Monday, November 29, 2021
Homeवीडियोभगवा झंडों से डरा नागरिक, कल हमारी मस्जिद में भी बाँध देंगे: अजीत भारती...

भगवा झंडों से डरा नागरिक, कल हमारी मस्जिद में भी बाँध देंगे: अजीत भारती का वीडियो । Ajeet Bharti on Muslims Playing Victim On Bhumipujan

द वायर में एक खबर आती है कि दिल्ली के उस इलाके के लोग डरे हुए हैं, जिस इलाके में 5 महीने पहले हिन्दू विरोधी दंगे हुए थे। इन लोगों के डर के पीछे की वजह अयोध्या में भूमिपूजन के दौरान दीया जलाना और भगवा झंडा लहराना था।

द वायर में एक खबर आती है कि दिल्ली के उस इलाके के समुदाय विशेष के लोग डरे हुए हैं, जिस इलाके में 5 महीने पहले हिन्दू विरोधी दंगे हुए थे। इन लोगों के डर के पीछे की वजह अयोध्या में भूमिपूजन के दौरान दीया जलाना और भगवा झंडा लहराना था। ये लोग कह रहे हैं कि आज सोसाइटी के गेट पर भगवा झंडा बाँधा है, कल को हमारी मस्जिद में न बाँध दें।

आर्टिकल में कहा गया है कि ‘मुल्ले बाहर निकलो’, ‘जय श्री राम’ के नारे लगाए गए। जब हमने गली नंबर 2 के हिन्दुओं से बात की, तो उन्होंने कहा कि उन्होंने दीए जलाए और झंडे लगाए, मगर कोई मजहब विरोधी नारे नहीं लगाए। कुछ लोगों ने जानबूझकर मजहबी पत्रकारों को फोन करके बुलाया और साम्प्रदायिक रंग दे रहे हैं।

पूरी वीडियो इस यूट्यूब लिंक पर क्लिक कर के देखें

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अजीत भारती
पूर्व सम्पादक (फ़रवरी 2021 तक), ऑपइंडिया हिन्दी

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान के मंत्री का स्वागत कर रहे थे कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, तभी इमरान ने जड़ दिया एक मुक्का: बाद में कहा – ये मेरे आशीर्वाद...

राजस्थान में एक अजोबोग़रीब वाकया हुआ, जब मंत्री और कॉन्ग्रेस नेता भँवर सिंह भाटी को एक युवक ने मुक्का जड़ दिया।

‘मीलॉर्ड्स, आलोचक ट्रोल्स नहीं होते’: भारत के मुख्य न्यायाधीश के नाम एक बिना नाम और बिना चेहरा वाले ट्रोल का पत्र

हमें ट्रोल्स ही क्यों कहा जाता है, आलोचक क्यों नहीं? ऐसा इसलिए, क्योंकि हम उन लोगों की आलोचना करते हैं जो अपनी आलोचना पसंद नहीं करते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,346FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe