी अंतिम विदाई: लोगों ने एक्टिविस्ट्स को बताया जिम्मेदार

हथिनी लक्ष्मी को इलाज के लिए पशु चिकित्सकों के पास ले जाया गया, लेकिन कार्डियक अरेस्ट के कारण उसने दम तोड़ दिया। मंदिर के सामने अंतिम दर्शन के लिए रखा गया शव।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,216FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe